दिल्ली एनसीआर

now browsing by category

 
Posted by: | Posted on: 3 weeks ago

National Webinar organized on topic-National Education Policy 2020

We know that National Education Policy (NEP) 2020 was approved on July 29 in the Union Cabinet meeting, chaired by the Prime Minister Shri Narendra Modi. The new policy, which replaces the 34 year old policy of 1986, aims to pave way for transformational reforms in school and higher education systems in the country. National Education Policy aims to keep the current and future generations ‘Future Ready’ while focussing on the National Values and National Goals.  

 Lingayas Vidhyapeeth organized a National webinar on National education policy 2020 under the patronage of our esteemed chancellor, Prof.(Dr.) Picheswar Gadde. National Webinar is graced by the presence of Prof.(Dr.) K.K. Agrawal, Chairman, National Board of Accreditation.

Honorable Vice Chancellor,Prof.(Dr.) A.R Dubey  welcomed  the Hon. Guest. The Webinar was honored to have the presence of Honorable Chancellor sir, Dean Academics, Registrar and Deans from all departments as well HOD’s of all departments were also present with their faculties and students. The event started by Vandana Kaushik, Asstt. Prof.(Department of English) with thanking the audience for taking out their valuable time to be a part of the Webinar. Honorable Dean Academics Pof.(Dr.) Pankaj Kumar Mishra Introduce the Honorable Guest to the audiences by giving a brief Sketch of his experience and achievements.

Prof.(Dr.) K.K. Agrawal , Chairman, National Board of Accreditation explore the National Education Policy 2020. He also gave the key highlights on New Education Policy 2020.  He gave valuable insight of policy as it depends on multidisciplinary and a holistic education system.   The new policy seeks rectification of poor literacy and numeracy outcomes associated with primary schools, reduction in dropout levels in middle and secondary schools and adoption of the multi-disciplinary approach in the higher education system. Apart from this, the policy also focuses on early childhood care, restructuring curriculum and pedagogy; reforming assessments and exams, and investing in teacher training and broad-basing their appraisal.

The event concluded by praising words of Honorable Chacellor sir, he closed the Webinar with a vote of thanks to the honorable guest and  all audiences for extending their full support and cooperation for making the event a successful one. The Webinar ended with National Anthem.

Posted by: | Posted on: 3 weeks ago

कुलाधिपति डॉ पिचेश्वर गड्डे और माननीय कुलपति प्रो डॉ एआर दुबे के निरंतर प्रोत्साहन के साथ, 22 मई, 2021 को महिला सुरक्षा और लिंग संवेदीकरण के सामाजिक-कानूनी महत्व पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया था

कुलाधिपति डॉ पिचेश्वर गड्डे और माननीय कुलपति प्रो डॉ एआर दुबे के निरंतर प्रोत्साहन के साथ, 22 मई, 2021 को महिला सुरक्षा और लिंग संवेदीकरण के सामाजिक-कानूनी महत्व पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया था। विधि विद्यापीठ, लिंगया विद्यापीठ, फरीदाबाद के मार्गदर्शन में प्रो. (डॉ.) राधेश्याम प्रसाद, डीन, स्कूल ऑफ लॉ।

आयोजन के उद्देश्य:
इस आयोजन का उद्देश्य वर्तमान परिदृश्य में महिला सुरक्षा और लिंग संवेदीकरण के सामाजिक-कानूनी महत्व को समझना और इसके संभावित समाधान प्राप्त करना था।

वेबिनार के वक्ता के बारे में:
सलाह Advocate चित्रा सक्सेना नागपाल एक प्रख्यात शिक्षाविद हैं, जो वर्तमान में सहायक प्रोफेसर, स्कूल ऑफ लॉ, गीताम विश्वविद्यालय, विशाखापत्तनम के रूप में कार्यरत हैं, मुख्य वक्ता थीं। शिक्षा जगत में शामिल होने से पहले उनके पास मुकदमेबाजी का 12 साल का अनुभव भी है। उन्होंने लेडी श्रीराम कॉलेज फॉर विमेन, दिल्ली विश्वविद्यालय, एलएलबी से राजनीति विज्ञान में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। दिल्ली विश्वविद्यालय से डिग्री और एलएलएम जीजीएसआईपीयू, दिल्ली से। उन्होंने भारतीय विधि संस्थान, दिल्ली से एडीआर और कॉर्पोरेट कानून के क्षेत्र में पीजी डिप्लोमा भी प्राप्त किया।

विवरण: वेबिनार के दौरान अतिथि वक्ता ने उल्लेख किया कि हमारे समाज में लिंग भेदभाव कैसे होता है और बताया कि कैसे लिंग (SEX) लिंग (Gender) से अलग है। उन्होंने संविधान के तहत विभिन्न अपराधों के खिलाफ महिलाओं की सुरक्षा, विभिन्न दंड कानूनों, महिलाओं पर विशेष कानूनों, सूचना प्रौद्योगिकी कानून के संबंध में विधायिका के योगदान का उल्लेख किया। उन्होंने पूरी दुनिया में महिलाओं की सुरक्षा के उत्थान के लिए अंतर्राष्ट्रीय ढांचे और मानदंडों के बारे में भी चर्चा की। महिला विशिष्ट कानून जैसे दहेज निषेध अधिनियम, 1961 और घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम, 2005 आदि। पोस्को अधिनियम के तहत बच्चों को दिए गए विशेष संरक्षण पर भी चर्चा की गई। वेबिनार में महिला भेदभाव के संबंध में समाज के विभिन्न व्यावहारिक पहलुओं पर चर्चा की गई और इन समस्याओं के संभावित समाधान पर भी चर्चा की गई।

कार्यक्रम : वेबिनार का आयोजन गूगल मीट के जरिए किया गया। लिंक को विभिन्न संस्थानों के छात्रों और संकाय सदस्यों के बीच परिचालित किया गया था। वेबिनार में 65 प्रतिभागियों ने भाग लिया। शुरुआत में सहायक प्रोफेसर श्री ईश प्रीत सिंह ने अतिथियों और सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। तत्पश्चात प्रतिभागियों को माननीय कुलपति प्रो. (डॉ.) ए.आर. दुबे ने अतिथि वक्ता के समक्ष संबोधित किया और अपने शब्दों से आभासी सभा का ज्ञानवर्धन किया। अतिथि भाषण के बाद स्कूल ऑफ लॉ के डीन डॉ. राधेश्याम प्रसाद ने प्रतिभागियों को अपने ज्ञानवर्धक शब्दों से संबोधित किया। अंत में स्कूल ऑफ लॉ की सहायक प्रोफेसर सुश्री श्राबनी कर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
घटना के परिणाम: प्रतिभागी मुद्दे से संबंधित व्यावहारिक पहलुओं को समझने में सक्षम थे। उन्होंने लैंगिक भेदभाव के विभिन्न आयामों को भी समझा। प्रतिभागियों को महिलाओं और लिंग भेदभाव के खिलाफ अपराधों से संबंधित अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय ढांचे के बारे में भी जानकारी मिली। छात्रों और श्रोताओं द्वारा कई विचारोत्तेजक प्रश्न पूछे गए और संसाधन व्यक्ति द्वारा वाकपटुता से उत्तर दिए गए।

Posted by: | Posted on: 3 weeks ago

हयूमन लीगल ऐड एण्ड क्राईम कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन एनजीओ ने गरीबों को फल तथा मास्क वितरित किये

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव ) | हयूमन लीगल ऐड एण्ड क्राईम कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन एनजीओ के तत्वाधान में लॉकडाउन की स्थिति को देखते हुए आज संस्था के कार्यकर्ताओं ने नहरपार क्षेत्र के स्लम बस्तियों में जाकर लोगों को फल तथा खाने का सामान वितरित किया । संस्था की महासचिव राधिका बहल ने बताया कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के दौर में सभी व्यक्ति परेशान है। मगर लॉकडाउन की स्थिति में मजदूर वर्ग तथा स्लम बस्तियों के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में एनजीओ के कार्यकर्ताओं द्वारा आज गरीब वर्ग के लोगों को फल तथा बिमारी आदि से बचने के लिए नहाने का साबुन तथा मास्क, सैनीटाईजर आदि का वितरण किया गया। कोरोना की बिमारी से बचने के लिए इम्युनिटी पावर की गोलियां तथा भांप लेने के लिए स्टीमर भी वितरित किये गये। इस अवसर पर उनके साथ संस्था से अमित साहनी, पिंकी चोपड़ा, पूनम, हरप्रसाद चड्डा आदि कार्यकर्ताओं ने बढ़चढ़ कर भाग लिया

Posted by: | Posted on: 3 weeks ago

जिला जेल फरीदाबाद पर माननीय न्यायालय जिला एवं सत्र न्यायाधीश फरीदाबाद वाई.एस. राठौर के निर्देश पर एक वैक्सीनेशन कैम्प का आयोजन किया गया

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | जिला जेल फरीदाबाद पर माननीय न्यायालय जिला एवं सत्र न्यायाधीश फरीदाबाद वाई.एस. राठौर के निर्देश पर एक वैक्सीनेशन कैम्प का आयोजन किया गया जिसका उद्धाटन मंगलेश चैबे मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फरीदाबाद के द्वारा किया गया। उन्होंने जेल के सभी बन्दियों को जेल रेडियो के माध्यम से सम्बोन्धित किया ओर कहा कि कोविड वैक्सीन लगवाने से बन्दियों को न केवल कोरोना महामारी से बचाया जा सकेगा बल्कि यह सुरक्षित भी है। रणदीप सिंह पूनियां मुख्य चिकित्सा अधिकारी फरीदाबाद के द्वारा बन्दियों को वैक्सीन लगाने के लिये विशेष प्रबन्ध किये गये। उनके द्वारा न केवल चिकित्सा स्टाफ को जेल पर भेजा बल्कि कोविड-19 वैक्सीन भी भिजवाई है। मंगलेश चैबे मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फरीदाबाद ने बन्दियों को माननीय हाईपावर कमेटी हरियाणा के द्वारा दिनांक 11.05.2021 की मिटिंग में लिये गये फैसलों के बारे जागृत करते हुये सभी बन्दियों को विस्तार से बतलाया। माननीय न्यायाधीश द्वारा जेल के बन्दियों के हैल्थ व हाईजनिक को चैक किया व उनकी सराहना की। जेल अधीक्षक जयकिशन छिल्लर ने जेल रेडियो के माध्यम से सभी बन्दियों को सम्बोन्धित करते हुये बतलाया कि आज ये वैक्सीन कैम्प माननीय महानिदेशक कारागार हरियाणा शत्रूजीत सिंह कपूर आई.पी.एस के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फरीदाबाद व स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से आयोजित किया गया है। जेल के सभी बन्दियों को स्वैच्छिक आधार पर कोविड-19 वैक्सीन के टीके लगवाये जायेगें ताकि बन्दियों को कोविड-19 महामारी से बचाया जा सके। जेल प्रशासन द्वारा सभी बन्दियों में जागरूकता अभियान चलाकर जागरूक किया गया है। इसलिये सभी बंदी स्वेच्छिक रूप से जेल हस्पताल में आकर वैक्सीनेशन करवाने के लिये उत्साहित है।
माननीय न्यायाधीश द्वारा जिला जेल फरीदाबाद पर लोक अदालत का आयोजन भी किया गया तथा मौके पर ही लोक अदालत मंे छोटे-छोटे केसों में बन्द 8 बन्दियों को रिहा किया गया। इस अवसर पर जयकिशन छिल्लर अधीक्षक, जिला जेल फरीदाबाद, रामचन्द्र उप-अधीक्षक, अनिल कुमार उप-अधीक्षक, रोहण हुड्डा उप-अधीक्षक, डा0 मंयक पाराशर , डा0 वरूण तथा डा0 नवीन अग्रवाल तथा मेडिकल स्टाफ भी उपस्थित रहा।

Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

सनफ्लैग हस्पताल की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार – पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव ) | फरीदाबाद के अंदर सनफ्लैग हॉस्पिटल को सरकार के द्वारा पहले ही रिज्यूम किया जा चुका है जिसको अब कोविड सेंटर के रूप में चलाने के लिए फरीदाबाद की ही अग्रणी सामाजिक संस्था पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट आगे आई है ।पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट व फरीदाबाद के नामी सी0 बी0 एस0 ई0 स्कूल – दून भारती पब्लिक स्कूल के मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष डंगवाल ने कहा कि रिज्यूम का मतलब है कि हुड्डा से रियायती दरों पर जमीन लेने वाले अस्पताल संचालकों को नियमों का पूरा पालन करना होता है यदि नियमों का पालन नहीं किया जाता तो सरकार साइट को रिज्यूम कर सकती है | रिज्यूम होने के बाद उसके ऊपर मालिकाना हक सरकार का होता है। फरीदाबाद के अंदर पिछले कई सालों से शिक्षा, धार्मिक एवम सांस्कृतिक कार्यों में गैर सरकारी संगठन पूरन सिंह डंगवाल ट्रस्ट काम कर रहा है , जिसके संस्थापक मनीष डंगवाल ने कहा है कि यदि सरकार और फरीदाबाद प्रशासन सनफ्लैग हॉस्पिटल को पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट को कोविड सेंटर के रूप में चलाने की अनुमति देती है तो पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट इसको आगे बढ़कर बहुत बढ़िया तरीके से चलाने में सक्षम है। मनीष डंगवाल ने बताया की ऐसा लगता है कि अब तीसरी लहर भी आ सकती है इसलिए हमको पहले से ही तैयार रहना होगा। इसके प्रबंध के लिए हमें वयस्कों के साथ साथ विशेषत: बच्चों के अस्पताल पर ध्यान देना होगा | दशको से सामजिक कार्यों एवम स्कूल संचालन के अनुभव से छोटे बच्चों को संभाल पाने का अनुभव इस समय काफी काम आ सकता है | मनीष डंगवाल का कहना है की हमें आने वाली समस्याओं को भापते हुए आज ही कदम उठाना होगा | मनीष डंगवाल ने बताया कि ऐसे समय में जब देश कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी की अभूतपूर्व चुनौती का सामना कर रहा है तब पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट अपने सामाजिक उत्तरदायित्वों का निर्वाह करते हुआ सनफ्लैग हॉस्पिटल को इस माहामारी से निपटने के लिए एक बेहतर सेंटर बना सकते हैं उन्होने आगे कहा कि जल्द ही इस संबंध में जो भी जरूरी काम या कार्यवाही होगी पूरन सिंह डंगवाल मैमोरियल ट्रस्ट उसको पूरा कर देगी ।मनीष डंगवाल जो की अनेक शेक्षिक, धार्मिक, सांस्कृतिक एवम सामजिक संस्थाओं से जुड़े हुए हैं, उनका कहना है की इस विपत्ति के काल में सभी संस्थाओं को साथ मिलकर जो भी मदद संभव हो उसे आगे बढकर ज़रूर करना चाहिए |

Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

फरीदाबाद के मेट्रो अस्पताल में अतिरिक्त 100 बेड्स स्थापित

फरीदाबाद के मेट्रो अस्पताल में अतिरिक्त 100 बेड्स स्थापित

फरीदाबाद(विनोद वैष्णव )। फरीदाबाद के मेट्रो अस्पताल में अतिरिक्त 100 बेड्स का वीडियो कान्फ्रेंसिंग लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कोराना महामारी के दौरान डा. पुरषोत्तम लाल के नेतृतव में मैट्रो अस्पताल ने कोरोना मरीजों के लिए नये 100 बेडो की व्यवस्था की है महामारी के इस दौर में जो कि एक बहुत ही सरहनीय कदम है] मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस मौके पर डा. पुरषोत्तम लाल की सराहना करते हुए उन्हे बधाई दी । आम जन की अपेक्षाओं के अनुरूप सभी के सामुहिक प्रयासों से कोरोना के दुशप्रभाव को कम किया जा सका है। यह विचार परिवहन मंत्री] हरियाणा मूलचन्द शर्मा ने आज सैक्टर&16ए स्थित मैट्रो मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल के प्रांगण में दूसरी यूनिट में कोविड&19 से संक्रमित मरीजों के लिए शुरू हुई 100 बैडेड युनिट के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहे। इस क्रम में मैट्रो हार्ट मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल के प्रांगण में दूसरी यूनिट में कोविड&19 से संक्रमित मरीजों के लिए शुरू हुई 100 बैडेड युनिट भविष्य में स्वास्थय के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होने अपनी ओर से मैट्रो हार्ट मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल के चेयरमैन] पदम विभूषण एवं डा. बी-सी- राय नेशनल अवार्डी डा. पुरषोत्तम लाल] श्रीमती पूनम लाल एवं मेडिकल डायरेक्टर डा. नीरज जैन] ग्रुप&वाईस प्रेजिडेन्ट सुरेन्द्र चैधरी] मेडिकल सुप्रीटेन्डेन्ट एवं सी&ओ&ओ डा. मनजीन्द्र भट्टी] सहित मैट्रो परिवार के सभी सदस्यों को इस पुनित कार्य शुभ आरम्भ हेतू शुभकामनायें दीं और उम्मीद जतायी की स्वास्थय के क्षेत्र में भविष्य के द्रिष्टिगत जन आकांक्षाओं के अनूरूप यह युनिट अपने सभी उद्देश्यों को पूरा करेगी।

    जो करोना महामारी के दौरान जनहित की भावनाओं को ध्यान मे रख कर विभिन्न प्रकार की सेवा कर रहे है उन सभी लोगों को मान सम्मान के साथ प्रेरित व प्रोत्साहित करने मे कोई कसर नही छोड़ी जायेगी।

    मैट्रो हार्ट मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल के चेयरमैन] पदम विभूषण एवं डा. बी.सी. राय नेशनल अवार्डी डा. पुरषोत्तम लाल ने इस अवसर पर कहा कि शासन.प्रशासन से आज कोविड मरीजों के लिए शुरू की गई 100 बैडेड के युनिट के शुरू हो जाने से निश्चित तौर पर मैट्रो हार्ट मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल की सेवाओं में बढोत्तरी हुई है। उन्होने आशा व्यक्त की यह युनिट आम जन की आकांक्षाओं के अनुरूप अपनी ओर से बहतर प्रयास करते हुए अपने उद्देश्यों को पूरा करेगी। उन्होने कहा कि स्वास्थय सुविधाओं की बेहतरी में भविष्य में यथासम्भव यथाशक्ति जो बन पड़ेगा उसके लिए मैट्रो हार्ट मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल इसी प्रकार संकल्प के साथ अग्रसर रहेगा।

    डा. पुरषोत्तम लाल ने कहा की मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल के कुशल मार्गदर्शन में प्रदेश भर में करोना महामारी के समय में स्वास्थय सुविधाओं को समुचित विस्तार दिया जा रहा है] तथा मुख्यमंत्री खुद कोरोना की इस महामारी के दौर में जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं ताकि आम जन इन स्वास्थय सुविधाओं का समय रहते भरपूर लाभ दिया जा सके।

    मेट्रो हॉस्पिटल की डायरेक्टर श्रीमती पूनम लाल जी ने कहा कार्यरत सभी डॉ अनुभवी है अपने अनुभव से मरीजो की सेवा में जुड़े हैं अन्य अस्पतालो से गम्भीर अवस्था में आये मरीजों के लिए मेट्रो हॉस्पिटल संजीवनी साबित हो रहा है गंभीर अवस्था मे पहुँच चुके मरीजों के ठीक होने की दर अन्य अस्पतालो कि उपेक्षा यहाँ 90 फीसदी है।    

    मेडिकल डायरेक्टर डा. नीरज जैन ने कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में नित नए अनुसंधान और अत्याधुनिक सुविधाओं के लिए देश में अपनी अलग पहचान रखने वाले अस्पताल मल्टीस्पेशलिटी मेट्रो हार्ट इंस्टीट्यूट ने इस कोरोना काल में हजारों लोगों को जीवनदान दिया है। इस वैश्विक महामारी में मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल मेट्रो हार्ट इंस्टीट्यूट के चेयरमैन डॉक्टर पुरुषोत्तम लाल के मार्गदर्शन एवं दिशा निर्देशन में उनकी चिकित्सीय टीम ने सराहनीय कदमों के साथ फरीदाबाद जिले व आसपास के क्षेत्रों में गंभीर कोविड-19 मरीजों की जान बचाने का कार्य किया। इस संकट की घड़ी में डॉक्टर पुरुषोत्तम लाल ने स्वयं आगे खड़े रहकर हर जरूरतमंद मरीज को ना केवल बचाने का कार्य किया बल्कि उन्हें स्वस्थ करके घर भेजने का कार्य किया है।

