प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है

now browsing by tag

 
32वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड षिल्प मेले में आज हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी पहुंचे awesome blog company environment magazine music new technology आदर्श महिला महाविद्यालय के चुनाव में महासचिव पद के लिए अशोक बुवानीवाला एवं कोषाध्यक्ष पद के लिए सुंदरलाल अग्रवाल लगातार दूसरी बार विजयी रहें उद्योग मंत्री विपुल गोयल के उपहारों से पीएम राहत कोष के लिए एकत्र हुए ढाई करोड़ एमवीएन विश्वविद्यालय एम वी एन विश्वविद्यालय के तत्वाधान में एम वी एन स्कूल के सभागार कक्ष में विश्वविद्यालय द्वारा अंतिम वर्ष के छात्र/छात्राओं के लिए विदाई समारोह का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया एमवीएन विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ लॉ के छात्रों ने भारतीय संसद के लोकसभा एम वी एन विश्वविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस मनाया गया एमवीएन विश्वविद्यालय में महामहिम राज्यपाल द्वारा विश्वविद्यालय के 445 विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की जायेगी ऑफिस हो कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल की अपील पर सभी धर्म के लोगों ने धार्मिक स्थलों पर फहराया तिरंगा कॉलेज हो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पलवल टैगोर पब्लिक स्कूल टैगोर पब्लिक स्कूल की छात्रा दीक्षा तिवारी ने खेल टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक प्राप्त करके स्कूल का नाम रोशन किया तरुण निकेतन पब्लिक स्कूल दा न्यू ऐज सी॰ से॰ स्कूल-रोनीजा पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल की विधानसभा को मिलकर बनाएंगे क्लीन एंड ग्रीन- संजय बत्रा पल्ला नंबर 1 पूर्व विधायक आनन्द कौशिक ने परिवर्तन बस यात्रा का भव्य स्वागतभीड़ देख गदगद हुए गुलाम नबी आजाद प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है फैशन एंड लाइफस्टाइल एग्जीबिशन रेडिसन ब्लू में 13 फरवरी को :-नूपुर गुप्ता बाल कल्याण पब्लिक सीनियर सेकंडरी स्कूल का रिजल्ट रहा अच्छा ब्लयू एंजिल ग्लोबल स्कूल में क्रिसमस समारोह का आयोजन किया गया भाजपा सरकार में कर्मचारियों को लाठियों के रुप में मिले अच्छे दिन : विकास चौधरी मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल मानव रचना शैक्षणिक संस्थान ने फरीदाबाद पुलिस को भेंट की स्कॉर्पियो कार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदक विधायक नगेन्द्र भडाना ने राजीव कालोनी में लक्ष्मी डेयरी वाली गली में बनने वाली सीमेटिड सडक का विधिवत शुभारंभ किया विधायक मूलचंद शर्मा के भाई टीपरचंद शर्मा ने आज बल्लबगढ़ विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों का निरिक्षण किया और कमी पाए जाने पर अधिकारीयों को जमकर लताड़ लगायी विधायक मूलचंद शर्मा ने बल्लबगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वार्ड न- 36 में 33 लाख रूपये की लागत से बनने वाली  रोड के कार्य का नारियल फोड़कर शुभारम्भ किया वृंदा इंटरनेशनल स्कूल में मातृदिवस के अवसर पर माँ का महत्व बताया :- विजय लक्ष्मी शक्तिपीठ पब्लिक स्कूल ने मनाया क्रिसमस सतयुग दर्शन ट्रस्ट द्वारा आयोजित मानवता-फेस्ट-2018 सतयुग दर्शन वसुन्धरा में रामनवमी यज्ञ महोत्सव पर - विशाल शोभा-यात्रा का आयोजन हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के जिला प्रधान बने राजेन्द्र दहिया होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल ने सामाजिक दायित्व निभाते नेत्रहीन खिलाड़ियों को 10 हज़ार रुपये का चेक भेंट किया
 
Posted by: | Posted on: March 22, 2018

प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है

महेन्द्रगढ़ ( विनोद वैष्णव )। प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से न सिर्फ व्यापारियों को नुकसान हो रहा है बल्कि किसानों के लिए भी परेशानी का सबब बनी हुई है। ये बात अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने आज स्थानीय विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। बुवानीवाला ने कहा कि प्रदेश सरकार मंडी व्यापार को पूरी तरह बर्बाद करना चाहती है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय खरीद एजेंसी नैफेड के लिए हैफेड द्वारा आढ़त व्यापारियों के माध्यम से सरसों की खरीद की जाती रही है। लेकिन सरकार इस बार सीधे किसान से ऑनलाईन सरसों की खरीद रही है। उन्होंने कहा कि जब सरकार ने सरसो खरीद की कीमतें फिक्स कर रखी है तो इसकी सीधी खरीद का कोई औचित्य नहीं बनता। उन्होंने कहा कि व्यापारी फसल की खरीद के समय किसानों व सरकारी खरीद एजेंसियों के बीच अनाज की खरीद का माध्यम बनते हैं। जिसके लिए उन्हें अनाज की खरीद पर 2.5 फीसद दामी दी जाती है। ऐसे में प्रतीत होता है कि सरकार व्यापारियों से द्वेषपूर्ण भावना के साथ उनके रोजगार को ही खत्म करना चाहती है। उन्होंने कहा कि फसल ऑनलाइन खरीद के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड की फोटो स्टेट, पटवारी द्वारा गिरदावरी व जमाबंदी नकल लाना जैसी रखी गई शर्तें किसानों को आर्थिक एवं मानसिक परेशान करने के अलावा कुछ नहीं है। बुवानीवाला ने कहा कि प्रदेश में गठित व्यापारी आयोग व्यापारिक हितों के लिए मूकदर्शक बना हुआ है। उन्होंने कहा कि व्यापारिक आयोग व्यापारियों की समस्याओं के समाधान के लिए गठित किया जाता है, लेकिन प्रदेश सरकार ने उसे व्यापारियों के हितों के लिए नहीं अपितू उन्हें गुमराह करने के लिए बनाया हुआ है। इस मौके पर बुवानीवाला ने व्यापारियों की बीमा तथा पेंशन लागू किए जाने की लंबित पड़ी मांग को व्यापारी आयोग द्वारा निवारण किए जाने की मांग की। समाज की राजनीतिक भागीदारी पर बात करते हुए अशोक बुवानीवाला ने कहा कि वैश्य समाज जब तक राजनीतिक माहौल को नहीं समझेगा तब तक उसका स्वाभिमान खतरे में पड़ा रहेगा। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में वैश्यजन अग्रवाल वैश्य समाज के बैनर तले एक बार फिर से संगठित होकर सक्रिय रूप से राजनीति में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज को सक्षम एवं आत्मनिर्भर बनने के लिए राजनीति में आना आवश्यक है। समाज में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए राजनीति ही एक सशक्त माध्यम है। इस अवसर पर अग्रवाल वैश्य समाज के लोकसभा अध्यक्ष नवीन मित्तल, नगरपालिका चेयरमैन रीना गर्ग, शिवशंकर गर्ग, नरेश गोयल, राजेश सिंगला, महेश गुप्ता, प्रदीप ऐरन, राजेश मस्ताना, पंकज गोयल, रमेश मित्तल, दिनेश गोयल सहित अन्य वैश्यजन उपस्थित थे।

Posted by: | Posted on: March 22, 2018

प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है

महेन्द्रगढ़ ( विनोद वैष्णव )। प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से न सिर्फ व्यापारियों को नुकसान हो रहा है बल्कि किसानों के लिए भी परेशानी का सबब बनी हुई है। ये बात अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने आज स्थानीय विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। बुवानीवाला ने कहा कि प्रदेश सरकार मंडी व्यापार को पूरी तरह बर्बाद करना चाहती है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय खरीद एजेंसी नैफेड के लिए हैफेड द्वारा आढ़त व्यापारियों के माध्यम से सरसों की खरीद की जाती रही है। लेकिन सरकार इस बार सीधे किसान से ऑनलाईन सरसों की खरीद रही है। उन्होंने कहा कि जब सरकार ने सरसो खरीद की कीमतें फिक्स कर रखी है तो इसकी सीधी खरीद का कोई औचित्य नहीं बनता। उन्होंने कहा कि व्यापारी फसल की खरीद के समय किसानों व सरकारी खरीद एजेंसियों के बीच अनाज की खरीद का माध्यम बनते हैं। जिसके लिए उन्हें अनाज की खरीद पर 2.5 फीसद दामी दी जाती है। ऐसे में प्रतीत होता है कि सरकार व्यापारियों से द्वेषपूर्ण भावना के साथ उनके रोजगार को ही खत्म करना चाहती है। उन्होंने कहा कि फसल ऑनलाइन खरीद के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड की फोटो स्टेट, पटवारी द्वारा गिरदावरी व जमाबंदी नकल लाना जैसी रखी गई शर्तें किसानों को आर्थिक एवं मानसिक परेशान करने के अलावा कुछ नहीं है। बुवानीवाला ने कहा कि प्रदेश में गठित व्यापारी आयोग व्यापारिक हितों के लिए मूकदर्शक बना हुआ है। उन्होंने कहा कि व्यापारिक आयोग व्यापारियों की समस्याओं के समाधान के लिए गठित किया जाता है, लेकिन प्रदेश सरकार ने उसे व्यापारियों के हितों के लिए नहीं अपितू उन्हें गुमराह करने के लिए बनाया हुआ है। इस मौके पर बुवानीवाला ने व्यापारियों की बीमा तथा पेंशन लागू किए जाने की लंबित पड़ी मांग को व्यापारी आयोग द्वारा निवारण किए जाने की मांग की। समाज की राजनीतिक भागीदारी पर बात करते हुए अशोक बुवानीवाला ने कहा कि वैश्य समाज जब तक राजनीतिक माहौल को नहीं समझेगा तब तक उसका स्वाभिमान खतरे में पड़ा रहेगा। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में वैश्यजन अग्रवाल वैश्य समाज के बैनर तले एक बार फिर से संगठित होकर सक्रिय रूप से राजनीति में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज को सक्षम एवं आत्मनिर्भर बनने के लिए राजनीति में आना आवश्यक है। समाज में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए राजनीति ही एक सशक्त माध्यम है। इस अवसर पर अग्रवाल वैश्य समाज के लोकसभा अध्यक्ष नवीन मित्तल, नगरपालिका चेयरमैन रीना गर्ग, शिवशंकर गर्ग, नरेश गोयल, राजेश सिंगला, महेश गुप्ता, प्रदीप ऐरन, राजेश मस्ताना, पंकज गोयल, रमेश मित्तल, दिनेश गोयल सहित अन्य वैश्यजन उपस्थित थे।