Wednesday, August 17th, 2022

now browsing by day

 
Posted by: | Posted on: 1 month ago

मानव रचना यूएस आधारित ‘प्रोटेक्ट अवर प्लैनेट मूवमेंट’ के सहयोग से भारत में पहला वार्षिक उत्सव ‘POP INDIA TALKS’ होस्ट कर रहा है

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव) : मानव रचना विभिन्न पहलों के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण के लिए हमेशा सबसे आगे रहा है। यह घोषणा करते हुए गर्व का क्षण है कि ‘आज़ादी के अमृत महोत्सव’ को चिह्नित करने के लिए, मानव रचना, अमेरिका आधारित ‘प्रोटेक्ट अवर प्लैनेट मूवमेंट’ के सहयोग से जलवायु के माध्यम से 2070 तक नेट ज़ीरो अर्थव्यवस्था प्राप्त करने के लिए भारत की दूसरी राष्ट्रीय स्वतंत्रता की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठा रहे हैं। 

यह पहल 18 अगस्त, 2022 को सूरजकुंड दिल्ली रोड, फरीदाबाद में अरावली स्थित मानव रचना परिसर में शुरू होगी। “#POPIndiaTalks” नामक युवा नेतृत्व वाली जलवायु कार्रवाई का वृद्धिशील कदम, पहला एक दिवसीय भारत और POP उत्सव जलवायु कार्रवाई और सक्रियता के लिए प्रतिज्ञा, कहानी कहने, परिवर्तन करने वाली परियोजनाओं, संगीत और कला के माध्यम से जलवायु कार्रवाई का एक उत्साह पैदा करेगा।

यह कार्यक्रम, जिसमें मुख्य रूप से 13-18 वर्ष की आयु के छात्र भाग लेंगे, इसलिए कई सत्रों के माध्यम से इन माध्यमों से बड़े पैमाने पर निपटेंगे। “प्रेरक सक्सेस स्टोरीज़”, “चेंज मेकर्स”, “बिज़नेस चैलेंज”, “मिनिमलिस्ट लिविंग थ्रू आर्ट”, “सेव सॉयल”, “होम कम्पोस्टिंग”, “अर्बन फार्मिंग” से संबंधित जीवंत सत्र दिल्ली एनसीआर और भारत भर के स्कूलों से आयु वर्ग 13-18 के छात्रों को एक साथ लाएंगे।

“पीओपी इंडिया टॉक्स” कार्यक्रम के माध्यम से इस युवा समूह का निर्माण करके, यह मिशन समग्र शिक्षा के माध्यम से पर्यावरण और सतत विकास पर ध्यान केंद्रित करके नैतिक और ज़िम्मेदार वैश्विक नागरिक बनाने के MR विज़न के साथ खुद को संरेखित करता है।

डॉ. प्रशांत भल्ला – अध्यक्ष, MREI; डॉ अमित भल्ला – उपाध्यक्ष, MREI; और श्रीमती संयोगिता शर्मा – निदेशक, MRIS, पर्यावरण युवा आइकन – संकल्प; ईशा फाउंडेशन के प्रतिनिधि – अनुज ग्रोवर और रोहन बैद; और पर्यावरण स्थिरता के लिए काम कर रहे अन्य विशिष्ट योगदानकर्ताओं के साथ विशेष अतिथि के रूप में शामिल होंगे।

‘पीओपी इंडिया टॉक्स’ का उद्देश्य दुनिया भर में जलवायु क्रियाओं के समुद्र की रेत पर एक कंकड़ बनना है। इस प्रकार पीओपी के वरिष्ठ संरक्षक – डॉ. ऐश पचौरी, एरिक सोलहेम, मेदा मलिंगा, मास्टर हाज़िक काज़ी, सैमुअल सी ओकेरी जैसे वैश्विक युवा नेताओं के पूरक के माध्यम से जलवायु कार्रवाई और मार्गदर्शन के माध्यम से दुनिया के संभावित 1.8 बिलियन युवाओं को प्रेरित करना नियत है।

Posted by: | Posted on: 1 month ago

न्यूज़ पोर्टल प्रेस क्लब के सरक्षक बने वरिष्ठ पत्रकार महावीर गोयल एवं प्रधान बने पत्रकार विनोद वैष्णव को बधाई देने पहुंचे आप पार्टी के वरिष्ठ नेता ओपी वर्मा

फरीदाबाद : फरीदाबाद में सर्वसम्मति से न्यूज़ पोर्टल प्रेस क्लब रजि (02080) का गठन किया गया । जिसमें सरक्षक बने वरिष्ठ पत्रकार महावीर गोयल , प्रधान पत्रकार विनोद वैष्णव ,महासचिव एसपी सिंह , कोषाध्यक्ष राकेश सुखवारिया , उपाध्यक्ष दीपक शर्मा ,प्रवक्ता वेद वशिष्ट , कार्यकारणी सदस्य आरती राय , कार्यकारणी सदस्य पिंकी जोशी , कार्यकारणी सदस्य उदय चंद शर्मा , कैमरामैन एवं कार्यकारणी सदस्य देवेंदर ,जिला सचिव केसी माहौर एवं योगेंदर चौहान को सहसचिव पर मनोनीत किया गया।

कार्यक्रम में मुख्यअथिति के रूप में आप पार्टी के वरिष्ठ नेता ओपी वर्मा ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा की पत्रकार ही लोकतंत्र का चौथा हिस्सा है। पत्रकारों के कारण ही आज हमें देश-विदेश की खबरों का पता चलता है , साथ ही कहा की अगर ओपी वर्मा को फरीदाबाद से मेयर बनने का मौका मिला तो पत्रकारों के लिए प्रेस एन्क्लेव बनाने का काम करेंगे |

न्यूज़ पोर्टल प्रेस क्लब के सरक्षक महावीर गोयल ने कहा की पत्रकार के हितो की रक्षा करने का काम करेंगे एवं पत्रकारों को भी सीनियर साथियो के अनुभव से पत्रकारिता के गुण सिखने चाहिए |

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधान विनोद वैष्णव ने कहा कि प्रेस क्लब पत्रकारों के हितों और सामाजिक मुद्दों को लेकर कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज का दर्पण होता है। उसमें बड़ा बदलाव करने की कुबत होती है। हमें क्षेत्र की समस्याओं और मुद्दों को उठाकर उन्हें हल करवाने के प्रयास करने हैं और पत्रकारों की समस्याओं को लेकर संगठन निरंतर कार्य करेगा।

न्यूज़ पोर्टल के रजिस्ट्रेशन एवं सरकार द्वारा मान्यता के लिए ब्लॉक स्तर , जिला स्तर एवं प्रदेश स्तर पर अधिकारी , विधायक , मंत्री , मुख्यमंत्री माननीय राज्यपाल आदि से मिलकर ज्ञापन सौप कर अधिकारों की मांग की जाएगी क्यूकि जमाना आज डिजिटल होता जा रहा है, हर व्यक्ति अपनी पसंद की चीज़े अपने फोन पर देखना चाहता है। देश के प्रधानमंत्री मोदी भी डिजिटल इंडिया की बात करते है इसलिए सरकार को तुरंत कोई पॉलिसी लेकर सरल नियम बनाने चाहिए।