विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदक

now browsing by tag

 
32वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड षिल्प मेले में आज हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी पहुंचे awesome blog company environment magazine music new technology आदर्श महिला महाविद्यालय के चुनाव में महासचिव पद के लिए अशोक बुवानीवाला एवं कोषाध्यक्ष पद के लिए सुंदरलाल अग्रवाल लगातार दूसरी बार विजयी रहें उद्योग मंत्री विपुल गोयल के उपहारों से पीएम राहत कोष के लिए एकत्र हुए ढाई करोड़ एमवीएन विश्वविद्यालय एम वी एन विश्वविद्यालय के तत्वाधान में एम वी एन स्कूल के सभागार कक्ष में विश्वविद्यालय द्वारा अंतिम वर्ष के छात्र/छात्राओं के लिए विदाई समारोह का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया एमवीएन विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ लॉ के छात्रों ने भारतीय संसद के लोकसभा एम वी एन विश्वविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस मनाया गया एमवीएन विश्वविद्यालय में महामहिम राज्यपाल द्वारा विश्वविद्यालय के 445 विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की जायेगी ऑफिस हो कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल की अपील पर सभी धर्म के लोगों ने धार्मिक स्थलों पर फहराया तिरंगा कॉलेज हो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पलवल टैगोर पब्लिक स्कूल टैगोर पब्लिक स्कूल की छात्रा दीक्षा तिवारी ने खेल टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक प्राप्त करके स्कूल का नाम रोशन किया तरुण निकेतन पब्लिक स्कूल दा न्यू ऐज सी॰ से॰ स्कूल-रोनीजा पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल की विधानसभा को मिलकर बनाएंगे क्लीन एंड ग्रीन- संजय बत्रा पल्ला नंबर 1 पूर्व विधायक आनन्द कौशिक ने परिवर्तन बस यात्रा का भव्य स्वागतभीड़ देख गदगद हुए गुलाम नबी आजाद प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाईन सरसों खरीदने की योजना से व्यापारियों को नुकसान हो रहा है फैशन एंड लाइफस्टाइल एग्जीबिशन रेडिसन ब्लू में 13 फरवरी को :-नूपुर गुप्ता बाल कल्याण पब्लिक सीनियर सेकंडरी स्कूल का रिजल्ट रहा अच्छा ब्लयू एंजिल ग्लोबल स्कूल में क्रिसमस समारोह का आयोजन किया गया भाजपा सरकार में कर्मचारियों को लाठियों के रुप में मिले अच्छे दिन : विकास चौधरी मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल मानव रचना शैक्षणिक संस्थान ने फरीदाबाद पुलिस को भेंट की स्कॉर्पियो कार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान को लाभ देने के लिए सरकार ने गोबरधन योजना शुरू की विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदक विधायक नगेन्द्र भडाना ने राजीव कालोनी में लक्ष्मी डेयरी वाली गली में बनने वाली सीमेटिड सडक का विधिवत शुभारंभ किया विधायक मूलचंद शर्मा के भाई टीपरचंद शर्मा ने आज बल्लबगढ़ विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों का निरिक्षण किया और कमी पाए जाने पर अधिकारीयों को जमकर लताड़ लगायी विधायक मूलचंद शर्मा ने बल्लबगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वार्ड न- 36 में 33 लाख रूपये की लागत से बनने वाली  रोड के कार्य का नारियल फोड़कर शुभारम्भ किया वृंदा इंटरनेशनल स्कूल में मातृदिवस के अवसर पर माँ का महत्व बताया :- विजय लक्ष्मी शक्तिपीठ पब्लिक स्कूल ने मनाया क्रिसमस सतयुग दर्शन ट्रस्ट द्वारा आयोजित मानवता-फेस्ट-2018 सतयुग दर्शन वसुन्धरा में रामनवमी यज्ञ महोत्सव पर - विशाल शोभा-यात्रा का आयोजन हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के जिला प्रधान बने राजेन्द्र दहिया होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल ने सामाजिक दायित्व निभाते नेत्रहीन खिलाड़ियों को 10 हज़ार रुपये का चेक भेंट किया
 
Posted by: | Posted on: December 26, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल ने किया मदर्स मीट का आयोजन

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव/दीपक शर्मा )। बच्चा अपने जन्म के बाद जब बोलना सीखता है तो सबसे पहले जो शब्द वह बोलता है वह होता है ‘माँÓ। स्त्री माँ के रूप में बच्चे की गुरु है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, तिगांव ने एक महत्त्वपूर्ण कदम उठाते हुए मदर्स मीट का आयोजन किया जिसमें सभी छात्रों की माताओं को स्कूल में आमंत्रित किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ फरीदाबाद की मेयर श्रीमती सुमन बाला ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रीमती बाला ने कहा कि माता को जो अनुभव होता है वही बालक के जीवन पर प्रभाव डालता है। माता से ही वह संस्कार ग्रहण करता है। माता के उच्चारण व उसकी भाषा से ही वह भाषा-ज्ञान प्राप्त करता है। यही भाषा-ज्ञान उसके संपूर्ण जीवन का आधार होता है। इसी नींव पर बालक की शिक्षा-दीक्षा तथा संपूर्ण जीवन की योग्यता व ज्ञान का महल खड़ा होता है। इसलिए सभी बच्चों की माताओं को भी आज के युग में सक्रिय रहना चाहिए। श्री बाला ने कहा कि अभिभावकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों की शादियों के लिए पैसा जोडऩे और खर्च करने की बजाय उसे शिक्षा पर खर्च करें ताकि बच्चे इसी शिक्षा के प्रकाश से अपना जीवन रोशन कर सकें। कार्यक्रम में पहुंची बीईओ श्रीमती अनीता शर्मा ने माताओं को समझाया और प्रोत्साहित किया कि उन्हें आगे बढ़कर बच्चों की शिक्षा और करियर की तरफ ध्यान देना चाहिए। वे सिर्फ अपने आपको बच्चों के लालन-पालन तक ही सीमित न रखें। बच्चों का करियर भी उनकी ही जिम्मेदारी है। श्रीमती अनीता ने कहा कि बालक को जीवन में विकसित होने, उत्कर्ष की ओर बढऩे के लिए भी माँ ही शक्ति प्रदान करती है। उसे सही प्रेरणा देती है। समय-समय पर बचपन में माता द्वारा बालक को सुनाई गई कथा-कहानियाँ, उपदेश व दिया गया ज्ञान, बच्चे के जीवन पर अमिट छाप तो छोड़ता है। बचपन में दिया गया ज्ञान ही संपूर्ण जीवन उसका मार्गदर्शन करता है। इसलिए माताओं को सक्रिय रूप से बच्चों के करियर आदि की जानकारी रखनी चाहिए ताकि वे उन्हें सही मार्गदर्शन दे सकें। श्रीमती अनीता ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजन से बच्चों को काफी लाभ मिलेगा। स्कूल और माताएं मिलकर बच्चों के बेहतर भविष्य की नींव रख सकते हैं। कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने बताया कि स्कूल के द्वारा यह मदर्स मीट का आयोजन किया गया है ताकि इस प्रकार के आयोजनों से बच्चों की माताओं में आत्मविश्वास बढ़ सके और वे आगे बढ़ कर अपने बच्चों की शिक्षा और करियर से जुड़े विषयों को गंभीरता से लें और बच्चों को सही मार्गदर्शन दे सकें। उनका प्रयास रहेगा की आगे भी इस प्रकार के आयोजन किए जाते रहें ताकि एक जागरुकता का माहौल तैयार किया जा सके, जिससे बच्चों को भी लाभ मिलेगा। इसके अतिरिक्त मदर्स एवं बच्चों के लिए विभिन्न प्रकार के गेम्स का आयोजन किया गया जिसे सभी ने इंज्वाय किया। बच्चों के लिए झूलों का भी खास इंतजाम रखा गया। इस अवसर पर कार्यक्रम में पहुंची मदर्स के लिए सेमीनार आदि का आयोजन किया गया और उन्हें विभिन्न प्रकार की जानकारियां उपलब्ध करवाई गईं।  इस अवसर पर मुख्य रूप से स्कूल के डॉयरेक्टर शम्मी यादव, सीएल गोयल, प्रिंसिपल कुलविंदर कौर, विक्रम सिंह एडवोकेट एवं अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
Posted by: | Posted on: December 24, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मना क्रिसमस डे

फरीदाबाद। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में क्रिसमस डे धूमधाम से मनाया गया। स्कूल की प्रबंधकीय कमेटी के सदस्य चेयरमैन धर्मपाल यादव, डायरेक्टर दीपक यादव, सुनीता यादव, मुख्यातिथि के तौर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम में उपस्थित हुए। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने बच्चों को प्रभु यीशु मसीह और क्रिसमस के बारे में बताया। बच्चे संता क्लॉज की पोशाक में सज कर आए। इस अवसर पर बच्चों ने, ङ्क्षजगल बेल, ङ्क्षजगल बेल की धुन पर थिरकते हुए सभी का मन मोह लिया। इस अवसर पर बच्चों ने खूब मौज मस्ती की। बच्चों ने क्रिसमस कैरोल गाकर अपनी श्रद्धा को प्रकट किया। पहली कक्षा से लेकर तीसरी कक्षा के बच्चों के बीच फैंसी फ्लोरिक प्रतियोगिता करवाई गई। इस अवसर पर नन्हें मुन्ने बच्चों ने कई कार्यक्रम पेश किया। उन्होंने प्रभू यीशु मसीह से संबंधित झांकियां निकालीं और नए साल व क्रिससम की शुभकामनाएं दीं। विजेताओं को स्कूल की प्रबंधकीय कमेटी के सदस्य की ओर से सम्मानित किया गया। इसी दौरान ङ्क्षकडर गार्डन के बच्चों को चर्च में ले जाया गया जहां बच्चों ने प्रार्थना की। प्रिसिपल ज्योति चौधरी ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी का धन्यवाद किया।

Posted by: | Posted on: December 12, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की विधि ने नेशनल गेम्स में जीता गोल्ड मैडल

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव )। रांची (झारखण्ड) के खेलगांव में 8 से 11 दिसंबर तक आयोजित 64 वें नेशनल स्कूल गे स -२०१८ आर्चरी टूर्नामेंट अंडर-17 में विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की कक्षा दसवीं की छात्रा विधि यादव ने रिकर्व राउण्ड (टीम इवेंट) में गोल्ड पर निशाना साध कर न केवल स्कूल बल्कि पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। उक्त विचार प्रकट करते हुए स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने कहा कि विधि की सफलता पूरे समाज की बेटियों की सफलता है क्योंकि इससे साबित हो जाता है कि यदि बेटियों को समान अवसर मिलें तो वे सफलता के हर शिखर को छू सकती हैं। श्री यादव विधि के गोल्ड जीतकर वापिस लौटने के अवसर पर आयोजित स ाान समारोह के अवसर पर बोल रहे थे। इस अवसर पर विधि के लौटने पर उसका भव्य स्वागत किया गया। साथ ही आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ को भी स मानित किया गया। इस अवसर पर बात करते हुए विधि ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने अभिभावकों, कोच और स्कूल प्रबंधन को देते हुए कहा कि उनकी यह सफलता बिना इन सभी के आशीर्वाद और सहयोग के संभव नहीं थी। गौरतलब है कि रांची के खेलगांव में आयोजित 64 वें नेशनल स्कूल गे स आर्चरी टूर्नामेंट अंडर-17 प्रतियोगिता में 25 से ज्यादा राज्यों के खिलाडिय़ों ने हिस्सा लिया। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि विधि से पहले भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के अनेक छात्र नेशनल लेवल पर स्वर्ण और अन्य पदक जीत चुके हैं जिसमें आर्ची यादव का सिलेक्शन तो प्रदेश की ओलंपिक टीम के लिए भी हुआ है। इसके अतिरिक्त स्कूल द्वारा संचालित क्रिकेट, कबड्डी एवं ताइक्वांडो अकादमी में भी छात्र बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस अवसर पर क्षेत्र के वरिष्ठ नेता एवं समाजसेवी राजेश नागर ने भी विधि को स मानित किया और बेहतर भविष्य की शुभकामनाएं दीं। समारोह में मु य रूप से स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव, श ाी यादव, अकादमी डॉयरेक्टर सीएल गोयल, प्रिंसिल कुलविंदर कौर एवं क्षेत्र के अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Posted by: | Posted on: November 8, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों ने दिया ग्रीन दीवाली मनाने का संदेश

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में दीपावली पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मु य अतिथि  राजेश कुमार, एसडीएम बल्लभगढ़, स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव एवं डॉयरेक्टर सुनीता यादव ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए  कुमार ने बच्चों को दीपावली पर ग्रीन पटाखे चलाने और प्रदूषण मुक्त दीपावली मनाने का संदेश दिया। पटाखों का उपयोग हमारी पर परा का अंग है। चूँकि हमारी पर परा पर्यावरण की पोषक रही है इसलिये हमें पर्यावरण हितैषी और सुरक्षित दीपावली मनाना चाहिए। यह काम प्रत्येक नागरिक अपने स्तर पर खुद कर सकता है। कुमार ने बच्चों को समझाया कि पटाखे चलाने से पर्यावरण को नुकसान पहुंचाता है, ऐसे में ग्रीन पटाखे ही चलाएं और न्यायालयों के आदेश की पालना करते हुए सिर्फ 8 बजे से 10 बजे के बीच ही पटाखे चलाएं।  कुमार ने बच्चों का प्रेरणा दी कि पर्यावरण को बचाना हम सभी की जि मेदारी है। दीपावली दियों का त्योहार है खुशियों का त्योहार है इसे मिलजुल मनाना चाहिए और पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। इस अवसर पर बच्चों ने अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। कक्षा 5 के छात्रों ने अष्ट लक्ष्मी स्रोतम की प्रस्तुति दी वहीं कक्षा 1 के छात्रों ने आई दीवाली गीत प्रस्तुत किया। कक्षा 4 एवं 5 के बच्चों ने वेलकम गीत भी सुनाया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने कहा कि महानगरों में वाहनों के ईंधन से निकले धुएँ के कारण सामान्यत: प्रदूषण का स्तर सुरक्षित सीमा से अधिक होता है। पटाखे उसे कुछ दिनों के लिये बढ़ा देते हैं। उसके कारण अनेक जानलेवा बीमारियों यथा हृदय रोग, फेफड़े, गालब्लेडर, गुर्दे, यकृत एवं कैंसर जैसे रोगों का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए पटाखे नहीं चलाने चाहिए। स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने कहा कि हर साल दीपावली पर करोड़ों रुपयों के पटाखों का उपयोग होता है। यह सिलसिला कई दिन तक चलता है। कुछ लोग इसे फिजूलखर्ची मानते हैं तो कुछ उसे पर परा से जोड़कर देखते हैं। पटाखों से बसाहटों, व्यावसायिक, औद्योगिक और ग्रामीण इलाकों की हवा में तांबा, कैलशियम, गंधक, एल्युमीनियम और बेरियम प्रदूषण फैलाते हैं। उल्लेखित धातुओं के अंश कोहरे के साथ मिलकर अनेक दिनों तक हवा में बने रहते हैं। उनके हवा में मौजूद रहने के कारण प्रदूषण का स्तर कुछ समय के लिये काफी बढ़ जाता है। इसलिए हमें पटाखे नहीं चलाने चाहिए, और चलाते भी हैं तो ग्रीन पटाखे चलाने चाहिए। सुनीता यादव ने कहा कि पटाखों से मकानों में आग लगने तथा लोगों खासकर बच्चों के जलने की स भावना होती है इसलिये सभी को कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए- पटाखों को सुरक्षित जगह पर रखें। उन्हें ज्वलनशील पदार्थों से दूर ले जाकर ही जलाएँ। वाहनों के आसपास पटाखे नहीं जलाएँ। पटाखे जलाते समय सूती कपड़े पहनें। सिन्थेटिक कपडे ज्वलनशील होते हैं। उनसे बचें। पटाखे जलाते समय घर की खिड़की और दरवाजे बन्द रखें। इससे आग लगने का खतरा घटेगा। हाथ में रखकर फटाके नहीं जलाएँ। बच्चों को वयस्कों/बुजुर्गों की देखरेख में पटाखे जलाने दें। कार्यक्रम को स्कूल की प्रिंसिपल ज्योति चौधरी ने भी संबोधित करते हुए कहा कि दीपावली वास्तव में दीपों का त्यौहार है लेकिन इस दिन लोगों में पटाखों को लेकर प्रतिस्पर्धा का जो दौर चलता है उससे वायु, ध्वनि प्रदूषण की मात्रा बढ़ जाती है। पटाखे पर्यावरण के लिए खतरनाक है लेकिन किसी का भी ध्यान इस ओर नहीं है। पटाखों के कारण कई प्रकार की गैस वायु मंडल में घुल जाती हैं। इससे कई प्रकार की बीमारियां अपने पैर पसार लेती हैं वहीं लोगों का सांस लेना भी दुभर हो जाता है। जानकारों की माने तो दीपावली के समय करीब चालीस फीसदी प्रदूषण बढ़ जाता है। बावजूद कोई भी इस दिशा में गंभीर नहीं हैं। इसलिए सभी को मिलजुलकर इसे रोकने का प्रयास करना चाहिए।

Posted by: | Posted on: September 3, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मनाया गया श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, तिगांव के  प्रांगण में  जन्माष्टमी पर्व पर शानदार श्री कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव मनाया गया।  कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पंडित मूलचंद शर्मा, विधायक बल्लभगढ़ ने दीप प्रज्ज्वलित करने के बाद बाल गोपाल को मक्खन मिसरी का भोग लगाकर किया। इस अवसर पर श्री शर्मा ने कहा कि श्रीकृष्ण कर्म, भक्ति एवं ज्ञान के प्रतीक हैं। बाल अवस्था में ईष्ट-मित्रों के साथ माखन चोरी उनकी सरलता व चपलता को दर्शाती है। कौरव व पांडव के बीच संधि का प्रयास नीति एवं कूटनीति का प्रतीक था, जबकि युद्ध के समय मार्गदर्शक के रूप में उनकी भूमिका अहम रही।  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्कूल के चेयरमैन श्री धर्मपाल यादव ने कहा कि श्रीकृष्ण के व्यक्तित्व में उनके गुण थे, जिसके कारण वे महानायक बने, उन्होंने गरीब मित्र सुदामा से मित्रता निभाई, दुराचारी शिशुपाल का वध किया, पाण्डुपुत्र युधिष्ठिर के राजसूय यज्ञ में आने वाले अतिथियों के पैर धोए और जूठी पत्तलें उठाईं, महाभारत के युद्ध में अपने स्वजनों को देखकर विमुख अर्जुन को आत्मा की अमरता का संदेश दिया, जो धार्मिक ग्रंथ ‘श्रीमद्भगवतगीताÓ बना। इस अवसर पर बच्चों ने सुंदर झांकियां सजाईं एवं खास रूप से दही-हांडी का आयोजन किया। गौरतलब है कि दही-हांडी प्रतियोगिता के तहत लड़कों का एक समूह पिरामिड बनाता है, जिसमें एक लड़का ऊपर चढ़कर ऊंचाई पर लटकी हांडी, जिसमें की दही होता है, को फोड़ता है। ये लड़के गोविंदा बनकर इस खेल में भाग लेते हैं। इस दौरान काफी गीत-संगीत होता है और पिरामिड वाले लड़कों पर आस-पास के लोग काफी पानी फेंकते हैं जिससे दही-हांडी तक पहुंचना आसान नहीं होता। जो लड़का हांडी फोड़ता है वो ही विजेता होता है। इस अवसर पर स्कूल के छात्र-छात्राओं ने सुंदर भजन एवं नाट्य कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दीं जिन्हें देखकर सारा वातावरण तालियों से गूंज उठा। इसके उपरांत विद्यालय  के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने  बच्चों  को बधाई दी और उन्होंने बताया कि यह पर्व हमें आपसी प्रेम व भाई- चारे की भावना के साथ मनाना चाहिए व सभी धर्मों का आदर करना चाहिये। कार्यक्रम का समापन हर्षोल्लास के साथ हुआ। इस अवसर पर मुख्य रूप से नानकचंद चेयरमैन, हातम अधाना, सुरेन्द्र त्यागी, कर्मवीर बोहरा, जयराम प्रधान, हुकुमचंद सरपंच, स्कूल के अकेडमिक डॉयरेक्टर सीएल गोयल, डॉयरेक्टर शम्मी यादव, प्रधानाचार्या श्रीमती कुलविंदर कौर व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
Posted by: | Posted on: August 25, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में हुआ डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में चार दिवसीय 64वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ हो गया  जिसमें सीबीएसई और हरियाणा बोर्ड से संबद्ध स्कूलों के छात्र हिस्सा ले रहे हैं। प्रतियोगिता का शुभारम्भ   अमन यादव , ए सी पी तिगांव द्वारा तीर चला कर किया गया। श्री यादव ने इस अवसर पर सभी खिलाडियों को खेल  भावना को बनाये रखते हुए अपना बेहतर प्रदर्शन करने की बात कही। इस अवसर पर  स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने कहा कि जिला शिक्षा विभाग, हरियाणा सरकार द्वारा संचालित इस चार दिवसीय ६४वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता  का आयोजन 23 अगस्त से 26 अगस्त तक स्कूल के परांगण में होगा।  प्रतियोगिता में ब्यॉज एवं गर्ल्स  दोनों श्रेणी में इवेंट होने है । इसमें अंडर-14 आयुवर्ग, अंडर-17 आयुवर्ग और अंडर-19 आयुवर्ग में बॉयज व गर्ल्स कैटिगरी के रिकर्व राउंड व इंडियन राउंड खेले जाएंगे ।  प्रतियोगिता में होने वाले इवेंट सुबह 9:00 बजे से शाम 3:30 तक चलेंगे। इस दौरान बच्चों के अभिभावकों के लिए भी वहां उपस्थित रहने के विशेष इंतजाम किए गए हैं ताकि वे अपने बच्चों का हौंसला बढ़ा सकें। प्रतियोगिता को संचालित करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ को जिम्मेदारी दी गई है। आज  मुख्य रूप से गर्ल्स के लिए आर्चरी  इवेंट हुए  जिसमें जिले के स्कूलों से 150 से अधिक गर्ल्स ने  हिस्सा लिया और अपनी प्रतिभा प्रदर्शित की । प्रतियोगिता का सुपरविजन अस्सिटेंट एजुकेशन ऑफिसर स्पोटर्स बुद्धिराम धनखड़ कर रहे हैं।  गौरतलब है कि इससे पहले भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में अनेक प्रकार की राज्य और जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं कराई जा चुकी हैं। स्कूल द्वारा 8वें सीबीएसई क्लस्टर गेमों का भी सफल आयोजन किया जा चुका है। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल को जिला स्तरीय आर्चरी प्रतियोगिता को होस्ट करने का दूसरी बार अवसर मिला है। इस अवसर पर मुख्या रूप से धर्मपाल यादव चेयरमैन  विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, हरबीर एईओ,  जिला पार्षद विक्रम सिंह, जिला पार्षद सुरजीत अधाना, राजू वर्मा, मुकेश यादव, हेम अधाना, बेघराज नागर, रविश्वर त्यागी, जीतराम, रामी सरपंच,बलवीर यादव  अकादमिक डायरेक्टर  सीएल  गोयल, डायरेक्टर शम्मी यादव, प्रिंसिपल कुलविंदर कौर व अन्य गणमान्य लोग उपस्तिथ थे।  

Posted by: | Posted on: August 22, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का आयोजन २३ से

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में चार दिवसीय ६४वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है जिसमें सीबीएसई और हरियाणा बोर्ड से संबद्ध स्कूलों के छात्र हिस्सा ले सकते हैं। उक्त जानकारी देते हुए स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने कहा कि जिला शिक्षा विभाग, हरियाणा सरकार द्वारा संचालित इस चार दिवसीय ६४वीं एसजीएफआई डिस्ट्रिक्ट आर्चरी प्रतियोगिता  का आयोजन २३ अगस्त से २६ अगस्त स्कूल के परांगण में होगा जिसका उद्घाटन श्री अमन यादव, एसीपी तिगांव करेंगे। प्रतियोगिता में ब्यॉज एवं गल्र्स दोनों श्रेणी में इवेंट होंगे। इसमें अंडर-14 आयुवर्ग, अंडर-17 आयुवर्ग और अंडर-19 आयुवर्ग में बॉयज व गल्र्स कैटिगरी के रिकर्व राउंड व इंडियन राउंड खेले जाएंगे।  प्रतियोगिता में होने वाले इवेंट सुबह 9:00 बजे से शाम ३:30 तक चलेंगे। इस दौरान बच्चों के अभिभावकों के लिए भी वहां उपस्थित रहने के विशेष इंतजाम किए गए हैं ताकि वे अपने बच्चों का हौंसला बढ़ा सकें। दीपक यादव ने बताया कि प्रतियोगिता को संचालित करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ को जिम्मेदारी दी गई है। २३ अगस्त को प्रतियोगिता के शुभारंभ के बाद मुख्य रूप से गल्र्स के लिए अर्चरी इवेंट होंगे जिसमें जिले के स्कूलों से १५० से अधिक गल्र्स हिस्सा लेंगी और अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करेंगी। प्रतियोगिता का सुपरविजन अस्सिटेंट एजुकेशन ऑफिसर स्पोटर्स बुद्धिराम धनखड़ करेंगे वहीं गेम कनवेनर के रूप में आर्चरी कोच नीरज वशिष्ठ, धर्मजीत बीपीई दयालपुर एवं गीता चौहान बीपीई मेवला महाराजपुर को नियुक्त किया गया है। गौरतलब है कि इससे पहले भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में अनेक प्रकार की राज्य और जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं कराई जा चुकी हैं। स्कूल द्वारा ८वें सीबीएसई क्लस्टर गेमों का भी सफल आयोजन किया जा चुका है। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल को जिला स्तरीय आर्चरी प्रतियोगिता को होस्ट करने का दूसरी बार अवसर मिला है। दीपक यादव ने कहा कि हम पहले भी डिस्ट्रिक्ट लेवल आर्चरी प्रतियोगिता का सफल आयोजन कर चुके हैं और इस बार भी यह आयोजन सफल रहेगा।
Posted by: | Posted on: August 14, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर छात्रों ने सांस्कृतिक और देशभक्ति कार्यक्रम पेश किए। स्कूल के चेयरमैन  धर्मपाल यादव ने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा को फहराया और शहीदों को नमन कर श्रद्धांजलि अर्पित की। उसके बाद छात्रों ने मां सरस्वती की पूजा की। स्कूल की डॉयरेक्टर सुनीता यादव ने बताया कि इस मौके पर अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया जिसमें छात्रों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम के दौरान बच्चों ने ग्रुप सोंग ‘ए मेरे वतन के लोगोंÓ प्रस्तुत किया। छात्रों द्वारा ‘स्वतंत्रता कैसे प्राप्त हुई?Ó विषय पर स्पीच भी प्रस्तुत की गई। इस अवसर पर कक्षा ३ और ४ के बच्चों ने ‘वंदे मातरम्Ó का सुंदर प्रस्तुतिकरण करते हुए सबका मन मोह लिया। इसके अलावा टाइनी टोटस ने ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानीÓ गाने पर शानदार डांस किया।
