September, 2021

now browsing by month

 
Posted by: | Posted on: 8 months ago

सरस्वती शिशु सदन सीनियर सेकेंडरी स्कूल, तिगांव में विश्व ह्रदय दिवस मनाया गया

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव )| सरस्वती शिशु सदन सीनियर सेकेंडरी स्कूल, तिगांव में विश्व ह्रदय दिवस मनाया गया | इस अवसर पर ग्यारहवी तथा बारहवी कक्षा के विज्ञान संकाय के छात्रों ने बढ़चढ़कर भाग लिया | छात्रों ने ह्रदय की बनावट, उसके विभिन्न भागों तथा कार्य प्रणाली की जानकारी दी | विद्यालय की जीव विज्ञान विषय की प्राध्यापिका श्रीमती गरिमा दिक्षित ने हृदय को स्वस्थ रखने के उपाय बताए | अंत में स्कूलकी प्राचार्या श्रीमती गीतांजलि चौधरी ने छात्रों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति (अपने भाषण द्वारा) जागरूक किया |

Posted by: | Posted on: 8 months ago

सीने में दर्द के अलावा और भी संकेत हो सकते है हार्ट अटैक के जानिए डॉ. नीरज जैन से (मैट्रो हृदय संस्थान एवं मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल)

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | हमारे आसपास मौजूद लगभग हर दूसरा व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से ग्रसित है, बस अंतर ये है कि कोई काफी गंभीर बीमारी का शिकार है, तो कोई किसी साधारण बीमारी का। लेकिन आज की दौड़ती-भागती जिंदगी में आपको हार्ट के मरीज काफी संख्या में मिल जाएंगे। दिल से जुड़ी बीमारियां काफी घातक होती हैं और ये अंदर ही अंदर मरीज पर अटैक करती हैं। हर साल 29 सितंबर के दिन विश्व हार्ट डे मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य होता है कि लोगों को दिल से जुड़ी बीमारियों के प्रति जागरूक करना, उन्हें बताना कि वे कैसे अपने दिल का ख्याल रख सकते हैं क्योंकि जब दिल सुरक्षित रहेगा, तभी व्यक्ति स्वस्थ रह पाएगा। आमतौर पर लोग जानते हैं कि जब सीने में दर्द होता है, तभी हार्ट अटैक आने का खतरा हो सकता है। लेकिन हार्ट अटैक के कई और संकेत भी हो सकते हैं, जिन्हें जानना बेहद जरूरी है। तो चलिए आपको इस बारे में बताते हैं।

सांस का फूलना

ये तो हम सभी जानते हैं कि सीने में दर्द होना और सांस लेने में तकलीफ होना, हार्ट के फेल होने का सबसे आम लक्षण है। लेकिन अगर आप कुछ सीढ़ियां चढ़ते ही थक जाते हैं और आपको सांस लेने में दिक्कतें पैदा होती हैं और यहां तक कि बैठने पर भी आपको तकलीफ होती है, तो ऐसे में ये संकेत हो सकता है कि आपको दिल की बीमारी हो सकती है।

पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द

जब दिल का दौरा पड़ता है, तो मरीज को पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है। लेकिन अगर आपको इसके साथ ही सीने में किसी तरह की बेचैनी हो रही है, भारीपन महसूस हो रहा है, मितली या उल्टी करने का मन कर रहा है, तो ये भी हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है।

भूख कम होना, सूजन होना

जब व्यक्ति के हार्ट फेल की स्थिति बढ़ने लगती है, तो उसे भूख कम लगने लगती है, सांस फूलने लगती है, नींद नहीं आती है और नींद बीच मे टूट जाती है, और साथ ही दिल भी बहुत तेजी से धड़कना शुरू कर देता है। कई बार हम इन लक्षणों को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन ये हार्ट के फेल होने के संकेत हो सकते हैं। इसलिए इनका ध्यान रखना चाहिए।

ऐसे रखें अपना ध्यान

  • हार्ट अटैक से बचने के लिए ज्यादा वसा (कैलरी) वाले खाने से बचना चाहिए।
  • दिल को स्वस्थ रखने के लिए

अखरोट, बादाम, अलसी, सोयाबीन और साल्मन मछली का सेवन किया जा सकता है।

  • नियमित रूप से व्यायाम और मेडिटेशन ( हफ्ते में काम से कम पाँच दिन आधा घंटा तेज़ चाल से चलना चाहिए) करना चाहिए
  • धूम्रपान से बचना चाहिए।
  • वजन को नियंत्रण में रखना चाहिए।
  • दिक्कत होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और बिना डॉक्टर की सलाह के दवा का सेवन न करें
Posted by: | Posted on: 8 months ago

देश में चल रहे फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0 अभियान के तहत लिंग्याज विद्यापीठ में हुई दौड़

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के जश्न को मनाने के लिए देश भर में फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0 लांच किया गया था। जिसके अंतर्गत लिंग्याज विद्यापीठ डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी में NSS (राष्ट्रीय सेवा योजना) द्वारा फिटनेस सप्ताह का आगाज किया गया। सप्ताह के प्रथम दिन फ्रीडम रन का आयोजन किया गया। जिसमें 50 प्रतिभागियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। आयोजन का संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर इन इंग्लिश डॉ. रश्मि मनिआर ने किया व इस आयोजन के दौरान स्पोट्स टीचर दीप कुमार ने शपथ दिलवाई। इस दौड़ का शुभारम्भ डाइरेक्टर अकादमिक प्रो. जसकिरण कौर एंव जॉइंट रजिस्ट्रार महेश लाल नौटियाल ने झंडी दिखाकर किया।

दौड़ के दौरान सभी के चेहरों पर उत्साह नजर आया। इस अवसर पर डाइरेक्टर अकादमिक प्रो. जयकिरण कौर ने सभी का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि हमारे लिए सबसे पहले जरूरी है कि हम अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें। अगर हम स्वस्थ होंगे तभी हम अपने जीवन में सफल हो  पायेंगे। अपने लिए समय निकालना बेहद जरूरी है। कम से कम योगा के लिए तो समय जरूर निकाले। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने देश भर में फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0 अभियान चलाया है। जिसके अंतर्गत ही यूनिवर्सिटी में इस दौड़ का आयोजन किया गया है। अंत में NSS (राष्ट्रीय सेवा योजना) कोऑर्डिनेटर डॉ. अंकुर त्यागी ने सभी प्रतिभागियों एवं संचालक समीति के सभी सदस्यों का धन्यवाद करते हुए NSS के सभी छात्र-छात्राओं का प्रोत्साहन बढ़ाते हुए कहां कि फिटनस सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न क्रियाओं का आयोजन किया जायेंगा। जिसमें शारीरिक , मानसिक और आध्यात्मिक रूप से शक्तिशाली बनने की विभिन्न क्रियाओं के विषयों में प्रशिक्षण दिया जाएगा।    

क्या है इसका उद्देशय इसका उद्देश्य कोरोना के समय में लोगों के बीच फिटनेस को लेकर जागरूकता पैदा करना है। सीमा सुरक्षा बल, भारत तिब्बत सीमा पुलिस और केंद्रीय रिजर्व सुरक्षा बल जैसे सशस्त्र संगठन इस दौड़ में हिस्सा ले रहे हैं। इनके साथ भारतीय रेलवे, सीबीएसई और आईसीएसई स्कूल भी जुड़ें है। NSSफिटनेस कॉपोर्रेट प्रोकैम और गोकी भी इससे जुड़ें हुए हैं। इनके अलावा नेहरू युवा केंद्र संगठन और राष्ट्रीय सेवा योजना के 75 लाख स्वंयसेवक तथा देश भर में भारतीय खेल प्राधिकरण के प्रशिक्षु भी इस दौड़ का हिस्सा बने हुए हैं। यदि हम लोगों को इस दौड़ के लिए उत्साहित कर सके तो यह स्वतंत्रता दिवस की भावना के अनुरूप होगा। हमारे प्रधानमंत्री का यह लक्ष्य है कि फिट इंडिया मूवमेंट देश भर में फिटनेस के प्रति एक आंदोलन बने।

Posted by: | Posted on: 8 months ago

आरडी सिटी सोसायटी का भी नगर निगम करेगा टेक ओवर

गुरुग्राम ( दीपक शर्मा ) : मूलभूत सुविधाओं की कमी का दंश झेल रहे आरडी सिटी सोसायटी वासियों को जल्द ही परेशानियों से राहत मिलने वाली है। बिल्डर द्वारा करोड़ों कमाई के बाद भी सुविधाएं नहीं दिए जाने को लेकर लोगों ने नगर निगम की ओर से सोसायटी के टेक ओवर करने का मुद्दा उठाया। जिस पर नगर निगम आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा ने इसके समाधान की बात कही है।

पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख नवीन गोयल आरडी सिटी सोसायटी के लोगों की समस्याओं को सरकार तक पहुंचा रहे हैं। उन्होंने सोसायटी के निवासी संदीप गुप्ता, रिषी अग्रवाल, राकेश गुप्ता, अशोक बंसल व दिनेश गर्ग को साथ लेकर नगर निगम आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा से मुलाकात की और मांग पत्र सौंपा। इसमें सोसायटी के लोगों की ओर से कहा गया है कि यह सोसायटी वर्ष 2003 में अस्तित्व में आई थी। अब 20 साल हो गये हैं, लेकिन इन वर्षों में कालोनी में बिल्डर की ओर से मूलभूत सुविधाओं की पूर्ति नहीं की गई। यहां बिजली, पानी, सड़कों का बुरा हाल है। लोग बहुत परेशान रहते हैं। बिल्डर की ओर से यहां पर किसी समस्या का हल नहीं किया जाता। अब तो हाल यह हो गया है कि यहां नए मकानों की ना तो रजिस्ट्री हो पा रही है और ना ही बिजली के मीटर लगाए जा रहे हैं। डीटीपी की ओर से कह दिया गया है कि कंपलीशन सर्टिफिकेट नहीं देने की वजह से इसका लाइसेंस कैंसिल कर दिया गया है। पीडि़त लोगों का कहना है कि यहां रहने वालों की क्या गलती है। उन्होंने अपनी जीवनभर की कमाई यहां खर्च की है, ताकि सुकून से रह सकें। लेकिन कोई सुकून नहीं मिल पा रहा।

नवीन गोयल ने सभी निवासियों की तरफ से निगमायुक्त से आग्रह किया कि आरडी सिटी का नगर निगम टेक ओवर करके वहां पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराए। इससे नगर निगम का भी राजस्व बढ़ेगा और परेशान जनता को राहत मिल सकेगी। निगमायुक्त ने इस पर सहमति जताई है। साथ ही कहा है कि जल्द ही इस पर कार्यवाही शुरू करेंगे।

Posted by: | Posted on: 8 months ago

एफआईए के वार्षिक आम सभा में कृष्णपाल गुर्जर ने कहा अगर फ्री बिजली-पानी देने लगेंगे तो होगा दुरुपयोग

फरीदाबाद ( पिंकी जोशी ) : केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि सरकार बिजली-पानी फ्री में देने लगेगी तो उसका कितना दुरुपयोग होगा इसकी कल्पना नहीं की जा सकती है। जब किसी चीज के लिए हमें भुगतान ही नहीं करना होगा तो उसका उपयोग कम और दुरुपयोग ज्यादा होगा। केंद्रीय राज्यमंत्री शनिवार शाम सूरजकुंड स्थित एक होटल में फरीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (एफआईए) की 68वीं वार्षिक आम सभा में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। इस मौके पर प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद थे। समारोह में उद्योगपति सुनील गुलाटी को लाइफ टाइम एचीवमेंट सम्मान से नवाजा गया।

