लिंग्याज में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया गया शिक्षक दिवस

Posted by: | Posted on: 2 weeks ago

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | शिक्षा के क्षेत्र में छात्रों के जीवन को आकार देने और शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए भारत में हर साल शिक्षक दिवस 5 सितंबर को मनाया जाता है। हर साल की तरह इस साल भी लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टु-बी) यूनिवर्सिटी में बड़े ही उत्साह के साथ शिक्षक दिवस को मनाया गया। इस अवसर पर कॉलेज की ओर से टीचर्स के लिए विभिन्न प्रकार के मनोरंजक कार्यक्रम आयोजित किए गए। संकाय चुनौती, शिक्षक पुरस्कार, लिंग्याज के लिए प्रतिबद्ध, फन लविंग टीचर, सक्रिय शिक्षक, मोस्ट सिन्सेर टीचर, इनोवेटिव टीचर जैसे टाइल रखे गए।जिनमें जितने वाले विजेताओं को डीन एकेडमिक्स प्रोफेसर डॉ. पंकज कुमार मिश्रा द्वारा पुरस्कृत कर उन्हें सम्मानित किया। व डॉ. पंकजने वहां उपस्थित सभी शिक्षकों की सराहना करते हुए उन्हें शुभकामनाएं भी दी। इस दौरान यूनिवर्सिटी के प्रो वाइस चांसलर प्रो. (डा.) जी.जी. शास्त्री भी इस खास मौके पर मौजूद थे। डॉ. शास्त्री ने वहां मौजूद सभी शिक्षकगणों को संबोधित करते हुए कहां कि हमारे जीवन में शिक्षक की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण होती है। एक शिक्षक बच्चे को सफल और बेहतर इंसान बनाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवसः-भारत में हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। यह स्मरणोत्सव हमारे देश के प्रथम उपराष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती का प्रतीक है। डॉ.राधाकृष्णन ने भारत की शिक्षा को आकार देने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। व बच्चों को स्कूलों में जाने और शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया था। इसी कारण 5 सितंबर को उनकी जयंती पर शिक्षक दिवस मनाया जाता है।





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *