मानव रचना यूनिवर्सिटी को माननीय केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी द्वारा ‘डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया

Posted by: | Posted on: 1 day ago

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव ) : मानव रचना यूनिवर्सिटी को कोविड-19 महामारी के दौरान सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी एमआरयू द्वारा इसके प्रभाव को कम करने के लिए किए गए कार्यों के लिए वर्ल्ड कांग्रेस ऑन डिजास्टर मैनेजमेंट – डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन पुरस्कार (WCDM – DRR) से सम्मानित किया गया है।

यह पुरस्कार श्री जी. किशन रेड्डी – भारत के उत्तर पूर्वी क्षेत्र के माननीय केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति और विकास मंत्री, भारत सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया था। प्रो. (डॉ.) आई.के. भट – कुलपति, एमआरयू और प्रो. (डॉ.) डी.एस. सेंगर – प्रो वाइस चांसलर, एमआरयू, ने इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (आईआईसी) में आयोजित एक समारोह में यूनिवर्सिटी की ओर से पुरस्कार प्राप्त किया।

मानव रचना सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी, अध्यक्ष पद्म विभूषण डॉ. कर्ण सिंह के कुशल मार्गदर्शन में समाज को प्रभावित करने वाली आपदाओं की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रयास करके शांति और स्थिरता के पथ पर है।

महामारी के कठिन समय के दौरान सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी ने युवाओं के लिए मूल्यों को विकसित करने और कला और संस्कृति से संबंधित गतिविधियों में भागीदारी को बढ़ावा देने के लिए कई संरचित और अभ्यास उन्मुख पाठ्येतर कार्यक्रम विकसित किए ताकि आपदा का सामना करने के लिए एक शांतिपूर्ण दिमाग विकसित किया जा सके।

इसके अलावा, केंद्र, शांति और स्थिरता पर ज़ोर देता है, छात्रों के बीच जीवन कौशल विकसित करता है, पर्यावरण जागरूकता, शांति और सद्भाव की संस्कृति सहित कई एसडीजी के लिए जागरूकता और प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रदान करता है ताकि महामारी और महामारी के बाद की अवधि के दौरान समुदाय का समर्थन किया जा सके।

केंद्र ऐसी आपदाओं से बचने के लिए समाज में लोगों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए अंतर-विश्वविद्यालय मंचों और प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्रों के बीच स्थिरता के प्रति दृष्टिकोण विकसित करने में मदद करता है। इस दौरान योग और ध्यान प्रशिक्षण सत्र भी आयोजित किए गए।

मानव रचना यूनिवर्सिटी ने विभिन्न विश्वविद्यालयों के स्नातकों के लिए शांति और स्थिरता पर एक पाठ्यक्रम भी डिजाइन और वितरित किया।

सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी, एमआरयू समाज की सेवा करने और हमारी युवा पीढ़ी को सामाजिक कल्याण सेवाओं का मूल्य सिखाने के लिए निरंतर प्रयास में है। समाज की बेहतरी की दिशा में प्रयासों के लिए मान्यता प्राप्त करना छात्रों और शिक्षकों को सही दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करता है।


लिंग्याज ने कावरा गांव में जाकर सिखाएं योग के गुर

Posted by: | Posted on: 3 days ago

फरीदाबाद ( विनोद वैष्णव ) : लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी) ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य पर कॉलेज परिसर में शिक्षकों व छात्रों को योग के गुर सिखाएं। इतना ही नहीं इस खास मौके पर विद्यापीठ ने कावरा गांव के राजकिय प्राथमिक विद्यालय में जाकर बच्चों व उनके परिजनों को योग सिखाने के साथ-साथ उसके महत्व को भी बताया। इस दौरान सभी ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। स्कूल ऑफ एजुकेशन डिपार्टमेंट की HOD डॉ. गुरविंदर एहलुवालिया ने बताया कि गांव में जाकर वहां के लोगों व सरपंच श्री केशव भारद्वाज ने बहुत स्पोर्ट किया। योग दिवस भारत की संस्कृति द्वारा दुनिया को दिया गया एक अनमोल उपहार है।

योग एक ऐसी कला है, जो विश्वभर में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागृत करता है। लोगों में शांति और सद्भाव कायम करने के लिए योग एक बेहतरीन अभ्यास है। हर वर्ष अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जाता है। जिसकी शुरूआत भारत में 21 जून 2015 में हुई थी। वाइस चांसलर प्रो (डॉ). जी.जी. शास्त्री का कहना है कि करोड़ों लोग योग का महत्व समझते हुए उसे अपने जीवन में ढालने की कोशिश कर रहें है। जीवन में अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति अवश्य होनी चाहिए। योग का महत्व हर किसी को समझना चाहिए और उसे अपने जीवन में एक सामान्य कार्य के रूप में अपनाना भी चाहिए।


अंतराष्टीय योग दिवस के ख़ास मौके पर रोटरी क्लब ऑफ़ फरीदाबाद ग्रेटर, होटल रैडिसन ब्लू

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। टीम ख़ुशी एक एहसास और टेन स्माइल्स फाउंडेशन के सयुंक्त तत्वाधान में फरीदाबाद के पांच सितारा होटल, रैडिसन ब्लू फरीदाबाद में एक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया जिसमे होटल के कर्मचारियों के साथ साथ रोटरी क्लब ऑफ़ फरीदबाद ग्रेटर के सदस्यों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हुए रक्तदान किया और 51 ब्लड यूनिट रक्त एकत्रित किया गया

इस शिविर का आयोजन भीषण गर्मी में थैलेसिमिया की बीमारी से जूझ रहे उन बच्चो के लिए खून उपलब्ध करने के साथ समाज के लोगो को थैलेसिमिया बीमारी के बारे में जानकारी देने के लिए किया गया इस कैंप में पुरुष वर्ग के साथ साथ महिला वर्ग ने भी अपनी भागीदारी देते हुए रक्तदान किया

शिविर में रोटरी क्लब ऑफ़ फरीदाबाद ग्रेटर के अध्यक्ष और मंशा ग्रुप के चेयरमैन श्री नरेश कुमार मलिक, उनकी धर्मपत्नी श्रीमती रजनीश मलिक़ ,भूतपूर्व प्रधान श्री धीरेन्द्र श्रीवास्तव, क्लब सचिव रोटेरियन दलीप वर्मा, क्लब कोषाध्यक्ष रोटेरियन एस पी श्रीवास्तव के साथ क्लब के बाकी और टीम ख़ुशी एक एहसास और टीम टेन स्माइल्स फाउंडेशन के सदस्य उपस्थित थे

इसी के साथ साथ रैडिसन ब्लू के जनरल मैनेजर हरप्रीत वोहरा, शीतल चड्ढा डायरेक्टर ह्यूमन रिसोर्सेज, केवल सिंह सिक्योरिटी मैनेजर, वरुण चोपड़ा फ्रंट ऑफिस मैनेजर एवं अन्य कर्मचारियों ने रक्तदान करते हुए और शिविर को सफल बनाने में अपनी बहुमूल्य भागीदारी दी

टीम ख़ुशी एक एहसास ने रैडिसन ब्लू होटल के सभी सदस्यों का दिल से धन्यवाद किया जिन्होंने सभी रक्तदाताओं की सुविधाओं के लिए जरुरी इंतज़ाम किये


एमवीएन विश्वविद्यालय स्कूल ऑफ लॉ पलवल और एजिस रिसर्च इंस्टिट्यूट नोएडा के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव ) | एमवीएन विश्वविद्यालय स्कूल ऑफ लॉ पलवल के कुलसचिव डॉ राजीव रतन ने विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ जे वी देसाई, उपकुलपति डॉ एन पी सिंह, डीन एकेडमिक्स डॉ सचिन गुप्ता की उपस्थिति में विधि शिक्षा, अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संबंधी कार्यों के लिए एजिस रिसर्च इंस्टिट्यूट नोएडा के संस्थापक सुवेश कुमार के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए

इस एमओयू की शर्तों के अनुसार एजिस रिसर्च इंस्टीट्यूट विश्वविद्यालय के साथ मिलकर उत्तम एवं गुणवत्तापूर्ण विधि शिक्षा एवं अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए समय-समय पर सेमिनार, कान्फ्रेंस, कार्यशाला और विशेषज्ञ व्याख्यान आयोजित करवाएगा जिससे विधि विद्यार्थी और शिक्षकगण लाभान्वित हो सकें और वह राष्ट्र निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकें। इस अवसर पर स्कूल आफ लॉ का प्रतिनिधित्व विधि संकायाध्यक्ष डॉ राहुल वार्ष्णेय एवं एजिस रिसर्च इंस्टीट्यूट का प्रतिनिधित्व उसके समन्वयक एवं निदेशक साहिल चौधरी के द्वारा किया गया।


लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी) द्वारा छात्रों के लिए इन-हाऊस जेस्ट का आयोजन किया गया

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव ) | लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी) द्वारा छात्रों के लिए इन-हाऊस जेस्ट का आयोजन किया गया। जिसमें बहुत से रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम रखे गए। इस अवसर पर लिंग्याज के 11 स्कूलों को 6 टीमों में बांटा गया। जिनके बीच रंगारंग कार्यक्रमों का मुकाबला रखा गया। फैशन शो, सोलो डांस, ग्रुप डांस, सोलो व डुएट सिंगिंग, क्विज, नुक्कड़ नाटक, स्कीट कंपटीशन हुए। समारोह का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। इतना ही नहीं इस खास मौके पर स्मार्ट रील ग्लोबल फिल्म फैस्टिवल 2022 का भी अनावरण किया गया।
लिंग्याज ग्रुप के चेयरमैन डॉ. पिचेश्वर गड्डे, वाइस चांसलर प्रो (डॉ). जी.जी. शास्त्री, प्रो वाइस चांसलर प्रो. जसकिरण कौर, प्रों वाइस चांसलर आरएनडी डॉ. जी.एम.पाटिल, रजिस्ट्रार प्रेम सालवान की उपस्थिती में इस समारोह का शुभारम्भ किया गया। इस खास अवसर पर डॉ. गड्डें ने कहां कि सभी छात्रों ने अपना बेस्ट पर्फॉमेंस दिया है। जिन्हें देखकर पुरानी यादें ताजा हो गई। सभी ने बहुत मेहनत की है और मेहनत हमेशा रंग लाती है। पढ़ाई के साथ-साथ छात्रों के लिए इस तरह के रंगारंग कार्यक्रम हमें उनके साथ जोड़े रखते हैं। यह संस्थान वर्तमान में उच्च शिक्षा के साथ-साथ अनुशासन का एक महत्वपूर्ण केंद्र भी रहेगा। इस दौरान सभी स्कूलों ने अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दी। बेस्ट ऑफ इन-हाऊस जेस्ट, फैशन शो और ग्रुप डांस आकर्षण का केंद्र रहा। जिसमें बेस्ट ऑफ इन-हाऊस जेस्ट स्कूल ऑफ फार्मास्युटिकल साइन्सिस ने जीता। फैशन शो टीम-D SOCM और हयूमैनिटिज़ ने जीता है। वही ग्रुप डांस में टीम-F फार्मास्युटिकल ने जीता। सोलो डांस में टीम-E स्कूल ऑफ लॉ ने जीत हासिल की। सोलो सिंगिंग टीम-D SOCM और हयूमैनिटिज़, क्विज में टीम-B बेसिक साइंस, स्कीट टीम-E स्कूल ऑफ लॉ व नुक्कड़ नाटक टीम-C CSE & ECE ने जीत हासिल की। सभी विजेता टीमों को पुरस्कृत कर अंत में राष्ट्रगान के साथ समारोह का समापान हुआ।


गांव मंधावली निवासी निहारिका ने दसवीं कक्षा बोर्ड परीक्षा में पूरे जिले में द्वतीय स्थान प्राप्त कर अपने माता- पिता और स्कूल और गांव का नाम दूर दूर तक रोशन किया

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। फरीदाबाद हरियाणा विद्यालय के चलते शिक्षा बोर्ड की 10वीं कक्षा के परिणाम में मंधावली गांव की रहने वाली निहारिका ने 494 अंक लाकर जिले में दूसरा स्थान प्राप्त किया। जिले में दूसरा स्थान पाने वाली निहारिका डाक्टर बनकर जरूरतमंदों को स्वास्थ्य लाभ देना चाहती हैं। मंधावली निवासी निहारिका ने बताया कि पढ़ाई के लिए कभी समय देखकर नहीं बैठी। जब समय मिला और जितनी देर मौका मिला पढ़ाई की। नियमित रूप से सभी विषयों पर पूरा फोकस किया और सभी विषयों को पढ़ने के लिए स्कूल में पूरा समय दिया। निहारिका के पिता दयाराम खेती करते हैं और मां रेखा देवी गृहिणी है। स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल मंधावली से 10वीं की परीक्षा पास करने वाली निहारिका का कहना है कि परिणाम से बेहद खुश हैं। स्कूल के प्रधानाचार्य संजीव कौशिक ने बताया कि निहारिका शुरुआत से ही मेधावी छात्रा रही है। किसान परिवार से होने के बावजूद उसने पढ़ाई में किसी प्रकार की कोई कसर नहीं छोड़ी हैं। वह स्कूल की सभी गतिविधियों में अव्वल रहती हैं और और मेरी तरफ से निहारिका के भविष्य के लिए ढेरों शुभकामनाएं


औम स्टर्लिंग ग्लोबल विश्वविद्यालय, हिसार एवं विजन इंडिया फाउंडेशन के तत्वाधान में सैन्ट्रल जेल-1, हिसार में चल रहे पांच दिवसीय योग शिविर का आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर समापन हुआ :- जेल सुप्रिडेंट दीपक शर्मा

Posted by: | Posted on: 4 days ago

हिसार (विनोद वैष्णव ) | औम स्टर्लिंग ग्लोबल विश्वविद्यालय, हिसार एवं विजन इंडिया फाउंडेशन के तत्वाधान में सैन्ट्रल जेल-1, हिसार में चल रहे पांच दिवसीय योग शिविर का आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर समापन हुआ। इन पांच दिनों में योग की विभिन्न क्रियाओं का विश्वविद्यालय के योग विभाग के प्रशिक्षकों द्वारा प्रदर्शन किया गया तथा लगभग 400 बंदियों को व्यक्तिगत रुप से प्रशिक्षित किया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के चांसलर ड़ॉ पुनीत गोयल एवं प्रो चांसलर ड़ॉ पूनम गोयल ने अपने विशेष संदेश में कार्यक्रम की सराहना करते हुए सभी को बधाई दी तथा इसे बंदियों के आचार-विचार एवं उत्तम स्वास्थ्य हेतू एक प्रभावी कदम बताया। आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जेल में प्रशिक्ष्णु बंदियों के बीच में मुख्यातिथि के रुप में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ एन. पी कौशिक, प्रति-कुलपति ड़ॉ अजय पोदार, डीन ड़ॉ शोभना पोदार तथा जेल अधीक्षक दीपक शर्मा ने शिरकत की।

सभी ने बंदियों के साथ मिल जुलकर योग क्रियाओं को किया तथा उनका अपने संबोधनों द्वारा उत्साहवर्द्धन किया। कार्यक्रम के अंत में अल्पाहार की भी व्यवस्था की गई। विश्वविद्यालय से आए सभी अधिकारियों ने जेल में बंदियों हेतु मुहैया करवाई गई सुविधाओं की भूरी-भूरी प्रशंसा की। जेल अधीक्षक दीपक शर्मा व उप अधीक्षक कुलदीप शर्मा तथा उप अधीक्षक धर्मवीर जी ने इस योग शिविर के सुचारु रुप से संचालन हेतू औम स्टर्लिंग ग्लोबल विश्वविद्यालय का धन्यवाद किया।
एक अन्य कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के प्रांगण में अधिकारियों तथा कर्मचारियों के साथ-साथ विद्यार्थियों ने योग की विभिन्न क्रियाओं को किया तथा इनसे होने वाले लाभों की चर्चा की। यह दोनों कार्यक्रम ‘स्कूल ऑफ योगा एंड नैचूरोपैथी‘ के डीन ड़ॉ एन. पी. गिरी तथा एच.ओ.डी ड़ॉ अनिल योगी द्वारा समन्वित किए गए। प्रशिक्षक के रुप में विश्वविद्यालय के सहायक आचार्य ड़ॉ देवेन्द्र मेहता एवं श्री राकेश कुमार ने विद्यार्थी सुमित कुमार के साथ अपना योगदान दिया।


जिला जेल फरीदाबाद में जेल सुप्रिडेंट के साथ मिलकर लगभग 2500 पुरूष कैदियों नेअन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को बड़ी धुमधाम से मनाया गया

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव ) | जिला जेल फरीदाबाद में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को बड़ी धुमधाम से मनाया गया। जेल के लगभग 2500 पुरूष बन्दियों को जेल के बड़े मैदान में वैदिक वेलनेस फांउण्डेषन दिल्ली के संस्थापक योग ऋषि आर्चाय आषुतोष महाराज द्वारा योग एवंम प्राणायाम का अभ्यास करवाया गया। महिला वार्ड में योग सीक्षिका संध्या शर्मा के द्वारा योग एवं प्राणायाम का अभ्यास करवाया गया। महिला वार्ड में अलग से सभी महिला बन्दियों के लिये योग करवाने की व्यवस्था की गई थी। आज के मुख्य अतिथि प्रसिद्व समाजसेवी देवेन्द गांधी थे। सबसे पहले जेल अधीक्षक जयकिषन छिल्लर द्वारा मुख्य अतिथी देवेन्द्र गांधी तथा योग ऋषि आर्चाय आषुतोष महाराज तथा योग शिक्षिक संध्या शर्मा जी का स्वागत किया गया तथा कार्यक्रम का आरम्भ एक भजन के माध्यम से किया गया।

योग ऋषि आर्चाय आषुतोष जी महाराज द्वारा बन्दियों को कुछ खड़े होकर किये जाने वाले आसन जैसे ग्रीवा चालन, स्केंद्व संचालन, ताड़ासन, त्रिकोण आसन, वृृक्षासन तथा बैठकर किये जाने वाले आसन जैसे व्रजासन, शक्कासन, मण्डूकासन तथा पेट के बल लेटकर किये जाने वाले आसन जैसे भूजंगआसन, सलभ आसन, नौकासन, तथा पीठ के बल लेटकर किये जाने वाले आसन जैसे सर्वागं आसन, हलासन, सेत.ूबंध आसन, पवनमुक्तासन, आदि करवाये गये। इसके अलावा भस्त्रिका तथा अनुलोम विलोम, भ्रामरी तथा उदगीर प्राणायाम भी करवाया गया। सभी बन्दियों ने अनुषासन में रहते हुये साथ साथ योगा एवंम प्राणायाम का अभ्यास किया। बन्दियों के अनुषासन व एक साथ किये जा रहे योग को देखकर मुख्य अतिथी देवेन्द गांधी ने कहा कि ऐसा लगता है जेसे जेल को आश्रम में तब्दील कर दिया गया है। ऐसा अनुषासन उन्होनें किसी स्कूल या कालेज में भी नहीं देखा केवल फौज में ही देखा जा सकता है।़ बन्दियों के द्वारा जिओ गीता के आधारित कुछ भजन भी प्रस्तुत किये जैसे ‘‘हे योगेष्वर हे परमेष्वर’’ तथा ‘‘आओ गीता को अपनायें’’। जेल के सभी बन्दियों ने भजन को एक साथ ताली बजाकर गाया। ऐसी अदभूत प्रस्तुती को देखकर सभी महमानों द्वारा सराहना की गई। जेल अधीक्षक जयकिषन छिल्लर जो स्वंय भी राज्य के श्रेष्ठ योगी का खिताब प्राप्त कर चुके हैं तथा राष्ट्रीय स्तर पर ब्रांज मेडल प्राप्त कर चुके हैं ने अपने सम्बोधन में बतलाया कि सभी बन्दियों को जेल के प्रशिक्षित बन्दियों के द्वारा लगातार जेल में योग का अभ्यास करवाया जाता है