स्कूल की चेयरमैन  धर्मपाल यादव ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वतंत्रता दिवस हर वर्ष १५ अगस्त की तिथि को मनाया जाता है । 15 अगस्त, 1947 के दिन भारत ने अंग्रेजी उपनिवेश की जकडऩों को तोड़कर स्वतंत्रता का नवप्रभात देखा था। यह स्वर्णिम दिन लगभग सवा सौ वर्षों तक चले अनवरत संघर्ष और लाखों वीर महापुरुषों के बलिदान के बाद आया। इसलिए हमें स्वतंत्रता का मूल्य समझना चाहिए और अपना सर्वस्व लगाकर राष्ट्र की उन्नति में योगदान देना चाहिए। स्वतंत्र भारत आज दुनिया के विकसित देशों की पंक्ति में खड़ा होने के लिए लालायित दिखाई दे रहा है, हमें इसे विश्वगुरू बनाने के लिए संकल्पित होना चाहिए। छात्रों को टीचरों ने स्वतंत्रता के इतिहास के बारे में बताया। स्कूल की प्रिंसिपल ज्योति चौधरी ने बताया कि इस तरह के प्रोग्राम करने से छात्रों में देश प्रेम की भावना उत्पन्न होती है।

Posted by: | Posted on: July 27, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल एवं रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टॉउन ने स्कूल को डोनेट किया वॉटर कूलर

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल एवं रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टॉउन द्वारा चांदपुर स्थित गर्वनमैंट स्कूल में ४०० लीटर का वॉटर कूलर लगाया गया। वॉटर कूलर का शुभारंभ विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के डॉयरेक्टर श्री दीपक यादव एवं क्लब के प्रेजिडेंट श्री नरेन्द्र परमार ने स्कूल की छात्रा से करवाया। इस अवसर पर विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के डॉयरेक्टर दीपक यादव ने बताया कहा कि उनका हमेशा से प्रयास रहा है कि समाज के लिए कार्य किए जाएं जिससे सभी लोग लाभान्वित हों और उनका जीवनस्तर सुधरे। इसी कड़ी में रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टॉउन के साथ मिलकर उन्होंने स्कूल में वॉटर कूलर लगाने का काम किया है ताकि सरकारी स्कूल के बच्चों को भी पीने का स्वच्छ जल उपलब्ध हो सके। बच्चों को साफ पीने का पानी बहुत जरूरी है। पीने का पानी अगर साफ न हो तो कई बीमारियों का कारण बनता है। दीपक यादव ने कहा कि ऐसे में उन्हें खुशी है कि स्कूल में वॉटर कूलर लगने से अब बच्चों को पीने का साफ पानी उपलब्ध हो सकेगा और वे स्वस्थ रह कर पढ़ाई कर सकेंगे। दीपक यादव ने कहा कि वे प्रयास करेंगे की आगे भी बच्चों के लिए अन्य कार्य किए जाएं ताकि शिक्षा के साथ-साथ स्वास्थ्य का स्तर भी सुधरे। इस अवसर पर रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टॉउन के प्रेजिडेंट नरेन्द्र परमार ने कहा कि वे आगे भी विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के साथ मिलकर इस प्रकार के सामाजिक कार्य करते रहेंगे। इस अवसर पर मुख्य रूप से बीईओ श्रीमती अनीता शर्मा, जिला पार्षद विक्रम सिंह एडवोकेट, ग्राम सरपंच मुकेश, शिक्षाविद् डॉ. सुभाष श्योराण, शिक्षाविद् भारत शर्मा, रो. नवीन गुप्ता, रो. महेन्द्र सर्राफ, इंडस्ट्रियलिस्ट एसपी सिंह, अनिल रस्तोगी, रो. संजय अत्री एवं अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Posted by: | Posted on: July 20, 2018

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल ने मनाया ग्रीन डे

फरीदाबाद( विनोद वैष्णव )। विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में ग्रीन-डे मनाया गया। इस अवसर पर स्कूल की डॉयरेक्टर सुनीता यादव ने बताया कि ग्रीन डे के आयोजन पर विद्यालय में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया जिसमें जूनियर विंग के द्वारा ग्रीन कलर वीक सेलिब्रेट किया। इस अवसर पर प्ले ग्रुप के बच्चों ने ग्रीन वेजीटेबल रेम्प वॉक की। साथ ही नर्सरी के बच्चों ने सुंदर डांस की प्रस्तुति के माध्यम से पेड़ लगाने का संदेश दिया। प्रैप के बच्चों ने एक प्ले के माध्यम से ‘सेव ट्री-सेव लाइफ’ का संदेश देते हुए सभी को पेड़ लगाने के लिए प्रेरित किया। बच्चों ने हरी सब्जियों के साथ के साथ हरे रंग की ड्रेस पहनकर हरियाली उत्सव में हिस्सा लिया। इसमें बच्चों ने पेड़-पौधों का स्वरूप बनकर पर्यावरण बचाने के लिए प्रेरित किया। छोटे-छोटे बच्चों ने हरे परिधान पहनकर ग्रीन डे मनाया और पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया। बच्चों ने पौधे भी रोपे। स्कूल डॉयरेक्टर सुनीता यादव ने इस अवसर पर कहा कि पेड़ बचाओ, जीवन बचाओ केवल एक नारा भर नहीं है, ये एक जिम्म्ेदारी है जिसे धरती पर रहने वाले हरेक इंसान को समझना और मानना चाहिये। पेड़ों को बचाने के द्वारा अपने स्वस्थ पर्यावरण और हरी पृथ्वी को बचाने के लिये ये हम सभी के लिये बड़ा मौका है। पेड़ धरती पर जीवन का प्रतीक है। आज की आधुनिक दुनिया में पेड़ों को बचाना बहुत ज़रुरी है जहाँ शहरीकरण, औद्योगिकीकरण और ग्लोबल वार्मिंग तेजी से बढ़ रहा है। स्कूल की प्रिंसपिल ज्योति चौधरी ने कहा कि हमारे जीवन का पालन-पोषण करने के लिये हमारी धरती माँ की तरफ से वास्तव में हमें बहुत सारे बहुमूल्य उपहार दिये गये हैं। उनमें से एक सबसे महत्वपूर्ण उपहार पेड़ है। ये धरती पर मानव और पशु दोनों के लिये भोजन और छत का महत्वपूर्ण साधन हैं। पेड़ जंगल के अंदर रहने वाले बहुत सी जन जातियों के लिये प्राकृतिक घर है साथ ही सभी पक्षियों के भी घर उपलब्ध कराता है। ये हमें फर्निचर बनाने के लिये टिम्बर, शुद्ध हवा, मृदा अपरदन और बाढ़ से बचाता है, गर्मी में ठंडी और स्वच्छ हवा प्रदान करता है तथा गोंद, कागज, रबर, दवा, बारिश आदि का बड़ा साधन है। हमें अपने जीवन में पेड़ का भूमिका और महत्ता को समझना चाहिये और इसे सुरक्षित रखने की प्रतिज्ञा के साथ ही लोगों को अधिक से अधिक पेड़ लगाने के लिये प्रेरित करना चाहिये।