समारोह का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। एफआईए प्रधान बीआर भाटिया ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए उनको उद्योगों के समक्ष आने वाली समस्याओं के बारे में बताया। खासकर पानी और आधारभूत ढांचे की कमी के कारण उद्योगों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ती हैं। बीआर भाटिया ने कहा कि उद्योगों में पानी की किल्लत है। उन्होंने सुझाव दिया कि फरीदाबाद मैट्रोपोलेटियन डेवलेपमेंट एथोरिटी द्वारा उपलब्ध करवाए जा रहे पानी को नगर निगम की लाइनों के माध्यम से उद्योगों को आपूर्ति की जाए तो इससे काफी हद तक समस्या का समाधान हो सकता है। श्री भाटिया ने पिछले सप्ताह औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों के निर्माण कार्य के शुभारंभ के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए सेक्टर-चार औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों को भी बनवाने की मांग की।

उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि अगर हमें अच्छी सड़कें, साफ पानी और भरपूर बिजली चाहिए तो उसके लिए भुगतान करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि पिछले सात-आठ सालों में शहर में आपूर्ति के क्या हालात थे, उद्यमियों से बेहतर कौन जान सकता है।बिजली निगम घाटे में चल रहे थे, मगर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से न केवल बिजली निगम घाटे से उबरकर लाभ में आए हैं, बल्कि प्रदेश के अधिकतम गांवों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति हो रही है, जहां कभी 8 घंटे बिजली आती थी। कृष्णपाल गुर्जर ने बताया कि पूरे देश में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन लाख करोड़ का बजट दिया है, मगर इसका लाभ उन्हीं राज्यों को दिया जाएगा जो अपने सिस्टम में सुधार करेंगे। लोगों को फ्री में बिजली देने के लिए तो राज्यों को पैसा नहीं दिया जा सकता।

प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार भविष्य में आने वाली समस्याओं के लिए अभी से समाधान ढूंढ रही है। फरीदाबाद में पानी की किल्लत है, हालांकि रैनीवेल की एक और नई लाइन की टेस्टिंग हो चुकी है और जल्द ही ओल्ड फरीदाबाद जोन में रैनीवेल से आपूर्ति शुरू हो जाएगी। भविष्य में आबादी बढ़ने के साथ ही पानी की मांग भी बढ़ेगी। फरीदाबाद में सुचारू रूप से जलापूर्ति के लिए यमुना पर बैराज बनाने की जरुरत है। पानी के लिए रैनीवेल पर और काम करना पड़ेगा। फरीदाबाद विधानसभा से विधायक नरेंद्र गुप्ता ने बताया कि दीपावली से पहले शहर की सभी सड़कों की मरम्मत कर दी जाएगी। इस मौके पर मुख्य रूप से मंडलायुक्त संजय जून, जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव सहित प्रसिद्ध उद्योगपति केसी लखानी, एफआईए के महासचिव जसमीत सिंह, कोषाध्यक्ष एससी भाटिया, नरेंद्र अग्रवाल, एचएल भूटानी, प्रदीप मोहंती, शम्मी कपूर, एसएस बांगा, वीके मलिक, विजय जिंदल, रमणीक प्रभाकर, जीएस त्यागी, एचके बतरा सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Posted by: | Posted on: 8 months ago

लिंग्याज में मनाया गया वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे

फरीदाबाद ( विनोद वैष्णव ) : हर साल की तरह इस साल भी लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी) यूनिवर्सिटी में वर्ल्‍ड फार्मासिस्ट डे मनाया गया। इस खास अवसर को फार्मेसी ब्लॉक में मनाया गया। जिसके अंतर्गत रंगोली, पोस्टर मेकिंग, स्लोगन राइटिंग, डिबेट व फार्मा क्विज जैसी प्रतिस्प्रधा रखी गई। जिसमें फार्मेसी डिपार्टमेंट के छात्र-छात्राओं ने बड़-चढ़कर भाग लिया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं के छोटे-छोटे समूह बनाकर कोविड एडवाइजरी को ध्यान में रखकर प्रतियोगिता कराई गई। रंगोली में प्रथम स्थान पर यश, सिमरन, सागर व द्वतीय स्थान पर प्राची, कुलदीप, सोनम को पुरस्कृत किया गया। पोस्टर मेकिंग में निधि, ऐकता, जया को प्रथम स्थान व मानस, लवी, रोहित को द्वतीय स्थान प्राप्त हुआ। स्लोगन राइटिंग में इरफान को पहला, सोनम को दूसरा, प्रीती को तीसरा स्थान मिला। डिबेट में प्रिंस को पहला, फिजा दूसरा, निशा को तीसरा स्थान वहीं फार्मा क्विज में प्रिती को पहला, सोनम को दूसरा व लवी को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। इन सभी विजेताओं को जूरी के सदस्यों द्वारा पुरस्कृत किया गया।

