Saturday, May 7th, 2022

now browsing by day

 
Posted by: | Posted on: 2 weeks ago

सोलर ऊर्जा का बेहतरीन इस्तेमाल कर रहा है विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल : डीसी जितेंदर यादव

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव ):- विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर 2 में आज 25 मेगावाट क्षमता के सोलर प्लांट का उद्घाटन जिला उपायुक्त जितेंदर यादव द्वारा किया गया. इस अवसर पर यादव ने स्कूल के द्वारा किये जा रहे उल्लेखनीय कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि देश में बिजली का 53% उत्पादन कोयले से किया जाता हैं और ऐसा अनुमान लगाया जाता हैं कि वर्ष 2040–2050 तक ये भी समाप्त हो जाएगा. ऐसे में यह समय की मांग है कि हम ऊर्जा के अधिकाधिक उत्पादन के लिए, ऊर्जा के संरक्षण के क्षेत्र में, उसके नविनीकरण एवं बचाव के लिए कदम उठाए. इस मांग को पूर्ण करने हेतु सौर ऊर्जा का उपयोग सर्वोत्तम उपाय हैं, जिससे हम ऊर्जा की मांग एवं पूर्ति के बीच सामंजस्य स्थापित कर सकते हैं. इसलिए विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल का यह प्रयास बेहद सराहनीय है. उन्होंने कहा कि अन्य सामाजिक इकाइयों को भी इससे प्रेरणा लेकर वैकल्पिक ऊर्जा के प्रयोग को अपनाना चाहिए. इस अवसर पर स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने कहा कि भारत के गांवों और शहरों में भी सौर उर्जा का उपयोग अब संभव हो गया है. एक समय था जब भारत के अनेक गांवों में बिजली नहीं थी. लेकिन तकनिकी विकास और सौर उर्जा की मदद से आज भारत के अनेक गांवों में भी बिजली है. सौर उर्जा की मदद से गांवो और शहरों में बिजली उत्पादन काफी तेजी से बढ़ा है और लोग सौर उर्जा की मदद से अपने घर को रौशन करने में सफल हुए है. सौर उर्जा या सौलर पैनल पर सरकार भी मदद कर रही है, ऐसे में सभी को इस दिशा में कार्य करना चाहिए. कार्यक्रम में स्कूल के डायरेक्टर दीपक यादव ने बात रखते हुए कहा कि सूर्य ऊर्जा जिन्हें सोलर एनर्जी कहा जाता हैं यह सस्ती, सर्वसुलभ, निरापद, निरंतर उपयोग लाई जाने वाली अक्षय ऊर्जा हैं. हम सभी जानते है कि आज के समय में किसी भी चीज के उपयोग से हम ऊर्जा तो प्राप्त कर लेते है लेकिन इसके बदले हमे प्रदूषण का सामना करता पड़ता है। लेकिन सौर ऊर्जा पर्यावरण प्रदूषण के प्रयोग से किसी भी प्रकार का प्रदूषण नहीं होता है। सौर ऊर्जा उत्पन्न करने की प्रक्रिया में कोई भी रसायन या उत्पाद शामिल नहीं होता हैं, जो पर्यावरण के प्रदूषण का कारण हो सकते हैं। इसीलिए इसके उपयोग पर्यावरण स्वच्छ रहता है। इसलिए वैकल्पिक ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा मिलना चाहिए। इस अवसर पर स्कूल की डायरेक्टर श्रीमती सुनीता यादव, जजपा के जिलाध्यक्ष राजेश भाटिया, राजेश रावत, रामनिवास राठी, सतबीर डगर, लखन बेनीवाल, जीतराम यादव, स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती ज्योति चौधरी व अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे. इस अवसर पर स्कूल में मदर्स मीट का भी कार्यक्रम रखा गया जिसमें भाग लेने छात्रों के अभिभावक भी पहुंचे और कार्यक्रम को सफल बनाया. स्कूल में मदर्स के लिए रैंप वाक और डांस आदि के कार्यक्रम भी रखे गए. छात्रों ने मदर्स के लिए कार्ड बनाये और सांस्कृतिक प्रोग्राम प्रस्तुत किये.