मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की

now browsing by tag

 
32वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड षिल्प मेले में आज हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी पहुंचे awesome blog company environment magazine music new technology आदर्श महिला महाविद्यालय के चुनाव में महासचिव पद के लिए अशोक बुवानीवाला एवं कोषाध्यक्ष पद के लिए सुंदरलाल अग्रवाल लगातार दूसरी बार विजयी रहें उद्योग मंत्री विपुल गोयल के उपहारों से पीएम राहत कोष के लिए एकत्र हुए ढाई करोड़ एमवीएन विश्वविद्यालय एम वी एन विश्वविद्यालय के तत्वाधान में एम वी एन स्कूल के सभागार कक्ष में विश्वविद्यालय द्वारा अंतिम वर्ष के छात्र/छात्राओं के लिए विदाई समारोह का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया एमवीएन विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ लॉ के छात्रों ने भारतीय संसद के लोकसभा एम वी एन विश्वविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस मनाया गया एमवीएन विश्वविद्यालय में महामहिम राज्यपाल द्वारा विश्वविद्यालय के 445 विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की जायेगी ऑफिस हो कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल की अपील पर सभी धर्म के लोगों ने धार्मिक स्थलों पर फहराया तिरंगा कॉलेज हो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पलवल टैगोर पब्लिक स्कूल टैगोर पब्लिक स्कूल की छात्रा दीक्षा तिवारी ने खेल टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक प्राप्त करके स्कूल का नाम रोशन किया तरुण निकेतन पब्लिक स्कूल दा न्यू ऐज सी॰ से॰ स्कूल-रोनीजा पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल की विधानसभा को मिलकर बनाएंगे क्लीन एंड ग्रीन- संजय बत्रा पल्ला नंबर 1 पूर्व विधायक आनन्द कौशिक ने परिवर्तन बस यात्रा का भव्य स्वागतभीड़ देख गदगद हुए गुलाम नबी आजाद प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है फैशन एंड लाइफस्टाइल एग्जीबिशन रेडिसन ब्लू में 13 फरवरी को :-नूपुर गुप्ता बाल कल्याण पब्लिक सीनियर सेकंडरी स्कूल का रिजल्ट रहा अच्छा ब्लयू एंजिल ग्लोबल स्कूल में क्रिसमस समारोह का आयोजन किया गया भाजपा सरकार में कर्मचारियों को लाठियों के रुप में मिले अच्छे दिन : विकास चौधरी मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल मानव रचना शैक्षणिक संस्थान ने फरीदाबाद पुलिस को भेंट की स्कॉर्पियो कार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदक विधायक नगेन्द्र भडाना ने राजीव कालोनी में लक्ष्मी डेयरी वाली गली में बनने वाली सीमेटिड सडक का विधिवत शुभारंभ किया विधायक मूलचंद शर्मा के भाई टीपरचंद शर्मा ने आज बल्लबगढ़ विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों का निरिक्षण किया और कमी पाए जाने पर अधिकारीयों को जमकर लताड़ लगायी विधायक मूलचंद शर्मा ने बल्लबगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वार्ड न- 36 में 33 लाख रूपये की लागत से बनने वाली  रोड के कार्य का नारियल फोड़कर शुभारम्भ किया वृंदा इंटरनेशनल स्कूल में मातृदिवस के अवसर पर माँ का महत्व बताया :- विजय लक्ष्मी शक्तिपीठ पब्लिक स्कूल ने मनाया क्रिसमस सतयुग दर्शन ट्रस्ट द्वारा आयोजित मानवता-फेस्ट-2018 सतयुग दर्शन वसुन्धरा में रामनवमी यज्ञ महोत्सव पर - विशाल शोभा-यात्रा का आयोजन हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के जिला प्रधान बने राजेन्द्र दहिया होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल ने सामाजिक दायित्व निभाते नेत्रहीन खिलाड़ियों को 10 हज़ार रुपये का चेक भेंट किया
 
Posted by: | Posted on: September 8, 2018

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पत्रकारों के साथ 76 रूपये प्रति साधारण थाली का भोजन किया

नई दिल्ली(विनोद वैष्णव ) | हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने अपनी सादगी का पयिचय देते हुए नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन की  कैंटिन में पत्रकारों के साथ 76 रूपये प्रति साधारण थाली का भोजन किया।उल्लेखनीय है कि नई दिल्ली में भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारी समिति की बैठक में भाग लेने के लिए नई दिल्ली आगमन पर हरियाणा भवन में ठहराव के दौरान मुख्यमंत्री कक्ष में पत्रकारों के साथ एक अनौपचारिक मुलाकात के दौरान शिष्टाचार स्वरूप हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पत्रकारों से कहा ” क्या आपने दोपहर का भोजन कर लिया है”। पत्रकारों ने कहा ” अभी उन्होंने दोपहर का भोजन नहीं किया है” तो मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से हरियाणा भवन की कैंटिन में दोपहर का भोजन साथ में करने का आग्रह किया।
दोपहर का भोजन साथ में करने के आग्रह पर पत्रकारों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में सत्कार संगठन,हरियाणा की कैंटिन में दोपहर का भोजन किया। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने अपने सरल व्यक्तितव का परिचय देते हुए पत्रकारों के साथ दोपहर के भोजन में 76 रूपये प्रति साधारण थाली का भोजन किया। दोपहर के भोजन के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री के साथ उनके मीडिया सलाहकार अमित आर्य भी थे।

Posted by: | Posted on: April 8, 2018

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रोहतक में राज्य के व्यापारियों को विभिन्न सौगातों के तोहफे दिए

चण्डीगढ़( विनोद वैष्णव )- हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने  रोहतक में राज्य के व्यापारियों को विभिन्न सौगातों के तोहफे दिए, जिनमें मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में व्यापारियों को 5 लाख रुपये के बीमे की सुविधा, व्यापारी कल्याण बोर्ड की समितियां बनाने, व्यापारियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए उनके स्टॉक व भवन के अनुरूप 5 से 25 लाख तक की क्षतिपूर्ति योजना, व्यापारियों को 20 प्रतिशत कम कलेक्टर रेट पर दुकानों को अपने नाम करवाने की सुविधा, व्यापारियों को 20 साल पुराने वैध कब्जों को आज के रेट के आधार पर अपने नाम रजिस्ट्री करवाने की सुविधा, मंडियों में व्यापारियों की सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगवाने, टेंट व्यापारियों की शहरों में एंट्री संबंधी समस्या का समाधान जिला समितियों के माध्यम से करवाने की घोषणाएं की। 
मुख्यमंत्री  मनोहर लाल आज रोहतक में आयोजित विराट व्यापारी सम्मेलन को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में व्यापारियों को 5 लाख रुपये के बीमे की सुविधा प्रदान की जाएगी और इसका प्रीमियम व्यापारी कल्याण बोर्ड व प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से वहन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड में पंजीकरण करवाने वाले सभी व्यापारियों को इसका लाभ मिलेगा और बीमे का प्रीमियम भी व्यापारी कल्याण बोर्ड व प्रदेश सरकार द्वारा आधा-आधा वहन किया जाएगा।  इसके अलावा, मु यमंत्री ने घोषणा की कि व्यापारियों की सुविधाओं और उनकी समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए जिला स्तर पर भी व्यापारी कल्याण बोर्ड की समितियां बनाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए उनके स्टॉक व भवन के अनुरूप 5 से 25 लाख तक की क्षतिपूर्ति योजना बनाई जाएगी। इसके लिए बीमा कंपनियों से बात की जाएगी जिसका प्रीमियम भी व्यापारी कल्याण बोर्ड व सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।       
  उन्होंने व्यापारियों को 20 प्रतिशत कम कलेक्टर रेट पर दुकानों को अपने नाम करवाने की सुविधा देने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को 20 साल पुराने वैध कब्जों को आज के रेट के आधार पर अपने नाम रजिस्ट्री करवाने की सुविधा भी सरकार देगी। व्यापारी कल्याण बोर्ड की मांग पर मु यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलों के बाजारों तथा मंडियों में व्यापारियों की सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बाजारों में शहरी स्थानीय निकाय तथा मंडियों में मार्केटिंग बोर्ड द्वारा सीसीटीवी लगवाने का कार्य करवाया जाएगा। इसी प्रकार टेंट व्यापारियों की शहरों में एंट्री संबंधी समस्या का समाधान जिला समितियों के माध्यम से करवाया जाएगा।   मु यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि व्यापारियों को जोखिम मुक्त माहौल प्रदान करने की दिशा में गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं।  
जीएसटी कम करने की मांगों के संबंध में उन्होंने व्यापारियों को भरोसा दिलाया कि वे उनकी सभी मांगें जीएसटी काउंसिल को भेज देंगे जो इस संबंध में निर्णय लेने वाली अखिल भारतीय संस्था है। इसी प्रकार, वाहनों की वहन क्षमता को बढ़ाने की मांग को भी उन्होंने केंद्र सरकार के पास भिजवाने का आश्वासन दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे भी आपकी तरह 8 साल तक व्यापार करने का अनुभव रहा है जिसके चलते मैं व्यापारियों की समस्याओं को समझता हूं। अनेक पुराने मसलों को एक बार में ही खत्म करने के लिए प्रदेश सरकार वन टाइम स्कीम के अंतर्गत प्रदेशवासियों को बड़ी राहत देगी। प्रदेश में व्यापारियों को स्वच्छ व डर रहित माहौल देने का काम हमने किया है। पूर्व की सरकारों में व्यापारियों से फिरौतियां मांगी जाती थीं, उन्हें डराया-धमकाया जाता था और जेलों से उनके लिए आदेश आते थे। इन सब अपराधियों को सरकार में बैठे व्यक्तियों का संरक्षण प्राप्त होता था। हमने व्यापार व उद्योग फले-फुले, ऐसा वातावरण व्यापारियों को दिया है।
उन्होंने कहा कि व्यापारियों की सुविधा के लिए तथा उन्हें इंस्पेक्टरी राज से मुक्ति दिलाने के लिए पिछले साढ़े तीन साल में अनेक कार्य किए गए हैं। अनेक व्यवस्थाओं को ऑनलाइन किया गया है। ई-टेंडरिंग व ई-असेसमेंट की सुविधा के अलावा व्यापारी ऑनलाइन अपील भी कर सकते हैं और उन्हें कार्यालयोंं के चक्कर काटने से निजात दिलवाई गई है। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को सुविधाएं देने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित किया जाने वाला यह दूसरा सम्मेलन है जबकि इससे पहले शायद ही किसी सरकार ने व्यापारियों की मांगों पर विचार के लिए ऐसे स मेलन किए हों। उन्होंने व्यापारियों को देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी बताते हुए इन्हें सरकार के लिए टैक्स संग्रह करने वाला महत्वपूर्ण स्रोत बताया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा को देश का मॉडल राज्य बनाया जाएगा जिसके लिए उन्होंने व्यापारियों से सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि 2014 में जब भाजपा ने सत्ता संभाली थी तो प्रदेश ईज ऑफ डूइंग (उद्योग-धंधों की स्थापना में सहुलियतें देने के मामलों) में 14वें स्थान था जो 2016 में छठे स्थान पर पहुंचा। इस समय अप्रैल में फिर से इसकी रैंकिंग का कार्य चल रहा है जिसमें हम दूसरे स्थान पर पहुंच चुके हैं और जल्द ही हमारी नीतियों के चलते हम इस मामले में देश में पहले नंबर पर होंगे।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बीबीसी (बदली, भरती और सीएलयू) की सरकार नहीं है बल्कि सबका साथ-सबका विकास तथा हरियाणा एक-हरियाणवी एक की भावना के साथ पूरे प्रदेश का समान विकास करने वाली सरकार है। वर्तमान सरकार ने हरियाणा को देश का पहला कैरोसिन मुक्त राज्य बनाया है। प्रदेश के हर घर में उज्ज्वला योजना के तहत गैस सिलेंडर पहुंचाया गया है। सरकार ने पारदर्शी तबादला नीति लागू करके भ्रष्टाचार पर प्रहार किया है। उन्होंने जिक्र किया कि अभी हाल ही में भर्तियों के लिए पैसे लेने वाले एक बड़े गिरोह को पकड़ा गया है जिसे हमने जेल की सलाखों के पीछे भिजवाने का काम किया है। भ्रष्टाचार प्रदेश के किसी भी कोने में हो, हम उसे निकाल बाहर करेंगे।
सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने वर्तमान सरकार को व्यापारी, किसान और मजदूर की हितैषी सरकार बताया जिनके सामूहिक प्रयासों से ही देश आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग हर वर्ग का भला चाहता है और हमेशा यही दुआ करता है कि किसान खुशहाल बने। समाज की उन्नति में ही अपनी उन्नति देखने वाले व्यापारी वर्ग की भलाई के लिए प्रदेश सरकार दिन-रात काम कर रही है। प्रदेश में व्यापार के लिए स्वस्थ माहौल बनाने के लिए उन्होंने प्रदेश सरकार के प्रयासों की खुलकर सराहना की।
शिक्षामंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा ने रोहतक को अपनी कर्मभूमि बताते हुए बताया कि इसी धरती पर प्रदेश का शांतिपूर्ण वातावरण व आपसी भाईचारा खराब करने का षड्यंत्र रचा गया था जिसमें वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु का घर भी जल गया था। लेकिन प्रदेश सरकार ने तत्परता दिखाते हुए उपद्रवियों द्वारा जलाई गई 2476 दुकानों के मालिकों को एक माह के भीतर 102 करोड़ रुपये का मुआवजा वितरित किया और उनके जख्मों पर मरहम लगाया। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग ग्रामीण क्षेत्र व किसान वर्ग के साथ-साथ समाज व धर्म की भलाई में लगा रहता है और भाजपा इनकी भलाई में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार पहली ऐसी सरकार है जिसने प्रदेश में सरसों की सरकारी खरीद शुरू करवाई है। उन्होंने कहा कि यह सरकार हर दुख-दर्द में 24 घंटे व्यापारियों के साथ खड़ी है।
        वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि इतिहास में इतना बड़ा व्यापारी सम्मेलन आज तक किसी सरकार द्वारा आयोजित नहीं किया गया जबकि वर्तमान सरकार द्वारा यह दूसरा सम्मेलन है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में व्यापारियों के प्रतिष्ठानों पर बुरी नजर रखी जाती थीं, उन्हें डराया-धमकाया जाता था और उनसे फिरौतियां वसूली जाती थीं। पूर्व में सरकार चलाने वाले रहनुमाओं ने ही अपनी सरकार न बनने के दुख में व्यापारियों पर जुल्म ढाया और उनकी दुकानें जला दी गई अथवा लूट ली गई। लेकिन वर्तमान सरकार आने के बाद व्यापारी भयमुक्त होकर अपना कारोबार कर रहे हैं।
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने कहा कि मैं रोहतक की बेटी हूं और व्यापारी परिवार में जन्मी हूं। इस नाते रोहतक में आयोजित व्यापारियों के इस सम्मेलन के लिए सभी को बधाई देती हूं। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग सदियों से देश-प्रदेश को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता आया है। वह अर्थव्यवस्था का अहम हिस्सा रहा है जिसने महाराज अग्रसेन के सिद्धांत को आगे बढ़ाते हुए हमेशा समाजवाद को मजबूत किया है। देशहित में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कड़े फैसलों में भी व्यापारी खुश होकर सहयोग करते हैं और अपनी राष्ट्रप्रेम की भावना का परिचय देते हैं। व्यापारियों के हितों के लिए पूर्ववर्ती सरकारों के समक्ष भी व्यापारी कल्याण बोर्ड के गठन की मांग समय-समय पर रखी गई लेकिन इसे पूरा करने का कार्य वर्तमान सरकार द्वारा ही किया गया। उन्होंने सरकार द्वारा व्यापारियों के हित में शुरू की गई अनेक योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। 
उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने सफल आयोजन की बधाई देते हुए रोहतक की भूमि को समरसता का प्रतीक बताया। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार व्यापारियों के हितों पर पूरी तरह से खरी उतरी है।
सहकारिता राज्यमंत्री व सम्मेलन के आयोजक मनीष ग्रोवर ने कहा कि जिस प्रकार मुख्यमंत्री के सम्मान में पूरे प्रदेश के व्यापारी यहां आए हैं, उसी प्रकार मुख्यमंत्री भी व्यापारियों के हितों में निर्णय लेने से कभी कोर-कसर नहीं छोड़ते हैं। उन्होंने कहा कि व्यापारियों के हितों के लिए ही मुख्यमंत्री ने हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किया है। ऐसा कार्य आज तक कोई सरकार नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने प्रदेश से बदमाशों को खत्म करते हुए गुंडाराज व भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने का काम किया है।
व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन गोपालशरण गर्ग ने मुख्यमंत्री व अन्य मंत्रियों का स्वागत करते हुए व्यापारियों की ओर से मांगपत्र पढ़ा। उन्होंने कहा कि देश को आजाद हुए 70 साल हो चुके हैं लेकिन आज तक किसी सरकार ने व्यापारियों की सुध नहीं ली। वर्तमान सरकार ने अपने साढ़े तीन साल में ही व्यापारियों की भलाई के लिए अनेक फैसले लिए हैं। व्यापारियों व सरकार के बीच कड़ी के रूप में हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किया गया है जो एक सराहनीय कदम है। उन्होंने कैबिनेट के अधिकतर मंत्रियों के साथ सम्मेलन में आने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विशेष रूप से आभार व्यक्त किया।
 सम्मेलन को संबोधित करते हुए परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि अपनी मांगों व समस्याओं के लिए सडक़ों पर उतरने पर पूर्ववर्ती सरकारों द्वारा व्यापारियों पर लाठीचार्ज किया जाता था लेकिन वर्तमान सरकार के कार्यकाल में ऐसा एक भी मामला सामने नहीं आया है। व्यापारियों व उद्योगपतियों की सुविधा के लिए एक सप्ताह के भीतर बिजली कनेक्शन मिलता है और उनके हित सरकार के हाथों में पूरी तरह से सुरक्षित हैं।
      व्यापारी सम्मेलन को श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी, सांसद रमेश कौशिक, रेवाड़ी विधायक रणधीर सिंह कापड़ीवास तथा लाडवा विधायक पवन सैनी सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने भी संबोधित किया। सम्मेलन के दौरान हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड, प्रदेश भर के विभिन्न व्यापार मंडलों, संघों व एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया व उनका आभार जताया।
     इस अवसर पर भाजपा के संगठन मंत्री सुरेश भट्ट, विधायक लतिका शर्मा, हिसार विधायक डॉ. कमल गुप्ता, बहादुरगढ़ विधायक नरेश कौशिक, कुलवंत बाजीगर, घनश्याम सर्राफ, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन, व्यापारी कल्याण बोर्ड सदस्य रवि सैनी, सतीश जोशी, प्रदेश महासचिव संजय भाटिया, गौसेवा आयोग के चेयरमैन भानीराम मंगला, गुलशन भाटिया, रत्नेश बंसल, अरुण सर्राफ, जोगेंद्र वर्मा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति व व्यापारी उपस्थित थे
Posted by: | Posted on: April 4, 2018

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि प्रदेश सरकार जल्द ग्रुप डी के 38 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रही है

चंडीगढ( विनोद वैष्णव )- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि प्रदेश सरकार जल्द ग्रुप डी के 38 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रही है, जिसमें विशेष रूप से गरीब समाज के युवाओं को रोजगार अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा में ऐसी सरकार बनाने की परंपरा थी, जो योग्य युवाओं का हक मारकर 35 वर्षों के लिए अयोग्य लोगों को भर्ती करते रहे थे। लेकिन भाजपा सरकार ने इस परंपरा को बंद करते हुए बैकलाग को भी भरने की दिशा में अहम कदम उठाया है।
मुख्यमंत्री आज अपने आवास पर प्रदेशभर से आए वाल्मीकि समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर रहे थे। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी, विधायक संतोष सारवान, बिशंभर वाल्मीकि, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार दीपक मंगला, मुख्यमंत्री के निजी सचिव राजेश गोयल, भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव जैन, भाजपा प्रदेश एससी मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं हरियाणा सफाई कर्मचारी आयोग चेयरमैन रामअवतार वाल्मीकि की मौजूदगी में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने समाज से जुड़े लोगों का एक-एक कर परिचय लिया तथा आत्मीयता के साथ मुलाकात की। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने रोजगार एवं शिक्षा क्षेत्र में बरसों से बिगडी व्यवस्था को सुधारा है। पूर्व सरकारें जिस प्रकार अयोग्य लोगों को 35 वर्षों तक प्रदेश की जनता पर थोपकर योग्य युवाओं के भविष्य को अंधकारमय करते थे। आज हमने पारदर्शी व्यवस्था देते हुए युवाओं को मेरिट के आधार पर नौकरी देने की व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि शिक्षा क्षेत्र में भी बिना पढाई के ही विद्यार्थी अगली कक्षा में पहुंच जाते थे, लेकिन हम एक बार फिर से आठवीं का बोर्ड शुरू करने जा रहे हैं। 
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार गरीब एवं पिछडा वर्ग के हित के लिए दशकों से उनकी बैकलाग को भरने की मांग को पूरा करने जा रहे हैं और इस संबंध में मुख्य सचिव को विशेष भर्ती निकालने के आदेश दिए जा चुके है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने निर्णय लिया है कि भविष्य में सफाईकर्मी और चौकीदार के लिए शैक्षणिक शर्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि 11 जिलों में समाज के युवाओं को अच्छी शिक्षा के लिए हास्टल का निर्माण, 7 जिलों में अंत्योदय सेवा केंद्र प्रारंभ किए जाएंगे। इसके बाद अंत्योदय सेवा केंद्र सभी जिलों में खोलते हुए उपमंडल स्तर पर शुरू करने की योजना है।
इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दिल में गरीबों के प्रति जो दर्द है उसको शब्दों में व्यक्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि गत 24 अक्तूबर को मुख्यमंत्री ने वाल्मिकी सम्मेलन में जो घोषणाएं की थी वो लगभग पूरी हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों ने वाल्मिकी समाज को केवल गुमराह करने का काम किया है जबकि 21 साल बाद वर्तमान सरकार के कार्यकाल में ही इस समाज को उचित प्रतिनिधित्व मिला है।
समुदाय के लोगों ने कैथल में महर्षि वाल्मीकि के नाम पर संस्कृत विश्वविद्यालय खोलने, हरियाणा सफाई आयोग का गठन करने, गांव मिर्चपुर के पीडित वाल्मीकि समुदाय के लोगों के रहने के लिए गांव ढंढूर में साढे सात एकड़ जमीन पर प्लाट देने, ठेके के आधार पर की जाने वाली भर्तियों में आरक्षण का प्रावधान शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार जताया। यही नहीं लोगों ने योग्यता के आधार पर नौकरी देने, पढ़ी-लिखी पंचायतें बनाने, सफाई कर्मचारियों के वेतन में 1900 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी करने व विकास कार्यों में पारदर्शिता लाने जैसे काम गिनवाते हुए कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में गरीब का सरकार व प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ा है। इस मौके पर हरियाणा सफाई कर्मचारी आयोग वाइस-चेयरमैन कृष्ण कुमार, सदस्य रामफल लोहट, चंद्रप्रकाश बोसती, मोहनलाल बदन, आजाद सिंह व सुनीता अरड़ाना भी मौजूद रहे।
Posted by: | Posted on: February 6, 2018

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की

चंडीगढ़ ( विनोद वैष्णव )- हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की है। इस योजना के किसानों को पशुओं के गोबर से जैविक खाद और गोमूत्र की बिक्री का प्रावधान शामिल है। उन्होंने कहा कि किसानों को इस योजना के तहत प्रोजेक्टों का लाभ देने के लिए 11 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
मुख्यमंत्री  मनोहर लाल आज सोनीपत जिले के गोहाना उपमंडल के गांव निजामपुर में किसान सम्मान समारोह में ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे।
केंद्रीय बजट की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बजट आशाओं के अनुरूप रहा है। इसमें दिए प्रावधानों के तहत किसानों की आय डबल होगी और अगली बार एमएसपी पर 50 प्रतिशत लाभ जोडक़र देंगे। विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पिछली सरकार स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने की बात कर रही थी लेकिन हमने इससे भी बढक़र काम किया है। उन्होंने कहा कि किसानों को सस्ता ऋण दिया जा रहा है और चार प्रतिशत ब्याज सरकार वहन कर रही है। उन्होंने कहा कि आज विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकारों के कार्यकाल में किसानों को फसल खराब होने पर दो-दो रुपये के चैक मिलते थे और आज किसानों को साढ़े पांच लाख रुपये के चैक वितरित किए जा रहे हैं। यह भाजपा सरकार की किसान हितैषी नीतियों के चलते संभव हो पाया है। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत फसल खराब होने की एवज में छपरा गांव के किसान संत कुमार को 5 लाख 43 हजार 559 रुपये, रोहताश निवासी निजामपुर को 3 लाख 45 हजार 726 रुपये, राममेहर को दो लाख 04 हजार 771 रुपये, धर्मवीर को एक लाख 74 हजार 55 रुपये तथा बलवंत को एक लाख 63 हजार 817 रुपये के चैक वितरित किए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने 481.51 लाख रुपये की लागत से बने भैसवाल कलां सीएससी का उद्घाटन भी किया।
श्री मनोहर लाल ने कहा कि कृषि और किसानों का विकास सरकार की पहली प्राथमिकता है। बागवानी को बढ़ावा देने के लिए 570 करोड़ रुपये की लागत से प्रदेश में फसल समूह विकास कार्यक्रम शुरू किया है और इसके तहत 1940 क्लस्टर शुरू किए गए हैं। इन क्लस्टरों में बागवानी के लिए एक ही फसल के उत्पादन को बढ़ावा दिया जा रहा है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि अब किसानों का घाटा हम सहन करेंगे और मुनाफा किसान के पास रहेगा। इससे पहले खेती में किसानों को कभी लागत से ज्यादा मिलता था और कभी नहीं मिलता था। इसी को देखते हुए सरकार ने भावांतर भरपाई योजना शुरू की है। इस योजना के तहत आलू, टमाटर, गोभी और प्याज का न्यूनतम मूल्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने भी हमारी ही तर्ज पर आपरेशन ग्रीन योजना शुरू की है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में हम गन्ने का भाव पूरे देश में सबसे अधिक 330 रुपये प्रति क्विंटल दे रहे हैं। गेंहू के अलावा मूंग, सूरजमुखी और सरसों सहित सभी फसलों की सरकारी खरीद की गई है। किसानों से खाद्य प्रसंस्करण जैसे उद्योग शुरू करने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि इसके जरिए आप अपनी फसलों को देश में विभिन्न स्थानों और विदेशों में भी बेच सकते हैं। 
श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा किसानों को कृषि व बागवानी में बेहतरीन सुविधाएं देने के लिए कुरुक्षेत्र में उत्कृष्टता केंद्र शुरू किया गया है। इसके साथ ही करनाल, होडल और झज्जर सहित कई स्थानों पर यह केंद्र स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी फसलों का पूरा लाभ मिले और पर्यावरण को भी नुकसान न हो इसके लिए पराली को इकट्ठा करने के लिए उपकरण किसानों को 80 प्रतिशत अनुदान पर देने शुरू किए हैं। उन्होंने कहा कि अब तक प्रदेश में चार हजार 246 उपकरण खरीदे जा चुके हैं। इन उपकरणों के जरिए हम पराली का बिजली और गैस बनाने के लिए प्रयोग करेंगे। 
सोयल हैल्थ कार्ड का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 35 लाख सोयल हैल्थ कार्ड बनाए गए हैं ताकि किसान अपने खेत की उर्वरा शक्ति जानकर पैदावार को बढ़ा सकें। प्रदेश में घटती जोत को चिंता का कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि अब हमें यह स्वीकार करना होगा और खेती के साथ-साथ अतिरिक्त कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि पशुपालन, मत्स्य पालन और खुंबी उत्पादन और सब्जी उत्पादन जैसे कार्य इसमें कारगर साबित हो सकते हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में तालाबों के विकास के लिए तालाब अथारिटी का गठन किया है। इससे प्रदेश के सभी तालाबों का विकास किया जाएगा ताकि इनके पानी का उपयोग सिंचाई में आए। उन्होंने निजामपुर गांव के तालाबों और पेयजल की समस्या के समाधान के लिए दो करोड़ रुपये देने की घोषणा की। इसके साथ ही सभी गांवों की मांगों को भी जांच उपरांत पूरा करने का आश्वासन दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में पहुंची गांव की महिलाओं से उज्ज्वला योजना के लाभ के बारे में पूछा तो कुछ महिलाओं ने सिलेंडर न मिलने की बात कही। इस पर मुख्यमंत्री ने 48 घंटे के अंदर सभी को सिलेंडर उपलब्ध करवाने के लिए जिला उपायुक्त को निर्देश दिए। 
कार्यक्रम में शहरी स्थानीय निकाय, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती कविता जैन ने कहा कि वर्तमान केंद्र व प्रदेश सरकार महिलाओं के विकास के लिए लगातार कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल बाद भी किसान गरीब और जरूरतमंद है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना जैसी योजनाओं ने किसानों की तस्वीर बदलने का काम किया है। उन्होंने कहा कि सरकार बनते ही 2200 करोड़ रुपये का मुआवजा किसानों को दिया गया। यह सरकार गरीब आदमी के बारे में सोचती है और उनके विकास के लिए कार्य करती है। पिछली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका उद्देश्य किसानों, गरीबों, महिलाओं का विकास करना नहीं था बल्कि प्रोपर्टी डीलिंग का कार्य करना था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य दिया है और हम उसे जरूर प्राप्त करेंगे। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि आज हरियाणा में बेटियों की जन्मदर 917 हो गई है। उन्होंने सभी को बेटी बचाने का संकल्प भी दिलवाया। 
इस अवसर पर राष्ट्रीय परिषद कृषि विपणन बोर्ड की चेयरपर्सन एवं पूर्व मंत्री कृष्णा गहलावत, भाजपा जिलाध्यक्ष डा. धर्मवीर नांदल, जिला परिषद चेयरमैन मीना नरवाल, दादा बलजीत मलिक, गुलशन बिरमानी,मंडल अध्यक्ष बलराम कौशिक, नत्था राम सैनी, योगेश अलमादी, जितेंद्र मलिक, डा. ओमप्रकाश शर्मा, शकुंतला शर्मा, भूपेंद्र मोर, निशांत छोक्कर, सूरजमल शर्मा, जितेंद्र नरवाल, सतपाल लठवाल, देवेंद्र सैनी, जिला परिषद उपाध्यक्ष बिजेंद्र कुमार, राजेन्द्र जागलान, निजामपुर के सरपंच मनदीप, माजरा के सरपंच नवीन, रमेश, रामफल चिढाना, उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग, एसपी सतेंद्र गुप्ता सहित काफी संख्या में गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।