स्कूल ऑफ फार्मेसी के डीन डॉ. मुजाहिद का कहना है कि इस प्रतिस्प्रधा के लिए करीब 45 छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन किया था। उन सभी छात्रों से पहले डबल वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट लिया गया है। उसके बाद उन छात्रों को इस प्रतिस्पर्धा में भाग लेने का अवसर दिया गया। कोरोना के चलते बच्चों में हताश ना होने के साथ ही उन्हें प्रोत्साहन के साथ कोरोना से सतर्क रहने की जानकारी भी दी गई। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम को अंजाम देने के लिए हमारे डिपार्टमेंट के सभी फैकल्टीज ने अपना पूरा योगदान दिया। फार्मासिस्ट के योगदान को हम अक्सर नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन इस कोरोना काल के दौरान ये बात हर कोई समझ गया है कि इसके बिना मानव जीवन की कल्पना करना कितना मुश्किल है। इसलिए यह हमारा कर्तव्य है हम फार्मासिस्ट से जुड़े सभी लोगों का सम्मान करें, उन्हें बढ़ावा दें और प्रोत्साहित करें।

Posted by: | Posted on: 8 months ago

मोदी सामाजिक सुरक्षा की गारंटी:- नायब सैनी

मोदी पिछड़ों के मसीहा:-कर्णदेव काम्बोज

कुरुक्षेत्र(विनोद वैष्णव) मोदी सामाजिक सुरक्षा की गारंटी हैं। जितना मोदी नें ओबीसी के उत्थान के लिए काम किया है उतना पहले कभी नहीं हुआ। यह शब्द भारतीय जनता पार्टी ओबीसी मोर्चा के राष्टीय उपाध्यक्ष एवं कुरुक्षेत्र से सांसद नायब सिंह सैनी नें स्थानीय सैनी समाज भवन में ओबीसी मोर्चा हरियाणा द्वारा “सामाजिक सुरक्षा और मोदी जी” विषय पर आयोजित सेमिनार में बोल रहे थे। इससे पहले बैरागी धर्मशाला में एकत्रित भाजपा कार्यकर्त्ताओं नें प्रदेश महामंत्री डॉ पवन सैनी के नेतृत्व में सैनी समाज भवन के गेट पर डटे किसानों को हटाकर सभास्थल सैनी समाज भवन प्रवेश किया। नायब सैनी नें कहा कि चाहे अनुसूचित वर्ग हो या जन जाति, पिछड़ा वर्ग हो या आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग, सभी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नें सामाजिक सुरक्षा दी है। वह चाहे अपनें मन्त्रीमण्डल में पिछड़ा वर्ग को सबसे ज्यादा तरजीह देने का कदम हो या मेडिकल शिक्षा में ओबीसी वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण व आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का फैसला हो।मेडिकल शिक्षा में आरक्षण पिछड़ा वर्ग के बच्चों का डॉक्टर बनने का सपना पूरा करेगा। नायब सैनी नें कहा कि जहाँ मोदी जी नें किसानों को किसान सम्मान निधि के तहत सहायता दी वहीं रबी फसलों के मूल्य में अभूतपूर्व वृद्धि की।उन्होनें कहा कि जितना भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार नें किसानों के उत्थान के लिए काम किये हैं इतना किसी भी सरकार नें नहीं किया।
भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कर्णदेव काम्बोज नें कहा कि मोदी जी पिछड़ों के मसीहा हैं। 2014 तक किसी भी केंद्रीय विश्वविद्यालय में ओबीसी वर्ग से कुलपति नहीं रहा। सर्वप्रथम केंद्र में भाजपा सरकार आने के बाद 2015 में ओबीसी वर्ग से कुलपति की नियुक्ति हुई। इसी तरह किसी भी केंद्रीय विश्वविद्यालय में 2018 तक एक भी प्रोफेसर ओबीसी वर्ग से नहीं था।
उन्होंने आगे बताया कि केंद्र की भाजपा सरकार नें ही नवोदय विद्यालय, सैनिक स्कूल व केंद्रीय लॉ कॉलेज में ओबीसी वर्ग के छात्रों को आरक्षण दिया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में पिछड़ा वर्ग को पंचायत में 8 प्रतिशत आरक्षण देना सामाजिक सुरक्षा देने का काम करेगा।
काम्बोज नें कहा कि भाजपा का मूल मंत्र सेवा ही संगठन है। इसी मंत्र पर चलते हुए भाजपा कार्यकर्त्ता समय समय पर सेवा कार्य करते रहते हैं। वह चाहे कोरोना काल में बीमारों व उनके तीमारदारों को सेवा रसोई के माध्यम से भोजन उपलब्ध कराने का सेवा कार्य हो या कोरोना मरीजों को प्लाज्मा देना हो। इसी क्रम में ओबीसी मोर्चा द्वारा इस वर्ष प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 50 हजार दुग्ध विक्रेताओं का बीमा करवाया जाएगा। इसके साथ ही 17 सितम्बर से 7 अक्टूबर तक बूथ लेवल पर दिव्यांग व्यक्तियों को चिन्हित करके उनकी मदद की जाएगी।
उन्होनें प्रदेश में किसान आंदोलन बारे बोलते हुए कहा कि किसानों के कल्याण के लिए प्रदेश सरकार द्वारा देश में सबसे ज्यादा योजनाएं लाई गई हैं। जहाँ मनोहर सरकार देश में सर्वाधिक 11 फसलों को एम एस पी पर खरीदती है वहीं किसानों के गन्ने को देश में सर्वाधिक 362 रु किवंटल खरीद रही है। उन्होंने बताया कि जहां प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत अब तक 19 लाख 42 हजार किसानों को 2595 करोड़ रु की सहायता की, वहीं फसल बीमा योजना के तहत 18 लाख 15 हजार किसानों को 3961 करोड़ रु का मुआवजा दिया। उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार ने प्राकृतिक आपदा से खराब फसलों का 2765 करोड़ रु व भावान्तर भरपाई योजना में किसानों को 10.12 करोड़ रु मुआवजा दिया। काम्बोज नें बताया कि मनोहर सरकार किसानो को बीज खरीदने पर भी मूल्य में एक हजार से 4 हजार रु किवंटल की छूट दे रही है। उन्होंने कहा कि राजनीति में फ्लॉप विपक्षी नेता किसानों की आड़ में अपनी राजनीति रोटियां सेक रहे हैं। ये लोग किसानों के हितैषी न होकर किसानों के दुश्मन हैं।
प्रदेश महामंत्री डॉ पवन सैनी नें कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार को बनाने में ओबीसी वर्ग का बहुत बड़ा योगदान है। ओबीसी वर्ग भी भाजपा सरकार में अपना हित सुरक्षित महसूस करता है।उन्होंने दावे से कहा कि 2024 में एक बार फिर केंद्र व प्रदेश में ओबीसी वर्ग के सहयोग से भाजपा सरकार बनेगी।
प्रदेश उपाध्यक्ष श्यामलाल जांगड़ा नें मंच संचालन किया।
ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष जसविंदर बहादुरपुर, विधायक सुभाष सुधा, जिलाध्यक्ष राजकुमार सैनी, महामंत्री रामेश्वर प्रजापति व देवेंद्र पांचाल,पूर्व सांसद कैलाशो सैनी नें भी सेमिनार में अपनें विचार रखे।
इस अवसर पर नरेश सैन, प्रिंस धनवाल, मुकेश राठोर,श्यामलाल जांगड़ा, रामदत्त सैनी, फूल सिंह पाल, मीडिया व आई टी प्रमुख हरीश सैनी आदि प्रमुख थे।

Posted by: | Posted on: 8 months ago

एमवीएन विश्वविद्यालय में रसायन संरचना के विषय पर तीन दिवसीय कार्यशाला का सफल आयोजन

  एमवीएन विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज के तत्वाधान में दी आर्ट ऑफ राइटिंग केमिस्ट्री इन इलेक्ट्रॉनिक नोटबुक के विषय पर तीन दिवसीय कार्यशाला का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया जिसमें पूरे भारतवर्ष के विभिन्न विद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों से 286 प्रतिभागियों ने भाग लिया I  कार्यशाला का शुभारंभ विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ० जे.वी. देसाई, उपकुलपति डॉ० एन.पी. सिंह, कुलसचिव डॉ राजीव रतन एवं फार्मेसी विभाग के डीन डॉ० तरुण विरमानी ने दीप प्रज्वलित करके किया I  इसके पश्चात कार्यशाला के मुख्य अतिथि डॉ० दिवाकर गोली, कुलपति राफेलस विश्वविद्यालय, नीमराना, अलवर ने ऑनलाइन माध्यम से रसायन विज्ञान के बारे में अपने विचार सांझा किए एवं विद्यार्थियों को प्रेरित किया कि इस प्रकार के कार्यशाला में ज्यादा से ज्यादा भाग ले क्योंकि इस प्रकार की कार्यशाला सैद्धांतिक ज्ञान के साथ साथ व्यवहारिक ज्ञान भी देती हैं I कार्यशाला को विभिन्न तीन माड्यूल्स में बांटा गया जिसमें प्रत्येक मॉड्यूल के पश्चात प्रतिभागियों को होमवर्क के तौर पर प्रश्नपत्र भी दिए गए I  कार्यशाला के मुख्य आकर्षण बिंदु इलेक्ट्रॉनिकली टू डाइमेंशनल रासायनिक संरचना करना, उनको थ्री डाइमेंशनल के रूप में देखना एवं एमएस वर्ड मे विभिन्न दस्तावेजों को तैयार करना थे I इन सभी विषयों को विस्तार पूर्वक एवं आसानी से समझाने का कार्य डॉ० रवि रावत ने किया I  कार्यशाला के अंतिम दिवस पर ऑनलाइन माध्यम से एक एग्जाम का आयोजन भी किया गया I  इस एग्जाम के आधार पर ही प्रतिभागियों को कार्यशाला में भाग लेने एवं इसे पूरा करने के लिए प्रमाण पत्र भी वितरित किए जाएंगे I  विश्वविद्यालय की प्रबंधक संचालक कांता शर्मा, अध्यक्ष वरुण शर्मा, कुलाधिपति संतोष शर्मा ने कार्यशाला के आयोजन पर विभाग की सराहना की एवं कहा कि इस प्रकार की कार्यशाला समय-समय पर होनी अत्यंत आवश्यक है I कार्यशाला के दौरान सभी प्रतिभागी एवं विश्व विद्यालय का शिक्षक गण ऑनलाइन माध्यम से जुड़े रहे I

Posted by: | Posted on: 8 months ago

टीवी कलाकार धन तेजस को अभिनय के अलावा मार्शल आर्ट्स का शौक भी है

धन तेजस के शौक (Dhan Tejas hobbies) –
तेजस को अभिनय के अलावा मार्शल आर्ट्स का शौक है|
डांस करना और फुटबॉल , क्रिक्कट खेलना उनके दूसरे शौक हैं, जिन्‍हें वे अक्‍सर खाली समय के दौरान आजमाते हैं|
घर के फूड के शौकीन तेजस को चॉकलेट भी बहुत पसंद हैं|
मार्शल आर्टस की शौक की वजह से ब्रूस ली उनके पसंदीदा एक्‍टर है और बॉलीवुड में वे रितिक रोशन और टईगर श्रऑफ के बडे प्रशंसक हैं|
2016 में आई फलीएंग जट उनकी फेवरेट फिल्‍म है.
तेजस को सफेद रंग से बेइंतहा मोहब्‍बत है.
धन तेजस ने अपनी पहली दो सीरीएल की सफलता से सबको को यह जता दिया कि वे लंबी रेस के घोड़े हैं|
तेजस स्पोर्ट्स लविंग सेलेब किड हैं. उन्हें जब भी मौका मिलता है वो स्पोर्ट्स एक्टिविटी में हिस्सा लेना नहीं भूलते|
महज 6 साल की उम्र में बेटे धन तेजस की इस उपलब्धि पर उनकी मां ने कहा – मुझे उस पर गर्व है, मैं धन तेजस और उसकी सभी उपलब्धियों पर बहुत गर्व करती हूं. उसने जो कुछ भी हासिल किया है वह इतनी तेजी से किया जो वाकई प्रेरणा देने वाला है|

जीवन परिचय

  1. जन्‍म तिथि – 30 जूलाई 2013
  2. जन्‍म स्‍थान – फरीदाबाद , हरयाना
  3. बहन – अनन्या प्रीत
  4. पेशा – अभिनेता
  5. कद – 4.3
  6. वजन 37 किलो
  7. आंखों का रंग – काला
  8. बालों का रंग – काला
  9. राशि – सिंह
Posted by: | Posted on: 8 months ago

लिंग्याज दे रहा छात्रवृति से आगे बढ़ने का मौका

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | देश में कोरोना का कहर अपने पंख फैला रहा है और समय के साथ-साथ इससे लड़ने के लिए भी उपाय किए जा रहें हैं। वहीं इससे निपटने कि लिए देश के चिकित्सा विभाग के साथ-साथ शिक्षा विभाग भी इस महामारी से निपटने में पूरी तरह से जुटा हुआ है। हर एक व्यक्ति इस महामारी से निपटने की मुहिम में अपनी बेहतर से बेहतर कोशिश कर रहा हैं। ऐसे में लिंग्याज विद्यापीठ डीम्ड-टु-बी यूनिवर्सिटी ने भी इस मुहिम में अपने कदम बढ़ाए है। आर्थिक कारणों के वजह से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई में कोई रूकावट ना हो इसी कारण संस्थान ने छात्रवृति के माध्यम से मेधावी छात्रों को आगे की पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करने का फैसला किया है।जिसके अंतर्गत60 प्रतिशत से अधिक नंबर लाने वाले छात्र-छात्राओं को छात्रवृतिदी जाएगी।जिसके तहत छात्रों के जितने प्रतिशत नंबर उतने प्रतिशत छात्रवृति।खासतौर पर बी.टेक (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग), बीबीए, बीबीए + एमबीए, बीबीए + एलएलबी, बीसीए, बीएसई, बीएड, एलएलबी इन कोर्सिसको ज्यादा प्रावधान दिया जाएगा। अक्सर ऐसा होता कि कमजोर आर्थिक स्थिति कई छात्र-छात्राओं के भविष्य की राह में रोड़ा बन जाती है। ऐसे में छात्रों की मदद के लिएसंस्थान ने सोचा। अधिकतर स्टूडेंट्स का सपना होता है कि वह छात्रवृति लेकर आगे की पढ़ाई करें, स्कॉलरशिप आर्थिक रूप से काफी मदद करती है।अक्सर ऐसा सुनने में आता है कि छात्राओं को आगे पढ़ने से रोक लिया जाता है। संस्थान की इस छात्रवृति की मदद से बेटियों को भी आगे बढ़ने का मौका मिलेगा।प्रो. (डा.) जी.जी. शास्त्री (प्रो वाइस चांसलर)का कहना है किसंस्थान की इस स्कीम से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को भी अपना सपना पूरा करने का अवसर प्राप्त होगा। कई बार देखा जाता है कि बच्चे में प्रतिभा होती है पर वह आर्थिक तंगी के कारण आगे नहीं बढ़ पाते। संस्था की नीति से उन्हें काफी मदद मिलेगी।
विश्वविद्यालय ने दाखिले से संबंधित पूछताछ के लिए विशेष एडमिशन हेल्पलाइन नंबर 8447744302-09, 01292598200-05 जारी किए हैं। पाठ्यक्रमों के लिए पात्रता मानदंड, सीटों की संख्या और प्रवेश परीक्षा आदि से संबंधित जानकारी विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.lingayasvidyapeeth.edu.in से प्राप्त की जा सकती है।