Monday, May 9th, 2022

now browsing by day

 
Posted by: | Posted on: 2 weeks ago

सतयुग दर्शन संगीत कला केन्द्र ,फरीदाबाद ने मनाया मदर्स डे

फरीदाबाद : सतयुग दर्शन संगीत कला केन्द्र की ओर से मदर्स डे के उपलक्ष्य में एक रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया  I कार्यक्रम में बच्चों व अभिभावकों को आमंत्रित किया गया और सभी मदर्स ने अपने अपने बच्चों के साथ नृत्य व गायन की प्रस्तुति देकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई I सभी अभिभावक अपने बच्चों में आये इस बदलाव को देखकर मंत्रमुग्ध हो रहे थे I उन्होंने सतयुग दर्शन संगीत कला केन्द्र तथा इसमें कार्यरत वालंटियर्स की सराहना की I  कार्यक्रम के अंत में कला केन्द्र की सेंटर इंचार्ज सोनिया नागपाल ने  कत्थक नृत्य की शिक्षिका कुमारी नेहा वर्मा और गायन व वादन के शिक्षक विक्की सहारिया का धन्यवाद किया और मदर्स को फूल व बच्चों को गिफ्ट्स देकर उनका उत्साह वर्धन किया I कार्यक्रम में कंचन चोपड़ा , नेहा वढेरा , रेनू जुनेजा भी उपस्थित रहे I

Posted by: | Posted on: 2 weeks ago

फरीदाबाद के सारन में श्री हरी भोग रसोई की स्थापना अवसर पर बतौर मुख्यातिथि पहुंचे पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल

 फरीदाबाद के सारन एरिया में स्थित नवग्रह मंदिर, प्याली चौक के पास कुo योगराज गौर उर्फ़ राजू द्वारा श्री हरिभोग रसोई की स्थापना की । जिसमे पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम मे शिरकत की और् श्री हरिभोग रसोई की शुरुआत करते हुए संस्था के चैयरमेन योगराज गौर को इस नेक् कार्य की शुरुआत करने पर बधाई दी।

पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने इस् अवसर पर कहा की जो व्यक्ति दुसरो की सेवा करता है इससे बड़ा परोपकार ओर पुण्य दूसरा कोई नही हो सकता। पूर्व मंत्री ने बताया की संस्था द्वारा मात्र 10 रुपये मे भरपेट खाना दिये जाने से उन गरीब परिवारों को भोजन उपलब्ध हो पायेगा जो कभी कभी पैसे की आर्थिक तंगी के कारण भूखे पेट भी सो जाते है।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री ने बताया की उन्होंने भी महाराजा अग्रसेन रसोई फरीदाबाद के बादशाह खान अस्पताल मे शुरुआत की थी ओर् वहाँ पर भी केवल 5 ओर 10 रुपए मे भरपेट खाना दिया जाता था लेकिन कोरोना काल के बाद अब इसे जल्द ही दोबारा शुरु किया जायेगा। विपुल गोयल ने बताया की श्री हरिभोग रसोई मे भी खाना मशीनों द्वारा ही बनाया जायेगा ओर साफ सफाई का विशेष ध्यान भी रखा जायेगा।

 संस्था के प्रधान योगराज गौर ने पूर्व मंत्री विपुल गोयल का सम्मान किया ओर बताया की उन्होंने इस रसोई की प्रेरणा पूर्व मंत्री द्वारा शुरु की गयी रसोई से ही ली ओर तभी से प्रण किया था की वह भी इसी प्रकार लोगो की सेवा करेंगे । योगराज गोर ने कहा की उन्होंने 10 रुपय की कीमत इसलिए रखी है ताकि कोई खाना व्यर्थ ना करे ओर अगर किसी के पास मजबूरी मे कभी पैसे नही भी हो तो निशुल्क भी खाना खा सकते है।

इस अवसर पर योगराज गौर प्रधान, डी डी गोयल, बनवारी गर्ग, नीरज जैन, मुकेश आहूजा, ज्ञानेंद्र भारद्वाज, डॉ अमित, राजू अरोड़ा, प्रदीप कुमार व अन्य काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे।