June, 2021

now browsing by month

 
Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

जेजेपी के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र सौरोत का हुआ नागरिक अभिनंदन समारोह


आज हसनपुर के प्रबुद्ध लोगों के द्वारा डीके हाई स्कूल हसनपुर के प्रांगण में जेजेपी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ देवेंद्र सौरौत का बतौर मुख्य अतिथि स्वागत समारोह किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के चेयरमैन चौधरी हर स्वरूप जी ने किया स्वागत समारोह मैं देवेंद्र सौरौत ने अपने संबोधन में जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय सिंह चौटाला जी हरियाणा के उपमुख्यमंत्री चौधरी दुष्यंत चौटाला जी एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री चौधरी हर्ष कुमार जी का भी आभार व्यक्त किया साथ में पार्टी की नीतियों का उल्लेख करते हुए अपने संबोधन में कहा कि जेजेपी ने अपने घोषणा पत्र में जिन बातों का जिक्र किया उनमें से एक एक करके पूरा करने का काम कर रहे हैं जैसे हरियाणा प्रदेश के 75% युवाओं को नौकरी देने की बात हो चाहे शहरों की तर्ज पर गांव में जननायक ताऊ देवीलाल जी के नाम पर स्मार्ट कॉलोनी बनाने की बात हो चाहे गांव के कच्चे रास्तों को पक्का कराने की बात हो चाहे हरियाणा के बुजुर्गों को सम्मान निधि को बढ़ाने की बात हो प्रत्येक बातों पर एक एक करके पूरा कराने का काम कर रही है उन्होंने अपने संबोधन में समारोह में मौजूद लोगों से अपील की कि भाई दुष्यंत चौटाला जी के करनी और कथनी में कोई अंतर नहीं है भाई दुष्यंत चौटाला जी के हाथों को मजबूत कीजिए उनके साथ कंधे से कंधे मिलाकर हरियाणा के विकास में अपनी भूमिका सुनिश्चित कीजिए मैं आप सभी को विश्वास दिलाता हूं कि स्कूलों की एवं स्कूलों के अलावा दूसरी समस्याओं को हरियाणा उपमुख्यमंत्री आदरणीय चौधरी दुष्यंत चौटाला जी के समक्ष प्रस्तुत कर उनको पूरा कराने का प्रयास करूंगा समारोह में मुख्य रूप से चौधरी हेतराम राजेश अग्रवाल राहुल तेवतिया विशन सिंह चौहान बीजेपी के जिला प्रधान चरण सिंह तेवतिया गांव जटोली के सरपंच सुरेंद्र जितेंद्र गर्ग शास्त्री जी मुकेश कुमार सुधीर चौधरी नरेश कुमार प्रेम सिंह कर्मवीर ललित शर्मा सतीश बैसला रविंदर प्रभु दयाल विजेंदर सिंह आदि गांव के सैकड़ों लोग उपस्थित रहे

Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

56ए की सीवर लाइन एक्सटेंशन निर्माण कार्य का उद्घाटन करने पहुंचे मंत्रियों कृष्णपाल गुर्जर एवं मूलचंद शर्मा ने आरडब्ल्यूए प्रधान डॉ सतीश प्रधान से नारियल फुड़वाया

आरडब्ल्यूए सेक्टर 56, 56ए की मांग पर मंत्रियों ने दी सौगात

लाखों की लागत से तैयार एक्सटेंशन लाइन दिलाएगी सीवर ओवरफ्लो से छुटकारा

फरीदाबाद।

सैक्टर-56, 56ए के लोगों को हमेशा के लिए सीवर ओवरफ्लो की समस्या से छुटकारा मिलने वाला है। यहां सीवर लाइन एक्सटेंशन लाइन का निर्माण कार्य शुरू करवाने केंद्रीय राज्यमंत्री एवं स्थानीय सांसद कृष्णपाल गुर्जर और प्रदेश के कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा पहुंचे। यह मांग स्थानीय आरडब्ल्यूए ने जोर शोर से उठाई थी।

