June, 2022

now browsing by month

 
Posted by: | Posted on: 2 months ago

आसनसोल नगर निगम के 59 नंबर वार्ड सालकानाली इलाके में आदिवासियों के पवित्र तहवार हुल दिवस के मौके पर पूर्व एमएमआईसी मीर हासिम ने जरूरतमंद महिलाओं में सारी बांटी

कुल्टी…आसनसोल नगर निगम के 59 नंबर वार्ड सालकानाली इलाके में आदिवासियों के पवित्र तहवार हुल दिवस के मौके पर पूर्व एमएमआईसी मीर हासिम ने जरूरतमंद महिलाओं में साड़ी बांटी गई हुल दिवस के मौके पर पूर्व एमएमआईसी मीर हासिम ने कहा की पवित्र हुल दिवस के मौके पर जरूरत मंद महिलाओं में सारी बांटी गई श्री हासिम ने कहा की राज्य की मुखमंत्री आदिवासियों के उत्थान के लिए सत्त प्रयासर्त रहती हैं उनके जय जोहार योजना के जरिए आदिवासियों को महीने में हजार रुपए का भत्ता मिलता है इस मौके पर टीएमसी के कार्यकर्ता पिंटू आदि उपस्थित थे।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर एमवीएन विश्वविद्यालय पलवल में विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन

पलवल (विनोद वैष्णव )एमवीएन विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ लॉ द्वारा अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० (डॉ ) जे वी देसाई, उपकुलपति डॉ एन पी सिंह, कुलसचिव डॉ राजीव रतन और डीन एकेडमिक्स डॉ सचिन गुप्ता के दिशा निर्देशन में एक विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता जिला अस्पताल पलवल के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ ब्रह्मदीप ने कहा कि ड्रग्स का सेवन एवं लत एक सामाजिक और मनोवैज्ञानिक समस्या है जो न केवल पूरे विश्व के युवाओं को प्रभावित करती है बल्कि विभिन्न आयु के लोगों को भी प्रभावित करती है। ड्रग एडिक्ट्स विभिन्न स्वास्थ्य जोखिमों को भी जन्म देता है। ऐसे ड्रग्स की लत के कारण भूख और वजन, कब्ज, चिंता का बढ़ना, चिड़चिड़ापन, नींद नहीं आना और कामकाज की हानि का गंभीर नुकसान होता है। कोकीन, हेरोइन और अन्य अवैध दवाओं की लत वाली दवाएं मनुष्य के मस्तिष्क को डोपामाइन से भर देती हैं। डोपामाइन एक दवा है जो आनंद की तीव्र भावना को ट्रिगर करती है। आनंद की यह भावना अन्य आवश्यक चीजों को कम आनंददायक बना देती है, जिसमें भोजन, मित्रों और परिवार के साथ रहना शामिल है।

वक्ता डॉ मधु डागर ने कहा कि आज के समय में मादक पदार्थों के सेवन के दुष्प्रभाव से सिर्फ भारत ही नहीं पूरा विश्व जूझ रहा है। युवा पीढ़ी इसका शिकार होकर अपने भविष्य को नष्ट कर रही है और स्त्रियां उत्पीड़न का शिकार हो रही हैं। संयुक्त राष्ट्र ड्रग्स और क्राइम कार्यालय (यूएनओडीसी) एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है जो अवैध मादक पदार्थों के दुरुपयोग और उसके उत्पादन के खिलाफ लड़ रहा है।