जिसके परिणाम आज सबके सामनें हैं। आज यह जेल योग युक्त जेल, अपराध मुक्त जेल बन चुकी है। लगातार योगा करने से बन्दियों को स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ मानसिक लाभ भी मिल रहा है। योग करने से शरीर के सभी अंगों का व्यायाम हो जाता है तथा यदि कोई व्यक्ति प्रतिदिन योगाभ्यास करता है तो भी वह अपने शरीर को निरोग रख सकता है। योग करने से न केवल षरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है बल्कि योग से शरीर को रोगमुक्त व मानसिक व बोधिक स्तर पर भी सषक्त, षान्त और ओजस्वी बनाया जा सकता है। उनके द्वारा जेल स्टाफ व बन्दियों को प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने के लिये प्रेरित किया गया। योग करने पश्चात जेल के बन्दियों द्वारा भक्तिमय गीत सुनाये गये जिसे योगीराज आशुतोष महाराज (वैदिक वेलनेस फाउंडेषन दिल्ली) तथा मुख्य अतिथि देवेन्द्र गांधाी प्रसिद्व समाजसेवी फरीदाबाद द्वारा सराहना की गई। कार्यक्रम के समापन अवसर श्री जयकिषन छिल्लर अधीक्षक जेल द्वारा योगीराज श्री आशुतोष जी महाराज (वैदिक वेलनेस फाउंडेषन दिल्ली) तथा मुख्य अतिथि देवेन्द्र गांधाी प्रसिद्व समाजसेवी फरीदाबाद, संध्या शर्मा तथा जीत कुमार रावत एडवोकेट को जेल के बन्दियों द्वारा बनाई गई मनमोहक पेंटिंग भेेंट की गई। इस अवसर पर इण्डिया विजन फांउण्डेशन से गोविन्द शर्मा , उषा तथा जेल प्रशासन के उप-अधीक्षक रामचन्द्र, अनिल कुमार, रोहण हुड़डा व .जेल स्टाफ के अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।


NVN School, भिड्की जिला पलवल के प्रांगण में सूचना और प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार के केन्द्रीय संचार ब्यूरो,हिसार के द्वारा अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया

Posted by: | Posted on: 4 days ago

होडल (विनोद वैष्णव ) | एन .वी .एन.विद्यालय , भिड्की जिला पलवल के प्रांगण में सूचना और प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार के केन्द्रीय संचार ब्यूरो , हिसार के द्वारा अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया । जिसमें मुख्यअतिथि योग गुरु योगाचार्य गुरमेश सिंह हरियाणा योग संघ खेल अकडनी के संयुक्त सचिव थे । उन्होंने बच्चों को योग के महत्व को समझाते हुए योग की विभिन्न मुद्राओं का अभ्यास करवाया । उन्होंने बताया कि अगर हमें लंबा जीवन जीना है तो हमें प्रतिदिन आधा घंटा कम से कम योग का अभ्यास करना चाहिए ।

विद्यालय की प्रधानाचार्या कुसुन चाधरी ने भी बच्चों को संबोधित करते कहा कि अगर वो अपने जीवन में तरक्की करना चाहते हैं तो वे सबसे पहले उन्हें स्वस्थ शरीर की आवश्यकता होगी और इसके लिए योग से बेहतर दूसरा कोई साधन नहीं है । जैसा कि कहा गया कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ दिमाग का वास होता है । कार्यक्रम के प्रभारी श्रीमान दौलतराम केन्द्रीय संचार ब्यूरो , हिसार ने योग के बारे में सरकार की नीतियों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि आगे आने वाले समय में हमारी युवा पीढी योग के माध्यम से अपने को और अपने परिवार को स्वस्थ रख सकें । ताकि देश दिन दुगनी व रात चौगनी विकास की ओर अग्रसर हो । इस कार्यक्रम के तहत योग पर एक प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता भी कराई गई जिसमें विद्यालय के बच्चों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और प्रतिभाशाली बच्चों को केन्द्रीय संचार ब्यूरो हिसार की ओर से पुरस्कृत भी किया गया ।


सरस्वती स्कूल में मनाया गया योग दिवस

Posted by: | Posted on: 4 days ago

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | 8 वें अंतराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु सदन सीo सैo स्कूल, तिगांव में योगदिवस मनाया गया। जिसमें विद्यार्थियों व स्टाफ सदस्यों ने बढ़ – चढ़ कर भाग लिया। विद्यालय के शारीरिक शिक्षा विषय के अध्यापक अमित नागर ने छात्रों को अनुलोम – विलोम, भ्रामरी प्राणायाम, शीर्षासन, भुजंगासन, मकरासन जैसी योग क्रियाएं करनी सिखाई और उनसे होने वाले लाभों के विषय के बारे में बताया। विद्यालय के संस्थापक वाईo केo माहेशवरी ने बताया कि हमारे देश में प्राचीन काल से ही योग पद्धति चली आ रही है और आजकल इसकी उपयोगिता को देखते हुए दूसरे देश भी योग पद्धति को अपना रहे हैं। विद्यालय की प्राचार्या सुषमा सैनी ने योगासनों के लाभ पर प्रकाश डालते हुए विद्यार्थियों को सलाह दी कि वे योग को अपनी दिनचर्या में अवश्य शामिल करें।