यहां पहुंचे दोनों मंत्रियों ने खुद भी नारियल तोड़ा और आरडब्ल्यूए प्रधान डॉ. सतीश फौगाट से भी नारियल तुड़वाया। इस एक्सटेंशन लाइन के बन जाने के बाद सेक्टर की सीवर लाइन प्रतापगढ़ एसटीपी से जुड़ जाएगी, जिसके बाद यहां सीवर ओवरफ्लो की समस्या समाप्त हो जाएगी। इस अवसर पर केंंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि मोदी मनोहर की सरकार में विकास कार्यों में एक तेजी आई है जिसे जनता देख रही है। श्री गुर्जर ने कहा कि इस सीवर लाइन की मांग लंबे समय से हो रही थी जिसे आज पूरा कर दिया गया है। इस लाइन के बन जाने से हजारों की संख्या में रहने वालों को लाभ मिलेगा।

यहां कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि स्थानीय लोगों की सेवा करना ही हमारा फर्ज और धर्म है। हम दिन रात इसी काम में लगे हुए हैं। हमारा काम ही लोगों का आशीर्वाद लेने की दिशा में बढ़ाया हुआ कदम है। इस अवसर पर आरडब्ल्यूए सेक्टर 56, 56ए के प्रधान डॉ. सतीश फौगाट ने विकास कार्य शुरू होने पर खुशी जताई। उन्होंने बताया कि इस लाइन के बन जाने से दोनों सेक्टरों में सीवरलाइन ओवरफ्लो की समस्या दूर हो जाएगी। इसके लिए आरडब्ल्यूए अक्टूबर से प्रयासरत थी। हमारी मांग को पूरा करने पर हम दोनों मंत्रियों कृष्णपाल गुर्जर एवं मूलचंद शर्मा के आभारी हैं।

इस अवसर पर स्थानीय लोगों में केडी शर्मा, शोएब खान, बच्चू सिंह, शैलेंद्र कुन्तल, राम मेहर, निर्मल सिंह, मोहन राम आर्य, पप्पू मौर्या, दीपक अत्री, सहज राम, राजकुमार जिंदल, मुस्तकीम, तेजराम, किशोरी लाल, गीता चौधरी, सुनील, जेपी सिंह, आर के शर्मा आदि मौजूद थे।

Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

रोटरी क्लब पलवल सिटी एवं चौधरी हीरालाल मेमोरियल एजुकेशनल सोसायटी के तत्वावधान में शुक्रवार को चौ. हीरालाल स्कूल छज्जू नगर के प्रांगण में पौधारोपण व वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया

रोटरी क्लब पलवल सिटी एवं चौधरी हीरालाल मेमोरियल एजुकेशनल सोसायटी के तत्वावधान में शुक्रवार को चौ. हीरालाल स्कूल छज्जू नगर के प्रांगण में पौधारोपण व वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि रोटरी क्लब के असिस्टेंट गवर्नर धीरेंद्र श्री वास्तव रहे और अध्यक्षता चेयरमैन धर्मवीर सिंह चौहान ने की। शिविर रोटरी क्लब के प्रधान नरेंद्र बैंसला को उनके जन्मदिन के मौके पर समर्पित किया गया। धीरेंद्र श्री वास्तव ने कहा कि कोरोना काल में लोगों को ऑक्सीजन के लिए जद्दोजहद करनी पड़ी, जबकि ऑक्सीजन तो मुफ्त में पेड़ों से पैदा होती है। इसलिए अब इंसान को समझ जाना चाहिए की अपने जीवन में जितना हो सके ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने चाहिए। इस अवसर पर उन्होंने छायादार व फलदार कटहेर, अमरूद व जामुन सहित अन्य पौधे लगाए। 
चेयरमैन धर्मवीर चौहान ने कहा कि इस बार बरसात शुरू होते ही गांव के आसपास एक हजार पेड लगाए जाऐंगे और पेड लगाने के बाद उनकी सुरक्षा भी की जाएगी। 
क्लब के प्रधान नरेंद्र बैंसला ने कहा कि रोटरी क्लब का पहले से ही उद्देश्य रहा है कि ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाए जाऐं, इसके लिए क्लब का जब प्रति वर्ष नया सत्र शुरू होता है तो क्लब का पहला कार्यक्रम ही पौधारोपण का होता है और बीच-बीच में मौसम को देखते हुए पौधारोपण किया जाता रहता है।  उन्होंने इस बार अपने जन्म दिन को लोगों को समर्पित करते हुए पौधारोपण व वैक्सीनेशन कराकर मनाने की इच्छा जाहिर की तो उनकी टीम ने उनका हौंसला बढ़ाते हुए इसे सराहा। कार्यक्रम का संचालन करते हुए रोटेरियन कंवर कुलदीप सिंह ने कहा कि हमें अपने जन्मदिन, शादी की वर्षगांठ व बच्चों के जन्मदिन के अलावा खुशी के हर मौके पर पौधारोपण जैसे आयोजन करने चाहिए, जिससे अपना मनोरंजन हो और दूसरों का भी भला हो सके। कैंप में 100 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। शिविर को सफल बनाने में स्कूल के वाईस चेयरमैन ब्रह्मदत्त कौशिक,पत्रकार भगत सिंह रामवीर चौहान , मुकेश चौहान व सागर चौहान के साथ गांव के  युवाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Posted by: | Posted on: 1 month ago

जेजेपी के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र सौरात का पलवल प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन की तरफ से हुआ जोरदार स्वागत


*आज जननायक जनता पार्टी के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ हरियाणा देवेंद्र सिंह सौरौत को बनाए जाने पर पलवल प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के जिला प्रधान सतवीर पटेल की अध्यक्षता में जिले के सैकड़ों प्राइवेट स्कूल प्रबंधकों ने जोरदार स्वागत किया गया
कार्यक्रम की अध्यक्षता रविदत्त शर्मा जी एवं मंच संचालन राजेंद्र राणा ने किया सभी स्कूल संचालकों ने अपने संबोधन में कहा कि हम सभी भाई देवेंद्र सौरौत एवं जननायक जनता पार्टी को मजबूत बनाने के लिए जिले के सभी स्कूल प्रबंधक तन मन धन से आपके साथ हैं जेजेपी के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र सौरौत ने अपने संबोधन में कहा कि स्कूल संबंधित जो भी समस्याएं हैं उन सब को हरियाणा के उपमुख्यमंत्री चौधरी दुष्यंत चौटाला जी से मिलकर सभी को हल करवाने का प्रयास करेंगे समारोह में मुख्य रूप से स्कूल चेयरमैन अनिल भारद्वाज सुरेश भारद्वाज सतीश कौशिक राजेंद्र राणा पवन अग्रवाल राजबीर जाखड़ जयदेव रावत चौधरी हेतराम राजेश अग्रवाल जितेंद्र रावत देवेंद्र यादव सुधीर सौरौत भरत लाल जितेंद्र गर्ग नरेश कुमार महेश शर्मा चंद्रशेखर मोहन शर्मा दाऊ दयाल शर्मा मुकेश कुमार आदि सैकड़ों स्कूल प्रबंधक मौजूद रहे

Posted by: | Posted on: 1 month ago

हरियाणा स्टेट अनाज मंडी आढ़ती एस्सोसिएसन की राज्य कार्यकरणी की बैठक करनाल मे कार्यवाहक प्रधान रजनीश चौधरी की अध्यक्षता मे हुई

हरियाणा स्टेट अनाज मंडी आढ़ती एस्सोसिएसन

     

हरियाणा स्टेट अनाज मंडी आढ़ती एस्सोसिएसन की राज्य कार्यकरणी की बैठक करनाल मे कार्यवाहक प्रधान श्री रजनीश चौधरी जी की अध्यक्षता मे हुई l
प्रदेश अध्यक्ष श्री अशोक गुप्ता जी नें जो 8 अप्रैल 2021 को किसी भी कारणवस अपने पद से इस्तीफा दिया था उसे सर्वसम्मति से नामंजूर किया गया है l अर्थात श्री अशोक गुप्ता जी पहले की तरह एस्सोसिएसन के प्रदेश अध्यक्ष रहेंगे l सगठन को ओर अधिक मजबूत करने के लिए प्रदेश एसोसिएशन के आगामी दो वर्षो के लिए चुनाव तय समय से पहले करवाने का भी निर्णय लिया गया l
सर्वसम्मति से सरकार से मांग करते है जल्दी से जल्दी निम्नलिखित मांगे मानी जाए

  1. आढ़तियों की आढ़त रु 46/ प्रति कन्वंटल की बजाए पहले के अनुसार 2.5% का भुगतान जल्दी से जल्दी अदा की जाए l
  2. 5 अप्रैल 2021 को मुख्य्मंत्री जी नें प्रदेश एस्सोसिएसन के शिष्टमंडल से किए वायदे के अनुसार देरी से आढ़त के भुगतान
    पर ब्याज भी जल्दी से जल्दी अदा करें l
  3. धान सीजन की लोडिंग ₹1.88 प्रति बोरी सरकार नें अभी तक नहीं दी है उसे जल्दी से जल्दी दिया जाए l
  4. मंडियो मे प्राइवेट बिकने वाली फसलों के भुगतान आढ़ती के माध्यम से ही होनी चाहिए ना की सरकार द्वारा सीधे किसानो को करवाई जाए l क्योंकि इससे किसानो का भुगतान प्राइवेट ख़रीदारों के पास मर सकता है l आज दिन तक किसानो के भुगतान की जिम्मेदारी आढ़ती की है जबकि आढ़तियों के हजारों करोड़ रु प्राइवेट खरीदारों के पास मरे हुए है l
    आजकी बैठक मे जिला पंचकुला के प्रधान श्री धूप सिंह, जिला अम्बाला से चौधरी दुनी चंद जी जिला कुरुक्षेत्र के प्रधान चौधरी बनारसीदास जिला कैथल के प्रधान श्री अश्वनी शोरेवाले जी, जिला यमुनानगर के प्रधान श्री शिव कुमार कंबोज, जिला करनाल के प्रधान चौधरी रजनीश, जिला पानीपत के प्रधान चौधरी धर्मवीर सिंह, जिला पलवल के प्रधान श्री गौरव तेवतिया जी, जिला सिरसा के प्रधान श्री सुरेंद्र मिंचनाबादी जी, प्रदेश कोषाध्यक्ष सरदार स्वर्ण जीत सिंह कालरा , प्रदेश सचिव विजय चौधरी जी नारायणगढ़ मंडी से श्री अशोक कालरा व रविश जी शामिल रहे l विकास सिंघल
    प्रदेश महासचिव
Posted by: | Posted on: 1 month ago

ऑनलाइन क्लासिस से भी छात्रों का भविष्य है उज्वल:-लिंग्याज विद्यापीठ

ऑनलाइन क्लासिस से भी छात्रों का भविष्य है उज्वल:

लिंग्याजविद्यापीठ

  • छात्रों को ऑनलाइन क्लासिस के लिए 3हजार रूपय प्रति समेंस्टर देती है यूनिवर्सिटी
  • पढ़ाई के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज पर भी खासतौर पर ध्यान दिया जा रहा है।
  • डेमोन्सट्रेटमॉडलस, वर्किंग मॉडल, वीडियोंज, डायग्राम, हैन्डऑउट नोट्स से कराई जा रही है प्रैक्टिस।
  • र्वचुअलकराई जाती है ऑनलाइन इन्डस्ट्रीअल विजिट

देश में कोरोना का कहर अपने पंख फैला रहा है और समय के साथ-साथ इससे लड़ने के लिए भी उपाय किए जा रहें हैं। वहीं इससे निपटने कि लिए देश के चिकित्सा विभाग के साथ-साथ शिक्षा विभाग भी इस महामारी से निपटने में पूरी तराह से जुटा हुआ है। सभी इस कोरोना से निपटने की मुहिम में अपनी बेहतर से बेहतर कोशिश में जुटे हुए हैं।

इसी कोशिश मेंफरीदाबाद में स्थित लिंग्याजविद्यापीठ(डीम्डटूबीयूनिवर्सिटी)भी अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। आज के समय में ऑनलाइन क्लासिस का बड़ा महत्व हो गया है। ऐसे में छात्रों की पढ़ाई पर असर ना पढ़े इसके लिए यूनिवर्सिटीऑनलाइन क्लासिस का खास ख्याल रख रही है। यूनिवर्सिटी अपने छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए छात्रों को ऑनलाइन क्लासिस के लिए प्रति समेस्टर 3हजार रूपय देती है। ताकि उनकी पढ़ाई में कोई रूकावट ना आए। इतना ही नहीं यूनिवर्सिटी ने अपने प्रोफेसरों को खास हिदायत भी दी है कि कोरोना के कारण बच्चों की पढ़ाई में कोई कोतहाई ना बरती जाए। छोत्रों को हर क्षेत्र में निपूर्ण बनाने के लिए यूनिवर्सिटी ने अच्छी खासी तैयारी की हुई है। थ्योरी क्लासिज के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज पर भी खासतौर पर ध्यान दिया जा रहा है। ताकि बच्चें अपनी पढ़ाई पूरी होने के बाद इंडस्ट्री में कदम रखे तो उनके पास काबिलियटत की कोई कमी ना हो।

किस तरह से दी जा रही है ऑन लाइन प्रैक्टिकल ट्रेनिंग-

डेमोन्सट्रेटमॉडलस, वर्किंग मॉडलस, अपनी खुद की बनाई वीडियोंज के जरिए, डायग्राम के जरिए, हैन्डऑउट नोट्स और भी कई तरह की शिक्षा पदद्ती को अपनाकर बच्चों को पूर्ण शिक्षा दी जा रही है। ताकि आने वाले समय में बच्चों को 100 प्रतिशत सफलता मिले। मैकेनिकल इंजीनियरिंगडिपार्टमेंट के प्रोफेसर इकबाल अहमद खान का कहना है कि हम बच्चों की पढ़ाई कापूरा ख्याल रख रहें है। ताकि कोराना का असर उनके करियर पर ना पड़े। हमारी पूरी कोशिश है की लिंग्याज यूनिवर्सिटी में जो भी बच्चें दाखिला लें उन्हें थ्योरी के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज भी मिले। इतना ही नहीं हम बच्चों के लिए वेबिनार, सेमिनार, वर्कशॉप, गेस्ट लेक्चर के जरिए भी बच्चों का मार्गदर्शन किया जाता है। प्रोफेसर इकबाल ने बताया कि हम र्वचुअल के जरिए ऑनलाइन इन्डस्ट्रीअलविजिट भी कराते हैं। इतना ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए ऑनलाइन इन्डस्ट्रीअल लाइव प्रोजेक्टस भी लाते हैं। यदि उस बच्चों का ये प्रोजेक्ट कंपनी अपरूव कर देती है तो उसे कंपनी जॉब भी ऑफर करती है। हम अपनी तरफ से बच्चों को पूरी नॉलेज देने की कोशिश करते है। ताकि बच्चें का भविष्य उज्वल हो सके।

कौन-कौन सेकोर्सेज कराती हैं लिंग्याजयूनिवर्सिटीऔर कितनी सिटे हैं

कोर्स नाम                                      सिटे               कितने साल है कोर्सबी.टेक (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग)              240               4 साल

बी.टेक इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग/ EEE  90                4 साल

बी.टेक इन सिविल इंजीनियरिंग                     120               4 साल

बी.टेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग                      180               4 साल

बीसीए                                        30                3 साल

एमसीए                                        30                3 साल

बैचलर ऑफ़ आर्किटेक्चर                           20                5 साल

बैचलर ऑफ़ डिजाइन (आर्किटेक्चर)                                     4 साल

डिप्लोमा इंन फार्मेसी                             60                2 साल

बैचलर इंन फार्मेसी                               60                4 साल

स्कूल ऑफ कॉमर्स  मैनेजमेंट                          300

स्कूल ऑफ बेसिक एंड एपलाइड साइंस               90

स्कूल ऑफ लॉ                                  180

Posted by: | Posted on: 1 month ago

यूनिवर्सल अस्पताल फरीदाबाद ने ईसीएमओ मशीन द्वारा सांस की तकलीफ का सफल इजाज कर बचाई महिला की जान

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। यूनिवर्सल अस्पताल में सांस की गंभीर तकलीफ को लेकर आई एक बुजुर्ग महिला का ईसीएमओ मशीन द्वारा सात दिन में सफल इलाज कर उसकी जान बचाई गई। अब वे पूरी तरह स्वस्थ हो गई हैं तथा एक-दो दिन के बाद घर जा सकेंगी।
अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डा. शैलेश जैन ने बताया कि सविता कुमारी जिनकी उम्र 76 साल है, पलवल के पास बामनीखेड़ा की रहने वाली हैं। वे सांस लेने में हो रही तकलीफ के चलते यूनिवर्सल अस्पताल आई थीं। यूनिर्वसल अस्पताल में आने से पहले इन्होंने किसी दूसरे अस्पताल में चैकअप कराया था जहां उनका कोराना संक्रमण का टेस्ट कराया गया था जो नेगेटिव आया था लेकिन इनको वहां इलाज के बाद भी सांस लेने में आराम नहीं मिला तो वे यूनिर्वसल अस्पताल में आईं। यूनिवर्सल अस्पताल में इनका सीटी स्कैन व अन्य जांचें की गईं तथा कोरोना संक्रमण की भी फिर से जांच कराई तो वे कोरोना पॉजीटीव पाई गईं। जब ये यहां पहुंची तो इनका ऑक्सीजन लेवल 85 से 90 के बीच था, जो और घटकर 70 के आसपास आ गया। इस दौरान इनको एनआईवी के द्वारा सांस दी गईं तथा ऑक्सीजन लेबल बेहतर नहीं होने पर तय किया गया कि इनको वेंटीलेटर पर लिया जाए। वेंटीलेटर पर लेने से पहले इनके साथ आए परिजन से गहन विचार-विमर्श किया और विचार-विमर्श के बाद अस्पताल के डॉक्टर शैलेश जैन व डा. पारितोष मिश्रा ने उनको बताया कि इनका ईसीएमओ डिवाइस – एक्स्ट्रा-कॉरपोरियल मैम्ब्रेन ऑक्सीजेनेयसन यानि कि ईसीएमओ डिवाइस लाइफ सपोर्ट सिस्टम कहलाता है, के जरिये इलाज संभव है। उनकी सहमति के बाद उनका इस मशीन द्वारा दलाज शुरू किया गया। यह मशीन शरीर को उस वक्त ऑक्सीजन सप्लाई करता है, जब मरीज के फेफड़े या दिल काम नहीं कर पाते हैं। जब मरीज को प्राकृतिक तरीके से सांस लेने में परेशानी हो रही हो, तब ईसीएमओ डिवाइस का इस्तेमाल किया जाता है। कृत्रिम लंग मशीन पर रखने पर इनका ऑक्सीजन लेवल 95 तक आ गया और जैसे-जैसे इनका ऑक्सीजन लेवल बढ़ता गया उसके बाद धीरे-धीरे इकमो मशीन को बंद कर दिया गया।
डा. जैन ने बताया कि ईसीएमओ का इस्तेमाल तह किया जाता है जह मरीज को सांस लेने में परेशानी हो। यह मशीन नसों में बह रहे खून के जरिये काम करती है। इसमें शरीर के किसी एक नस से खून निकालकर उसे मशीन से जोड़ दिया जाता है जिससे कि बायपास तरीके से खून पूरे शरीर में प्रवाहित होता है। यह मशीन खून को हार्ट और लंग से भी बायपास करने देती है। जब पेशंट को ईसीएमओ से कनेक्ट किया जाता है, तह ट्यूबिंग के जरिये खून का प्रवाह लंग में होता है, जिससे यह मशीन खून में ऑक्सीजन जोड़ती है और कार्बन डाइऑक्साइड को हटा देती है। ऐसा करने से बॉडी टेम्प्रेचर के हिसाब से खून गर्म होता है और शरीर में वापस पंप किया जाता है। ईसीएमओ मशीन उन मरीजों की जान बचाने के काम आती है जिन्हें वेंटिलेटर से भी राहत नहीं मिलती है।


डा. जैन ने बताया कि ईसीएमओ के जरिये दिल के हाई रिस्क मरीजों के सफल ऑपरेशन की संभावनाएं होती हैं। हार्ट अटैक होने की वजह से दिल की मांसपेशियां खराब हो जाती हैं। सर्जरी के बाद भी खतरा बना रहता है। उन्होंने बताया कि सही तरह से पंपिंग न होने से फेफड़ों में खून नहीं पहुंचता है, जिससे फेफड़े काम करना बंद कर देते हैं। ऐसे में ईसीएमओ मशीन की मदद से फेफड़ों में ऑक्सीजन पहुंचाया जाता है, जिससे कि मरीज की हालत में सुधार होता है। डा. जैन ने बताया कि ईसीओमओ के जरिये 70 फीसदी हाई रिस्क मरीजों की जिंदगी बचाया जा सकता है। इस मशीन को चलाने के लिए ट्रेंड स्टाफ की जरूरत होती है। इस मशीन की कीमत करीब 30 से 35 लाख रुपए है। आपरेशन करने वाली टीम में डा. शैलेश जैन, डा. पारितोष मिश्रा, डा. राहुल चंदीला व डा. पवन शामिल रहे। इस सफल आपरेशन के लिए अस्पताल की मेडिकल डायरेक्टर डा. नीति अग्रवाल ने आपरेशन टीम को बधाई दी।

Posted by: | Posted on: 1 month ago

अनुपम पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल होडल ने 10वी के रिजल्ट में इतिहास रचा

अनुपम पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल होडल ने 10वी के रिजल्ट में इतिहास रचा

Posted by: | Posted on: 1 month ago

NVN School भिडूकी ने फैसला किया है कि CORONA की वजह से किसी छात्र की माता या पिता की दुर्भाग्यपूर्ण म्रत्यु हुई हो तो ऐसी स्थिति में अगले 3 वर्ष तक बच्चे की Tution fees 100% माफ कर दी जाएगी

NVN School ने फैसला किया है कि CORONA की वजह से किसी छात्र की माता या पिता की दुर्भाग्यपूर्ण म्रत्यु हुई हो तो ऐसी स्थिति में अगले 3 वर्ष तक बच्चे की Tution fees 100% माफ कर दी जाएगी

3 वर्ष के बाद बच्चे के परिवार की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए आगे फीस माफी पर विचार किया जाएगा।

स्कूल प्रिंसिपल कुसुम चौधरी ने बताया कि इस समय NVN School में लगभग 50 बच्चो की आर्थिक अथवा सामाजिक आधार पर कई तरह की रियायतें दी जा रही है।

CORONA संकट की वज़ह से बजट स्कूलों को बड़े आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसके बावजूद NVN स्कूल का हर संभव प्रयास है कि यथासंभव, जरूरतमंद बच्चो को मदद की जाए।

#StudentFeesConcession

Posted by: | Posted on: 1 month ago

गुरुनानक हॉस्पिटल पलवल

गुरुनानक हॉस्पिटल पलवल