    इस मौके पर मैट्रो अस्पताल के चीफ आपरेटिंग आफिसर डा. मंजिन्द्र भट्टी ने कहा तथाकथित कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनज़र मेट्रो अस्पताल का यह कदम दूदर्षता दिखाता है। कोविड के आज के दौर में मैट्रो अस्पताल कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए एक्मो की मषीन तथा अत्याधुनिक तकनीक से परिपूर्ण है। इस अवसर पर विधायक नरेन्द्र गुप्ता] सीमा त्रिखा] नीरज शर्मा] जिला उपायुक्त यशपाल यादव] पुलिस आयुक्त ओ-पी सिंह] आई-एम-ए प्रेसिडेन्ट डा. पुनीता हसीजा ने भी अपनी ओर से शहर वासियों को कोराना महामारी की हिदायतों को ध्यान में रखते हुए सजक व सुरक्षित रहने की अपील की और आशा व्यक्त की सभी के सांझा प्रयासों से कोरोना महामारी से शहर को मुक्त किया जा सकेगा।
Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

सीएम के लिए किसानों पर लाठीचार्ज, शर्मनाक : रवि सिंह चौटाला


-किसानों पर पथराव, लाठीचार्ज व आसू गैस के गोले छोडऩे की इनेलो के वरिष्ठ नेता रवि सिंह चौटाला ने की कड़े शब्दों में निंदा-
बोले : नशे में चूर होकर किसानों, जनता की आवाज को दबा रही है भाजपा-जजपा सरकार
इनेलो के वरिष्ठ नेता रवि सिंह चौटाला ने रविवार को हिसार में किसानों पर हुए पथराव, लाठीचार्ज व आसू गैस के गोले छोडऩे की कड़े शब्दों में निंदा की है। रवि सिंह चौटाला ने कहा कि एक षड्यंत्र के तहत फर्जी उद्घाटन कार्यक्रम रच कर सीएम और डिप्टी सीएम किसानों पर लाठीचार्ज करवा रहें हैं ताकि लोकतंत्र में किसानों की आवाज़ को सरकार लठतंत्र से दबा सके। उन्होंने कहा हिसार में सीएम विरोध के बावजूद पहुचे और उन्हीं के इशारे पर किसानों पर लाठीचार्ज हुआ, जो निंदनीय व शर्मनाक है।
रवि सिंह चौटाला ने कहा कि हरियाणा सरकार लंबे समय से संघर्षरत किसानों के आंदोलन को कूचलना चाह रही है। परन्तु सरकार को ये नहीं भूलना चाहिए कि उनके ये मंसूबे कभी पूरे नहीं होने वाले। इनेलो के वरिष्ठ नेता रवि सिंह चौटाला ने कहा कि सत्ता के नशे में चूर यह भाजपा-जजपा सरकार किसानों व जनता की आवाज को दबा रही है। किसानों के लहू की एक-एक बूंद का हिसाब इस तानाशाह सरकार को देना होगा। उन्होंने कहा कि जहां सरकार सभी को लॉकडाउन की दुहाई देकर घरों में रहने की बात कह रही है, वहीं सरकार व उसके नुमाइंदे अपनी राजनीति चमकाने के लिए भीड़ इकट्ठा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड हस्पताल खोलना अच्छी बात है लेकिन मुख्यमंत्री इसका उद्घाटन वर्चुअल भी कर सकते थे। रवि सिंह चौटाला ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री सिर्फ किसानों को भड़काने के लिए हिसार आए ताकि किसानों को उकसाया जा सके।
रवि सिंह चौटाला ने कहा कि पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री व उनके कैबिनेट सहयोगियों का विरोध हो रहा है और उन्हें तयक्रमों में लुकछिप कर जाना पड़ रहा है। यही हाल आज हिसार में भी हुआ जहां मुख्यमंत्री को अपने तय कार्यक्रम से दो-ढ़ाई घंटे पहले भागना पड़ा। इससे शर्म की बात और क्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है।
रवि सिंह चौटाला ने कहा कि जो किसान लाठीचार्ज के बाद हिरासत में लिए गए हैं उन्हें तुरंत बिना किसी शर्त के सरकार छोडऩे का काम करे और मुख्यमंत्री को केन्द्र सरकार पर दबाव डालकर तीनों काले कृषि कानूनों को रद्द करवाना चाहिए तथा धरनारत किसानों का धरना समाप्त करवाए।

Posted by: | Posted on: 4 weeks ago

फरीदाबाद में ब्लैक फंगस ने दी दस्तक, एसएसबी अस्पताल ने किया सफल आप्रेशन


68 वर्षीय महिला को दिया नया जीवन, डा. एस.एस. बंसल ने की डाक्टरों की टीम की हौंसला अफजाई
फरीदाबाद। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी ब्लैक फंगस ने दस्तक दे दी है। हालांकि यहां पीडि़त 68 वर्षीय महिला का एसएसबी अस्पताल के डाक्टरों ने सफल आप्रेशन करके नई जिंदगी दी है। एसएसबी अस्पताल के वरिष्ठ ईएनटी स्पेशिलिस्ट डॉ प्रशांत भारद्वाज ने बताया महिला 11 मई को फरीदाबाद के एसएसबी अस्पताल में ईएनटी ओपीडी में आई थी, महिला मरीज पिछले 2 दिनों से चेहरे के दाहिने हिस्से में सूजन, सुन्नता और दर्द से परेशान थी। उसकी नाक से खून का स्राव भी हो रहा था और दाहिनी आंख की रोशनी भी कम हो रही थी। महिला की 26 अप्रैल, 2021 को आरटी-पीसीआर की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी और वह 15 दिनों से घर पर स्टेरॉयड की हाई डोज ले रही थी। डा. भारद्वाज ने बताया कि महिला की जांच करने पर नाक के दोनों हिस्से मे काले रंग के बहुत सारे काली फंगल के टिस्सूस थे, बाएं नथुने की तुलना में दाहिनी नथुने में ज़्यादा टिस्सूस थे। महिला के चेहरे पर सुन्नपन भी मौजूद था और उनका ब्लड शुगर भी बढ़ा हुआ था। उसकी एमआरआई, पीएनएस और ओरबिट रिपोर्ट ब्लैक फंगल संक्रमण का संकेत दे रही थी। उनकी आंखों की जांच भी की गयी जिसमें दाहिनी आंख की दृष्टि लगभग खत्म हो गई थी। डा. प्रशांत भारद्वाज ने बताया कि ब्लैक फंगस संक्रमण को म्यूकरमायकोसिस कहते हैं। म्यूकरमायकोसिस एक बेहद दुर्लभ संक्रमण है, यह इन्फेक्शन मरीज़ की नाक में दाहिने तरफ मालिरी साईनस व इंफ्राटेम्परोल फोस्सा तक फैल चुका था। ब्लैक फंगस कोविड-19 संक्रमण और उसमे दी जानी वाली स्टेरॉइड्स की वजह से होता है। उन्होंने बताया कि सभी जांचों और फिटनेस क्लेरेन्स के बाद उन्हें 14 मई को सर्जरी के लिए ले जाया गया। सर्जरी के दौरान नाक की दोनों गुहाओं से ब्लैक फंगस और निकरोटिक डैड टिस्ससू को हटा दिया गया था। ज्यादा नुक्सान की वजह से दाहिने मैक्सिलरी साइनस की हड्डी को हटा दिया गया था। ऑपरेशन के बाद मरीज़ की सेहत की लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है और वह पिछले 3 दिनों से एंटीफंगल दवाइयां (एम्फोटेरिसिन बी) पर है जो सर्जरी से काफी पहले शुरू किया गया था। मरीज़ की हालत अब स्थिर है। एसएसबी अस्पताल के निदेशक एवं वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डा. एस.एस. बंसल ने ब्लैक फंगल के सफल आप्रेशन पर अस्पताल के डाक्टरों व नर्सिंग स्टाफ को बधाई देते हुए उनकी हौंसला अफजाई की। डा. बंसल ने कहा कि उनका प्रयास है कि कोरोना महामारी के इस दौर में लोगों को बेहतर चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाकर उनके जीवन को बचाया जाए और इसी उद्देश्य को लेकर वह इस दिशा में कार्य कर रहे है। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही क्रिटिकल मामला था, जिसे डाक्टरों की टीम ने सूझबूझ से समझा और महिला को नया जीवन दिया।
वहीं एसएसबी अस्पताल के वरिष्ठ ईएनटी स्पेशिलिस्ट डॉ प्रशांत भारद्वाज ने बताया की म्यूकरमायकोसिस एक दुर्लभ संक्रमण है जो आमतौर पर मिट्टी, पौधों, सड़े हुए फल एवं सब्जय़िों में पाया जाता है। ये फंगस दिमाग़, फेफड़ों को प्रभावित करती है तथा डायबिटीज़ के मरीज़ों या उन मरीज़ों को प्रभावित करती है जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। भारत दुनिया का ऐसा सबसे बढ़ा देश है, जहां कोविड के बाद मरीज़ ब्लैक फंगल जैसे बीमारी का शिकार हो रहे हैं । यह फंगल संक्रमण आमतौर पर मधुमेह, स्टेरॉयड पर निर्भर, अनियंत्रित शुगर और इम्यूनोकम्प्रोमाइज्ड रोगियों में देखा जा रहा है। सभी मरीज़ जो कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके है और खासकर उन्हें जिन्हे मधुमेह हो और उपचार के दौरान स्टेरॉयड दिए गए हो उन्हें ईएनटी स्पेशलिस्ट को जरूर दिखाना चाहिए!