विधि संकायाध्यक्ष डॉ राहुल वार्ष्णेय ने बताया कि हर साल 26 जून को विश्व स्तर पर नशीली दवाओं के दुरुपयोग और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य लोगों को नशे से मुक्त कराना और उन्हें जागरुक करना है कयोंकि नशा अपने साथ अंधकार, विनाश और तबाही लेकर आता है। इस साल का थीम “स्वास्थ्य और मानवीय संकटों में नशीली दवाओं की चुनौतियों का समाधान” है। नशीले पदार्थों की तस्करी एक अंतर्राष्ट्रीय अवैध व्यापार है जिसमें मूलभूत कानूनों के अनुसार निषिद्ध पदार्थ, उत्पादन, खेती, प्रसार और बिक्री शामिल है। भारत में एनडीपीएस कानून में व्यक्ति को किसी भी मादक दवा या मनोदैहिक पदार्थ के उत्पादन, रखने, बेचने, खरीदने, परिवहन, भंडारण और/या उपभोग करने पर सजा का प्रावधान है।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों के संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, शिक्षकगण, डॉ दया शंकर प्रसाद, डॉ कुलदीप तंवर, डॉ मुकेश सैनी, बबीता यादव, देवेश भटनागर, प्रशांत कुमार, डॉ गिताली चौधरी, डॉ रामवीर सिंह, अजय कुमार, अनिल पुंज, सचिन शर्मा, राहुल मोंगिया, योगेश कुमार, सुभाष कुमार, जिला अस्पताल पलवल के मेडिकल स्टाफ एवं छात्र-छात्राओं की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

लिंग्याज विद्यापीठ में पीएचडी प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू, प्रवेश परीक्षा 23 जुलाई को

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी) में सत्र 2022-23 में पीएचडी प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गए हैं। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई है। छात्र ऑफिशियल वेबसाइट https://lingayasvidyapeeth.edu.in/apply-now/ पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। जिन छात्रों ने मास्टर्स में न्यूनतम 55 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैंवे पीएचडी सत्र 2022-23 में प्रवेश के पात्र हैं। 

प्री-पीएचडी प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और प्रवेश परीक्षा शुल्क विश्वविद्यालय की वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। प्रवेश परीक्षा की प्रस्तावित तिथि 23 जुलाई निर्धारित की गई है। 2 घंटे की इस परीक्षा को 2 चरण में रखा गया है। पहले चरण का समय सुबह 10 से 12 और दूसरे चरण का समय दोपहर 2 से 4 बजे तक है। 70 अंक का लिखित और 30 अंकों का व्यक्तिगत इंटरव्यू के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। प्रो वाइस चांसलर आरएनडी प्रो. जीएम पाटिल ने बताया कि इस प्ररीक्षा के तहत छात्र  कंप्यूटर साइंस एंड  इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग मैनेजमेंट, कॉमर्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, इंग्लिश, एजुकेशन और लॉ में प्रवेश ले सकते हैं।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

जेजेपी नेता एवं अधिवक्ता मानिक मोहन शर्मा ने नव निर्वाचित राज्य सभा सांसद कार्तिकेय शर्मा को मिठाई खिलाकर बधाई दी

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव) : नव निर्वाचित राज्य सभा सांसद कार्तिकेय शर्मा को जेजेपी के नेता एवं अधिवक्ता मानिक मोहन शर्मा ने दिल्ली स्थित फार्म हाउस में उन्हें मिठाई खिलाकर कर शुभकामनाएं दी और इस मौके पर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।आपको बता दे कि जेजेपी नेता मानिक मोहन शर्मा के नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद कार्तिकेय शर्मा से पारिवारिक संबंध है।

इस अवसर पर जननायक जनता पार्टी के युवा नेता मानिक मोहन शर्मा को नवनिर्वाचित राजसभा सांसद कार्तिकेय शर्मा ने आश्वासन दिया की जनता के बीच पहुंचकर उनकी समस्याओं की जानकारी लेकर उनके समाधान का प्रयास करूंगा और जनता के बीच अपनी सेवा के प्रति वफादार बनकर फर्ज निभाऊंगा।

जननायक जनता पार्टी के युवा नेता मानिक मोहन शर्मा ने बताया कि नवनियुक्त राज्य सभा सांसद कार्तिकेय शर्मा बहुत ही सरल स्वभाव के युवा कर्मठ और संस्कारी हैं उनके नेतृत्व में हरियाणा प्रदेशवासियों की समस्याएं भारत सरकार के दरबार तक पहुंचेंगी ताकि समस्याओं का निराकरण शीघ्र हो सके।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

एआईसीटीई के ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम के लिए हरियाणा के छात्रों की तेलंगाना यात्रा को मानव रचना से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया

फरीदाबाद ( विनोद वैष्णव ) : मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ से एआईसीटीई ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम के लिए हरियाणा से तेलंगाना तक 25 छात्रों की यात्रा आज एक भव्य ‘फ्लैग ऑफ सेरेमनी’ के साथ शुरू हुई। MRIIRS को तेलंगाना के साथ जोड़े गए प्रेषक और रिसीवर के रूप में हरियाणा में नोडल विश्वविद्यालय के रूप में नामित किया गया है।

आर के अरोड़ा – रजिस्ट्रार, एमआरआईआईआरएस; डॉ. प्रदीप कुमार – प्रो-वाइस चांसलर, एमआरआईआईआरएस; डॉ. गीता निझावन – एसोसिएट डीन, एफईटी, एमआरआईआईआरएस; डॉ मनोज नायक – एचओडी, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, एमआरआईआईआरएस; डॉ. सुप्रिया पांडा – एचओडी, सीएसई, एमआरआईआईआरएस, डॉ. गुरजीत कौर चावला – डीन, छात्र कल्याण विभाग और सुश्री याशिका हसीजा – प्रबंधक, डीएसडब्ल्यू सहित अन्य स्टाफ सदस्य फ्लैग ऑफ समारोह के लिए उपस्थित थे।

हरियाणा के विभिन्न स्कूलों के 25 चयनित छात्रों ने 26 जून, 2022 को “एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम (ईबीएसबी)” के लिए तेलंगाना की यात्रा शुरू की। विश्वविद्यालय के 25 छात्रों का अगला समूह आज मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ से आदान-प्रदान कार्यक्रम के लिए रवाना हुआ।

मानव रचना के शिक्षक समन्वयक डॉ किशन कुमार, एसोसिएट प्रोफेसर और डॉ उषा, सहायक शिक्षक हैं।

EBSB सांस्कृतिक, साहित्यिक और भाषाई क्षेत्रों में युग्मित राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के बीच व्यवस्थित आदान-प्रदान के माध्यम से राष्ट्रीय एकीकरण को बढ़ावा देने का एक कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य छात्रों के लिए इतिहास, संस्कृति, भाषा, व्यंजन, त्योहारों और पोशाक आदि को शामिल करते हुए युग्मित राज्य के भाषाई और सांस्कृतिक पहलुओं के बारे में सीखना है।

मानव रचना को प्रेषक और रिसीवर संस्थान के रूप में नोडल अधिकारी, डॉ नवीन कुमार – सहायक निदेशक, एआईसीटीई और रेलवे अधिकारियों से असाधारण सहायता, मार्गदर्शन और समर्थन प्राप्त हुआ।

स्कूल समन्वयक डॉ. अनिल कुमार दलाल – प्रधानाचार्य, जीएसएसएस, पिंजौर और श्रीमती। कार्यक्रम के बारे में अंजू चहल ने स्कूली छात्रों का मार्गदर्शन किया। ध्वजारोहण समारोह के अतिथि वीरेंद्र सिंह थे, जिन्हें “यातायात ताऊ” के नाम से जाना जाता है, जो एक सहायक उप-निरीक्षक हैं। उन्होंने अपने प्रेरणादायक शब्दों से छात्रों को संबोधित किया, “आप सभी इस कार्यक्रम का हिस्सा बनकर धन्य हैं और यह आप सभी के लिए जीवन भर के अवसर से कम नहीं है और इस यात्रा से आपको जो अनुभव प्राप्त होगा वह हमेशा के लिए रहेगा।” सत्र के दौरान, छात्रों के साथ पोस्को अधिनियम 2012 के विवरण पर भी चर्चा की गई।

जय भारत, वंदे मातरम, जय हरियाणा, एक भारत श्रेष्ठ भारत के नारों के साथ झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

युवाओं को भड़का कर देश की संपत्ति का नुकसान करा रही है कांग्रेस पार्टी- बिजेंद्र नेहरा

भारतीय जनता पार्टी हरियाणा के प्रदेश प्रवक्ता विजेंदर नेहरा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी युवाओं को भड़का कर देश की संपत्ति का नुकसान करा रही है। बीजेपी सरकार के हर जनहित के काम का विरोध करना कांग्रेस की आदत बन गई है। उन्होंने कहा अग्नीपथ योजना लाने का मकसद भारतीय फौज को पहले से अधिक युवा, आधुनिक एवं तकनीक से युक्त बनाना है। कारगिल रिव्यू कमिटी और अरुण सिंह कमेटी की सिफारिशों को भारतीय फौज ने लागू करने का काम किया है। चीन, इजरायल सहित दुनिया के लगभग 40 देशों में इस तरह की योजना पहले से चल रही है। नेहरा ने केंद्र की मोदी सरकार की अग्निपथ योजना की सराहना करते हुए कहा कि
भारतीय सेना को विश्व की बेहतरीन सेना बनाने के लिए यह योजना लाई गई है, जो हमारी सशस्त्र सेनाओं में परिवर्तनकारी बदलाव लाकर उन्हें पूरी तरह से आधुनिक और सुसज्जित बनाएगी।
नेहरा के अनुसार इस योजना में भारतीय युवाओं को, बतौर ‘अग्निवीर’ सशस्त्र सेनाओं में सेवा का अवसर प्रदान किया जाएगा।
अग्निपथ योजना से भारतीय सेना विश्व में बहुआयामी बनकर प्रखर पुंज के रूप में और चमकेगी।
नेहरा ने आगे कहा कि अग्निपथ योजना यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की एक महत्वपूर्ण एवं एतिहासिक योजना मिशन है, जिसके माध्यम से भारतीय युवाओं को सशस्त्र बलों में सेवा करने का सुनहरा अवसर मिलेगा। इसके तहत चुने गए युवा अग्निवीर कहलाए जाएंगे। अग्निपथ योजना देशभक्त और प्रेरित युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सशस्त्र बलों में सेवा करने की अनुमति देगी।
नेहरा के अनुसार अग्निपथ योजना सशस्त्र बलों को अधिक से अधिक युवा, आधुनिक एवं फिट बनाने के लिए कारगर साबित होगी और साथ
ही राष्ट्र सेवा और राष्ट्रीय एकता की भावना को और प्रज्ज्वलित करेगी। यह प्रयास दर्शाता है कि हमारी सरकार हमारे
युवाओं के लिए रोजगार सृजन पर भी आवश्यक जोर दे रही है।
नेहरा ने योजना की सराहना करते हुए इस आधुनिक कदम को देश की सुरक्षा प्रणाली को और बेहतर करने वाला बताया।
योजना के अनुसार
सशस्त्र बलों में नामांकन के माध्यम से अग्निवीर के रूप में राष्ट्र की सेवा करने का अवसर मिलेगा। अग्निपथ योजना के माध्यम से तीनों सेवाओं में नामांकन करने का अवसर मिलेगा।अखिल भारतीय योग्यता आधारित भर्ती होगी।


आकर्षक मासिक परिलब्धियां और “सेवा निधि” पैकेज भी उपलब्ध होगा। नेहरा के अनुसार इस योजना के तहत इस साल 46,000 अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। जिसकी भर्ती प्रक्रिया 24 जून से शुरू हो चुकी है। जिसमें प्रथम वर्ष का पैकेज लगभग 4.76 लाख होगा। चौथे वर्ष में 6.92 लाख की राशि मिलेगी। इसके अलावा भत्ते के तहत जोखिम और कठिनाई, राशन, पोशाक, यात्रा भत्ते भी लागू होंगे।
सेवा निधि के तहत मासिक परिलब्धियों का 30% व्यक्तियों द्वारा योगदान किया जायेगा। सरकार द्वारा सम्मान राशि का योगदान होगा। चार साल बाद लगभग रु. 11.71 लाख की समग्र निधि राशि आयकर की छूट के साथ हासिल होगी। कुल मिलाकर वेतन और सेवानिवृत्ति राशि मिलाकर 4 वर्ष में अग्निवीर लगभग 24 से 25 लाख रुपए अर्जित करेगा, अग्निवीर के 4 साल की फौज की नौकरी करने के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी ने हरियाणा सरकार की सरकारी नौकरियों में 100% नौकरी देने की घोषणा की है। फौज की नौकरी के बाद अग्निवीर अगर कोई अपना व्यवसाय करना चाहे तो उसको सरकार बिना ब्याज के लोन देने की व्यवस्था भी करेगी, अग्निपथ योजना में भर्ती होने वाले दसवीं पास अग्निवीर को 12वीं का सर्टिफिकेट और 12वीं पास को ग्रेजुएशन का सर्टिफिकेट मिलेगा, जो देश दुनिया में सभी जगह मान्य होगा, सीएपीएफ कि सभी नौकरियों में अग्निवीर को 10% का आरक्षण मिलेगा, रक्षा मंत्रालय गृह मंत्रालय सहित भारत सरकार की सभी नौकरियों में अग्निवीर को प्राथमिकता मिलेगी।
इसके अलावा मृत्यु के मामले में मुआवजा के रूप में रुपये का गैर-अंशदायी जीवन बीमा कवर 48 लाख रुपये की
अतिरिक्त अनुग्रह राशि। सेवा के कारण मृत्यु के लिए 44 लाख स्वरूप विकलांगता मुआवजा देय होगा। 100%/75% / 50% विकलांगता के लिए क्रमशः 44/25/15 लाख रुपये की
एकमुश्त अनुग्रह राशि भी शामिल होगी। देश के लिए अपनी शहादत देने पर अग्निवीर को रक्षा मंत्रालय की तरफ से एक करोड़ रुपए एवं हरियाणा सरकार की तरफ से 50 लाख रुपए दिए जाएंगे।
चयन प्रक्रिया: एक केंद्रीकृत, पारदर्शी और कठोर प्रणाली में चयन पर आधारित होगी। नियमित संवर्ग में नामांकन
पर, नियमित सैनिक के रूप में नियत वेतन, पेंशन मौजूदा नियमों के अनुसार मान्य होगी।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

लोगों को बुनियादी सुविधाएं उपलबध करवाना आम आदमी पार्टी का उद्देश्य : धर्मबीर भड़ाना


मानव अधिकार सहायता संघ की महिला जिलाध्यक्ष रीता सिंह ने समर्थकों सहित थामा आप का दामन
फरीदाबाद। 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली में किए गए अभूतपूर्व विकास कार्य एवं उनकी नीतियों में आस्था जताते हुए मानव अधिकार सहायता संघ की महिला जिलाध्यक्ष रीता सिंह ने अपने दर्जनों साथियों के साथ आज आम आदमी पार्टी का दामन थामा। फरीदाबाद-गुडग़ांव रोड स्थित पार्टी के जिला कार्यालय पर आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने पार्टी में शामिल हुई रीता सिंह, योगेेंद्र पटेल, विनोद रावत, गोपाल शर्मा, विनोद पोसवाल, योगेश शर्मा सहित दर्जनों लोगों का पार्टी का पटका पहनाकर स्वागत किया और उन्हें विश्वास दिलाया कि आम आदमी पार्टी में उन्हें पूरा मान सम्मान दिया जाएगा। इस मौके पर उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए धर्मबीर भड़ाना ने कहा कि आज पूरे देश में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जो दिल्ली मॉडल पेश किया है, उसने लोगों की आस्था पार्टी की नीतियों में बढ़ा दी है क्योंकि आम आदमी पार्टी का उद्देश्य लोगों को पानी, बिजली, शिक्षा व चिकित्सा जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाना है और यही कारण है कि आज दिल्ली के सरकारी स्कूलों का विकास और चिकित्सा क्षेत्र में वहां हुए अचूल परिवर्तन ने सभी राज्यों की सरकारों को सोचने पर विवश कर दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल जी की कथनी और करनी में कोर्ई अंतर नहीं है, जो वायदे उन्होंने जनता से किए, उन्हें पूरा भी किया यही कारण है कि दिल्ली के बाद पंजाब और अब पंजाब के बाद हरियाणा और देश की बारी है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में आम आदमी पार्टी की नीतियों से लोग इस कद्र प्रभावित हो रहे है कि वह पार्टी में शामिल होने के लिए लालियत है और निरंतर यहां का कुनबा बढ़ रहा है। इस अवसर पर पार्टी में शामिल हुई रीता सिंह सहित अन्य लोगों ने कहा कि वह आम आदमी पार्टी को जन-जन तक पहुंचाएंगे और मुख्यमंत्री केजरीवाल के दिल्ली मॉडल के बारे में लोगों को विस्तार से बताएंगे ताकि आने वाले नगर निगम चुनावों में फरीदाबाद में आम आदमी पार्टी की छोटी सरकार बने और उसके बाद हरियाणा में आप फतह हासिल करे। इस अवसर पर वरिष्ठ आप नेता राकेश भड़ाना, परमजीत कौर, दीपक नागर, हैप्पी सिंह आदि मुख्य रूप से मौजूद थे। 

Posted by: | Posted on: 2 months ago

चौधरी कृष्णपाल गुर्जर केंद्र राज्य मंत्री भारत सरकार ने वार्ड नंबर 1 गांव झाड़सेटली में 6 करोड रुपए की लागत से बनने वाले एसटीपी प्लांट में 64 लाख रुपए की लागत से बनने वाले गांव की फिरनी के नाले का शिलान्यास किया साथ में भाजपा नेता मुकेश डागर

चौधरी कृष्णपाल गुर्जर केंद्र राज्य मंत्री भारत सरकार ने वार्ड नंबर 1 गांव झाड़सेटली में 6 करोड रुपए की लागत से बनने वाले एसटीपी प्लांट में 64 लाख रुपए की लागत से बनने वाले गांव की फिरनी के नाले का शिलान्यास किया साथ में भाजपा नेता मुकेश डागर ,गांव आरडब्लूए टीम गांव की सरदारी राजीव कॉलोनी प्रतापगढ़, कृष्णा कॉलोनी सेक्टर 55 की सरदारी मौजूद रही ।चौधरी कृष्णपाल गुर्जर ने वार्ड नंबर एक राजीव कालोनी मुकेश डागर भाजपा नेतय द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित किया।
मंत्री जी ने वार्ड नंबर 1 के लिए करोड़ों रुपए के विकास कार्यों की घोषणा की जो इस प्रकार है।
1.गांव झाडसैंतली के लिए 1 करोड 6 लाख रूपेय के विकास कार्यों की घोषणा की
2.राजीव कॉलोनी के लिए 2 करोड़ 16 लाख की घोषणा की
3.सेक्टर 55 के लिए 1 करोड़ 18 लाख रूपेय के विकास कार्यों की घोषणा की।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

मैथिल ब्राह्मण सेवा समिति फरीदाबाद की बैठक संपन्न l सेवा समिति द्वारा आयोजित होगा प्रतिभा सम्मान समारोह एवम विवाह सम्मेलन

फरीदाबाद, बल्लभगढ़। मैथिल ब्राह्मण सेवा समिति फरीदाबाद की कार्यकारिणी बैठक का आयोजन अधक्ष्य पंडित जगदीश प्रभाकर की अध्यक्षता में संस्था के कार्यालय मैथिल ब्राह्मण धर्मशाला सुभाष कालोनी बल्लभगढ़ पर हुआ। इस अवसर पर महत्वपूर्ण निर्णय समिति द्वारा लिए गए।
सर्वप्रथम वैदिक मंत्रों के साथ समिति के पदाधिकारी ने हवन यज्ञ किया एवम भगवान परशुराम जी के चित्रपट पर पुष्प अर्पित कर किया। महासचिव पं श्रीराम शर्मा ने बताया कि सेवा समिति द्वारा समाज के सहयोग से नव निर्मित मैथिल ब्राह्मण धर्मशाला का उदघाटन केबेनिट मंत्री मूलचंद शर्मा द्वारा अगस्त माह में होगा। समाज के प्रतिभावान छात्र छात्राओं एवम समाजसेवी दानदाताओ का भव्य सम्मान समारोह नवंबर माह में आयोजित होगा। कोषाध्यक्ष दलवीर भारद्वाज ने समिति एवम धर्मशाला के आय व्यय का ब्योरा समाज के समक्ष प्रस्तुत किया और मैथिल ब्राह्मण समाज से सेवा समिति के सहयोग की अपील की।इस अवसर पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष पं ओमप्रकाश भारद्वाज, पं चंद्रभान मिश्र, पं ललित शर्मा, महासचिव पं श्रीराम शर्मा, प्रवक्ता पं ओमप्रकाश शर्मा, ऑडिटर बदन आर्य, पं वीरेंद्र वशिष्ठ, पं हरपाल वशिष्ठ, पं रामशरण भारद्वाज, पं श्रीचंद शर्मा, पं हरगोविंद शर्मा, निक्को शर्मा, सुखराम शर्मा, सहित समिति के पदाधिकारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पं जगदीश प्रभाकर एवम संचालन महासचिव श्रीराम शर्मा ने किया।

Posted by: | Posted on: 2 months ago

मानव रचना यूनिवर्सिटी को माननीय केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी द्वारा ‘डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव ) : मानव रचना यूनिवर्सिटी को कोविड-19 महामारी के दौरान सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी एमआरयू द्वारा इसके प्रभाव को कम करने के लिए किए गए कार्यों के लिए वर्ल्ड कांग्रेस ऑन डिजास्टर मैनेजमेंट – डिज़ास्टर रिस्क रिडक्शन पुरस्कार (WCDM – DRR) से सम्मानित किया गया है।

यह पुरस्कार श्री जी. किशन रेड्डी – भारत के उत्तर पूर्वी क्षेत्र के माननीय केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति और विकास मंत्री, भारत सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया था। प्रो. (डॉ.) आई.के. भट – कुलपति, एमआरयू और प्रो. (डॉ.) डी.एस. सेंगर – प्रो वाइस चांसलर, एमआरयू, ने इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (आईआईसी) में आयोजित एक समारोह में यूनिवर्सिटी की ओर से पुरस्कार प्राप्त किया।

मानव रचना सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी, अध्यक्ष पद्म विभूषण डॉ. कर्ण सिंह के कुशल मार्गदर्शन में समाज को प्रभावित करने वाली आपदाओं की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रयास करके शांति और स्थिरता के पथ पर है।

महामारी के कठिन समय के दौरान सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी ने युवाओं के लिए मूल्यों को विकसित करने और कला और संस्कृति से संबंधित गतिविधियों में भागीदारी को बढ़ावा देने के लिए कई संरचित और अभ्यास उन्मुख पाठ्येतर कार्यक्रम विकसित किए ताकि आपदा का सामना करने के लिए एक शांतिपूर्ण दिमाग विकसित किया जा सके।

इसके अलावा, केंद्र, शांति और स्थिरता पर ज़ोर देता है, छात्रों के बीच जीवन कौशल विकसित करता है, पर्यावरण जागरूकता, शांति और सद्भाव की संस्कृति सहित कई एसडीजी के लिए जागरूकता और प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रदान करता है ताकि महामारी और महामारी के बाद की अवधि के दौरान समुदाय का समर्थन किया जा सके।

केंद्र ऐसी आपदाओं से बचने के लिए समाज में लोगों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए अंतर-विश्वविद्यालय मंचों और प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्रों के बीच स्थिरता के प्रति दृष्टिकोण विकसित करने में मदद करता है। इस दौरान योग और ध्यान प्रशिक्षण सत्र भी आयोजित किए गए।

मानव रचना यूनिवर्सिटी ने विभिन्न विश्वविद्यालयों के स्नातकों के लिए शांति और स्थिरता पर एक पाठ्यक्रम भी डिजाइन और वितरित किया।

सेंटर फॉर पीस एंड सस्टेनेबिलिटी, एमआरयू समाज की सेवा करने और हमारी युवा पीढ़ी को सामाजिक कल्याण सेवाओं का मूल्य सिखाने के लिए निरंतर प्रयास में है। समाज की बेहतरी की दिशा में प्रयासों के लिए मान्यता प्राप्त करना छात्रों और शिक्षकों को सही दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करता है।