Posted by: | Posted on: 1 month ago

पूर्व चेयरपर्सन हरियाणा सरकार डॉअनीता शर्मा को जे.जे.पी हरियाणा प्रदेश सचिव नियुक्त किया गया

पूर्व चेयरपर्सन हरियाणा सरकार डॉअनीता शर्मा को जे.जे.पी हरियाणा प्रदेश सचिव नियुक्त किया गया

फरीदाबाद :जननायक जनता पार्टी, डॉ अनीता शर्मा को हरियाणा प्रदेश की सचिव नियुक्त किया है। डॉ. अनीता शर्मा पूर्व में हरियाणा सरकार में चेयरपर्सन रही हैं। आपको बता दे कि डॉ अनीता शर्मा जी ने” हरी चुनरी चौपाल” के तहत मैडम नयना चौटाला जी (विधायिका) के नेतृत्व में ग्रामीण व अन्य महिलाओं के उत्थान के लिए अपना निरंतर सहयोग व सेवाएं देती आ रही हैऔर भविष्य में भी महिलाओं को हर तरह से जागृत व सशक्त करने का बीड़ा उठा रखा है, हर कदम पर वह सार्थक प्रयास कर रही है और अपना सम्पूर्ण योगदान संगठन को नई बुलंदियों तक ले जाने के लिए सदैव तत्पर है । डॉ. अनीता शर्मा जी ने अपनी नियुक्ति पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अजय सिंह चौटाला,विधायक नैना चौटाला , हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला,हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह व अन्य शीर्ष नेतृत्व का हृदय से आभार व्यक्त किया पार्टी के नेतृत्व ने जो भरोसा करते हुए मुझे जिम्मेदारी दी हैं। मैं उसकी तन्मयता से पालना करूंगी और पूर्णतःखरा उतरते हुए पार्टी की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का काम करूंगी

Posted by: | Posted on: 1 month ago

रेडिसन होटल फरीदाबाद में अभी तक #Radissoncaresके तहत एक और पहल ने हाल ही में COVID -19 से प्रभावित लोगों के लिए निशुल्क भोजन थालियों को वितरित करने का नेक कार्य शुरू किया है

फरीदाबाद (विनोद वैष्णव ) | कोरोना माहवारी से एक साथ संकट से लड़ने के लिए #Radissoncares, रेडिसन होटल फरीदाबाद में अभी तक #Radissoncaresके तहत एक और पहल ने हाल ही में COVID -19 से प्रभावित लोगों के लिए मानार्थ भोजन थालियों को वितरित करने का नेक कार्य शुरू किया है। इस सरलता के तहत, होटल अधिक से अधिक जरूरतमंद लोगों तक पहुंच सके।
रैडिसन ब्लू फरीदाबाद एंड क्लस्टर जीएम, दिल्ली-एनसीआर, रेडिसन होटल ग्रुप के महाप्रबंधक हरप्रीत वोहरा ने अपने विचारों को साझा करते हुए कहा, “इन अभूतपूर्व समय में, करुणा और दयालुता की चिंगारी हमेशा प्रज्वलित रहें। हम COVID -19 से प्रभावित परिवारों की मदद करने के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि हमारे लिए हर जीवन मायने रखता है। होटल स्वच्छता और स्वच्छता के उच्चतम मानकों को सुनिश्चित कर रहा है और एसजीएस, दुनिया की अग्रणी निरीक्षण और प्रमाणन कंपनी के अनुपालन में है।
यह होटल फरीदाबाद शहर में जरूरत से ज्यादा 3000 लोगों तक पहुंच चुका है। रैडिसन ब्लू फरीदाबाद का यह निस्वार्थ कार्य टीम द्वारा एक बड़ी पहल है और होटल इस उद्देश्य के लिए प्रतिबद्ध है और समाज की सेवा करना जारी रखेगा।